युद्ध की 5 रोचक कहानियाँ | Ladai ki kahani

आइए पढ़ते हैं रोचक लड़ाई की कहानियाँ जब युद्ध में ताकत नहीं दिमाग ने कमाल कर दिया। ये रोचक लड़ाई की कहानियाँ ऐसी हैं कि यकीन नहीं होता ये सच भी हैं। कई बार युद्ध सिर्फ बहादुरी ही नहीं, चालाकी और सूझबूझ से भी जीते गए। लड़ाई की 5 रोचक कहानी जब भ्रम और छल विद्या से कई बड़े उलट फेर हुए हैं।

लड़ाई की अनोखी कहानियाँ – Rochak story in hindi 

दुनिया के इतिहास में ऐसा कई बार ऐसा हुआ कि बड़े दुश्मन को हराने और विरोधी सेना पर मानसिक दबाव बनाने के लिए गजब-गजब तरीके अपनाए गए। इन उपायों से नकली ने असली का धोखा पैदा किया और युद्ध का पासा ही पलट गया। आज भी दुनिया भर की सेनाएं इसी तरह मॉडर्न टेक्नॉलजी के प्रयोग से अपने शत्रु को भ्रमित करती हैं। 

1) जापान और अमेरिका की लड़ाई – Japan vs USA battle story in hindi

2nd World War के समय लगभग सभी दलों ने जमकर धोखाधड़ी, भ्रम और चालाकी का सहारा लिया था। जापानी सेना ने खेतों में, मैदानों में बांस के बने नकली बमवर्षक विमान के मॉडल खड़े किये, उन्हें असली घास फूस आदि से थोड़ा ढंक दिया।

ऊपर उड़ते अमेरिकी फाइटर प्लेन जब ऊंचाई से इसे देखते तो उन्हे लगता कि ये जापान का कोई ख़ुफ़िया सैन्य अड्डा है और वो बम बरसा के खुश हो जाते। 

विश्व युद्ध की कहानी

एक जगह तो जापानियों से खाली एयर फील्ड की जमीन पर अमेरिकी B-29 विमान का बड़ा सा चित्र पेंट कर दिया, जिसके इंजन में आग लगी हो। अन्य अमेरिकी बमवर्षकों को लगता उनके किसी विमान के साथ कोई दुर्घटना हुई है, वो छानबीन के लिए नीची उड़ान भरते और जापानी टैंक और तोपों का शिकार बन जाते। 

2) अमेरिका का जर्मनी के खिलाफ – America vs Germany battle story in hindi 

इस मामले में America भी भला कैसे पीछे रहता। अमेरिकी सेना के 23rd Headquarters Special Troops को यह जिम्मेदारी मिली कि ऐसा छलावरण पैदा किया जाये कि जर्मन सेना को लगे कि अमेरिका के सहायक अन्य देशों की सेनायें समय से पहले ही भारी गोला बारूद और साजोसामान के साथ पहुँच चुकी हैं। 

23rd Troops ने हवा से फूलने वाले रबर के नकली हवाई जहाज, नकली टैंक, आर्मी ट्रक के मॉडल खड़ा कर दिए। फिर उन्होंने Fake रेडियो ट्रांसमिशन और दूर दूर तक लगे स्पीकर्स पर तोपों के गडगडाहट, सैनिकों के शोर की रिकॉर्डिंग बजाकर Ghost Army का भ्रम पैदा कर दिया। 

world war story in hindi

पढ़ें> रिचर्ड फ्रांसिस बर्टन की 5 गजब यात्राओं के किस्से

3) भारतीय आर्मी की सूझबूझ की कहानी – Indian Army war story in hindi 

इंडियन आर्मी ने भी समय-समय पर चालाकी और होशियारी से काम लिया। सन 1971 की लड़ाई में कराची पर बमवर्षा करते हुए भारतीय नेवी मिसाइल बोट्स आपस में रशियन भाषा में संवाद कर रहे थे जिसके ट्रांसमिशन सुनकर पाकिस्तानी सेना चक्कर में पड़ गयी। 

