41 रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्य गजब हैं Psychological facts in Hindi

Psychological facts in hindi – मनोवैज्ञानिक तथ्य :

हम मनुष्य एक रहस्यमयी प्राणी हैं. इस टॉपिक पर रिसर्च करके मनोवैज्ञानिकों (Psychologists) ने कई रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्य पता किये हैं। हम आपको ऐसी मजेदार बातें बतायेंगे जिससे आप दूसरों के बारे में और खुद के बारे में भी ऐसी बातें जानेंगे कि विश्वास नही होगा। 

1) अगर किसी पुरुष को किसी से दुख मिला हो तो वे उसे माफ भले न करें लेकिन भूल जाते हैं। इसके उलट अगर औरतों को किसी से तकलीफ हुई हो तो वे उसे माफ तो कर देती हैं लेकिन भूलती नहीं।

2) 1 दिन के 70% टाइम हमारा दिमाग या तो बीती हुई बातों, घटनाओं का दिमाग में Replay कर रहा होता है या भविष्य में होने वाली किसी घटना के सफलता की आशा कर रहा होता है.

3) अपना दुख और दूसरे का सुख हमेशा ज्यादा लगता है। 

4) कोई आदमी अपने परिवार से बहुत अच्छा व्यवहार करता है तो इससे उसके अच्छे होने की गारंटी नहीं माना जा सकता। ये तो उसका कर्तव्य है। अगर वो अनजान आदमी या गरीब से सही व्यवहार करे तो ही उसे अच्छा इंसान मान सकते हैं। 

5) ऐसी जगह रहना जहां से पानी का कोई स्रोत नदी, तालाब, झील, झरना, समुद्र आदि दिखता हो, आपको ज्यादा शांत, खुश और क्रिएटिव बनाता है। 

6) शरीर की हर कोशिका पर आपके विचारो का प्रभाव पड़ता है. Negative सोच से रोगप्रतिरोधक क्षमता (Immunity) घट जाती है और आप बीमार भी हो जाते हैं.

7) 90% लोग मेसेज करते समय ऐसी बाते लिख डालते हैं जो सामने से कभी नहीं कह सकते.

8) ज्यादातर बुद्धिमान व्यक्ति अपने को कम आंकते हैं मगर अक्सर मूर्ख, अज्ञानी लोग अपने आप को Perfect समझते हैं.

9) स्ट्रेस के ज्यादातर मरीज 18 से 33 साल के बीच में होते हैं. 33 के बाद Stress Level कम होने लगता है क्योंकि आप बहुत सी चीजों के शुरुआत-अंत के बारे में समझने लगते हैं। 

10) जिन लोगों में आत्मसम्मान (Self Confidence) कम होता है वो अक्सर दूसरों की बहुत कमियां निकाला करते हैं.

11) आजकल के समय में हाईस्कूल के बच्चों में Stress का लेवल 1950 के दशक में मानसिक रोगियों के बराबर है.

12) ख़ुशी के आंसू पहले दायीं आँख से आते हैं और दुःख दर्द के आंसू पहले बायीं आँख से निकलना शुरू होता है.

साइकोलाजिकल फैक्ट – Manovaigyanik Tathya :

13) जरुरत से ज्यादा सोने वालों को और ज्यादा सोने का मन करता है.

Manovaigyanik Tathya

Know Psychological facts about life

14) जब आप कुंवारे होते हैं तो आपको शादीशुदा लोग ज्यादा खुश नज़र आते हैं और शादी के बाद आपको कुंवारे ज्यादा प्रसन्न नज़र आते हैं.

15) 80% लोग अपने जीवन की Negative चीजों से दूर भागने के लिए Music सुनते हैं.

16) जो लोग व्यंग समझने में तेज होते हैं वो अक्सर दूसरों का दिमाग पढने में भी माहिर होते हैं.

17) किसी बेमतलब के सवाल का जवाब व्यंगतापूर्वक तुरंत देना स्वस्थ दिमाग का एक लक्षण है.

18) खुद पर पैसा खर्च करने के बजाय दूसरो पर पैसा खर्च करने से आप ज्यादा अच्छा महसूस करते हैं.

19) सूर्य की रौशनी में ज्यादा समय बिताने वालों को Stress, Depression कम होता है.

20) हममें से कुछ लोग बहुत खुश होने से डरते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि कुछ बुरा हो जायेगा.

21) झूठ बोलने के (Expert) महारथी लोग दूसरों का झूठ पकड़ने में भी तेज होते हैं.

पढ़ें> शारीरिक आकर्षण के बारे में 20 अनोखी रोचक बाते

22) थके होने पर लोग ज्यादा ईमानदारी से जवाब देते हैं.

23) व्यस्त लोग ज्यादा प्रसन्न होते हैं क्योंकि ये उन्हें जीवन के नकारात्मक पहलुओं (Negative aspects) के बारे में सोचने का टाइम नहीं देता.

24) अगर आप ठीक से नहीं सोये हैं तो खुद को ऐसा विश्वास दिलाएं कि आपने अच्छी नींद ली है. कुछ देर बाद आप पाएंगे कि ठीक से न सो पाने के असर कम हो गए हैं.

25) Psychiatrist Kübler-Ross model के अनुसार शोक (Grief) की 5 अवस्था होती है, मान लें आपको कोई गम्भीर बीमारी हो गयी है तो इंसान कैसे सोचता है –

  • इंकार : मैं तो ठीक हूँ, ये मुझे नहीं हो सकता !
  • गुस्सा : मुझे ही क्यों हुआ, ये सही नहीं है. ये मेरी गलती नहीं है.
  • परिस्थिति से मोलतोल : कुछ और साल जीने के लिए मैं कुछ भी करूँगा. मैं अपनी सारी कमाई लगा दूंगा अगर कुछ और साल जिन्दा रह सकूं.
  • डिप्रेशन : मैं बहुत दुखी हूँ. जीने का क्या फायदा. मैं तो मरने वाला हूँ अब कुछ नहीं हो सकता.
  • स्वीकार करना : कोई नहीं, जो होना था हो गया. लड़ नहीं सकता तो सामना के लिए तैयार हूँ.

26) पैसा काफी हद तक आपके जीवन में खुशियाँ ला सकता है. लेकिन रिसर्च बतातें हैं कि 48 लाख सालाना से ज्यादा पैसा पाने के बाद फिर पैसा आपकी खुशियों में कुछ खास वृद्धि नहीं करता.

27) भविष्य में होने वाली घटनाओं के बारे में हम असलियत से हटकर खूब बढ़ा-चढ़ाकर कल्पना करते हैं। आनेवाला दुख या सुख दोनों ही हमें ज्यादा लगता है लेकिन होने के बाद Reality अलग होती है। 

28) एक लड़की के रोने के पीछे कोई 1 बात नहीं होती बल्कि कई सारी भावनाओं और गुस्से का उबाल होता है जिसे वो काफी समय से दिल में दबाती आ रही होती है। 

29) क्रिएटिव लोग किसी चीज पर देर तक ध्यान नहीं लगा पाते और उनका मन भटक जाता है। ऐसे रचनात्मक लोग अक्सर खुद से बातें किया करते हैं। 

30) जो Couple अपने रिश्ते से खुश नहीं होते, वे Single लोगों से ज्यादा अकेलापन और उदासी महसूस करते हैं। 

पढ़ें> क्या खास हैं इन लोगों में कि एचआईवी असर नहीं करता

31) सोने से पहले जिस आखिरी व्यक्ति का ख्याल आपके मन में आता है वो इंसान या तो आपकी ख़ुशी या दुःख का कारण होता है.

32) ज्यादातर लोग जब आपको अपने दुख या कष्ट बताते हैं तो वे आपसे सलाह नहीं बल्कि सहानुभूति चाहते है। 

33) किसी के पैसे खर्च करने से ढंग से आप जान सकते हैं ये रईस है या नया-नया अमीर बना है। रईस आदमी ऐसे चीज में पैसा लगाता है जिससे पैसा बढ़े मगर गरीब या नया अमीर खुद को अमीर दिखाने में खर्चा करता है। 

34) अगर आप अपने लक्ष्य (Aim) सबको बताते फिरते है तो इस बात की कम सम्भावना है कि आप सफल हो पायें. मनोवैज्ञानिक कहते हैं कि ऐसा करने से आपके अंदर वो टारगेट पूरा करने का Motivation कम हो जाता है.

35) फायदे की तुलना में नुक्सान का प्रभाव ज्यादा और देर तक होता है, जैसे 100 रुपये का फायदा हो तो उतनी देर तक खुशी नहीं होगी जितना 50 रुपये के नुक्सान पर बुरा लगता है। 

36) किसी चीज को करते समय हमें जितनी खुशी होती है उससे ज्यादा खुशी उस घटना को याद करते समय होती है। 

37) अगर आप किसी से Hate करने लगते हैं तो उसकी सही बात या सही सलाह भी आपको बुरी लगती है। 

38) अगर कोई नियम या अनुशासन हमें बहुत सख्त लगता है तो उसे तोड़ने की इच्छा ज्यादा और बार-बार होने लगती है।

39) लड़कियाँ जिसे मन ही मन बहुत पसंद करती हैं उसके सामने होने पर ज्यादा देर तक आँखें नहीं मिला पाती। 

40) जो लोग जरूरत से ज्यादा सोते हैं वो ये मानते हैं कि उन्हे उससे भी ज्यादा सोने की जरूरत है। 

41) कितना भी याद कर लो, ये याद नहीं आएगा कि नींद में देखा हुआ कोई सपना कैसे शुरू हुआ था। सपने की घटनायें तो बस एकदम ही शुरू हो जाती हैं।  

पढ़ें> 10 प्रसिद्ध लोग जिन्हे सफलता फटाफट नही मिली

Psychological Facts in hindi पर ये रोचक जानकारी अपने दोस्तों के लिए व्हाट्सप्प, फ़ेसबुक पर शेयर जरूर करें जिससे अन्य लोग भी ये जानकारी पढ़ सकें। 

यह भी पढ़ें :

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.