पाकिस्तानी आर्मी को लगता यह सिग्नल सुदूर अरब सागर में रशियन नेवी का अमेरिकी सेना के खिलाफ रणनीति की बातें, प्लान आदि हैं। इसके अलावा इंडियन आर्मी ने जगह जगह पर दक्षिण भारतीय रेडियो ट्रांसमिशन स्टाफ की पोस्टिंग की। इन साउथ इंडियन भाषाओँ में बातचीत के सिग्नल पाकिस्तानी सेना के पल्ले ही नहीं पड़ते थे। 

yuddh ki kahani

पढ़ें> महान भारतीय आर्मी जनरल सैम मानेकशॉ की 5 जबर्दस्त कहानी

4) ब्रिटिश आर्मी का नकली Starfish शहर – 

2nd World War के दौरान British Army ने जर्मन लड़ाकू विमानों से अपने शहरों को बचाने के लिए भ्रम विद्या का सहारा लिया. ब्रिटिश आर्मी के इस प्रोजेक्ट का नाम Starfish था। इस प्रोजेक्ट के तहत South City Film Studios में नकली शहर बनाए। हवाई जहाज, टैंक वगैरह के कार्डबोर्ड, कैनवास, लकड़ी आदि सामान से बने मॉडल तैयार किये जाने लगे। 

इस नकली मॉडल का प्रयोग असली स्थान से दूर किसी वीराने, खेत में नकली शहर और सैनिक हवाई अड्डे का भ्रम पैदा करने के लिए किया जाता था। 

British Army Starfish fires

लोगों को एक टीम तैयार की गयी जोकि युद्ध के दौरान इन मॉडल में आग लगा दिया करते, जिससे जर्मन बॉम्बर विमानों को लगे कि वहाँ पर पहले से ही युद्ध चल रहा है। कई जगह नकली ट्रेन के मॉडल खड़े कर उनमे बिजली के बल्ब जला दिए जाते।

किसी तालाब के ऊपर लाइट लैंप लगा कर उससे परावर्तित रौशनी से नदी का भ्रम पैदा किया जाता। ब्रिटिश आर्मी का अनुमान है, इस प्रयोग से हजारों-लाखों निर्दोष निवासियों और आर्मी की जान बचाई गयी। 

पढ़ें> खजाने की सच्ची कहानी जो अद्भुत, अनोखी पर सच्ची है

5) भारतीय इतिहास में गजब युद्ध रणनीति की कहानी – Indian War story in hindi 

भारत के इतिहास में भी कई बार ऐसी घटनाओं का जिक्र है। शिवाजी ने शाइस्ताखान के खिलाफ लड़ाई में रात के समय बैलों और साड़ों की सींगो में मशालें बांधकर छोड़ दिया था, जिससे भारी सेना का भ्रम पैदा किया। 

बीजापुर और क़ुतुब शाही की लड़ाई में मराठे छोटे छोटे ग्रुप में पहाड़ों में अलग अलग तरफ से आक्रमण करते थे, जिससे बड़ी सेना का आभास हो। मेवाड़ के शासक तो और आगे ही आगे थे।

युद्ध की कहानी
अनोखी लड़ाई की कहानी

वो अपने घोड़ों पर छोटे हाथियों की सी सूंड और छद्मावरण पहना दिया करते थे, जिससे युद्ध में विरोधी सेना के घोड़े उन्हें छोटे हाथी समझ कर डरकर बिदक जाया करते थे। महाराणा प्रताप ने इस युद्धनीति (War Strategy) का प्रयोग प्रसिद्ध हल्दीघाटी के युद्ध में भी किया था। 

पढ़ें> सारागढ़ी का युद्ध जब 21 सिख 10000 पठानों से लड़े

तो बताइए आपको ये रोचक युद्ध की कहानी कैसी लगी। अगर आपको लड़ाई की कहानियाँ पसंद आयीं तो इस लेख को दोस्त, परिचितों के लिए व्हाट्सप्प, फ़ेसबुक पर जरूर शेयर करें जिससे कई लोग इसे पढ़ सकें। 

यह भी पढ़ें >

नाथूसिंह राठौर ने क्या पूछा कि नेहरु जी की बोलती बंद हो गयी

पुनर्जन्म की सच्ची कहानी – अच्छे कर्मों का हिसाब होता है

शुक्राचार्य की बेटी देवयानी की रोचक प्रेम कहानी

आग में जलते हुए संत की अनोखी कहानी क्या थी

नील क्रांति क्यों हुई और ये सफल कैसे हुई

ये लेख दोस्तों को Share करे

शब्दबीज संपादक पिछले 5 वर्षों से हिन्दी में विभिन्न विषयों पर अच्छे लेखों का प्रकाशन कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि सही जानकारी, अनुसंधान और गुणवत्ता पूर्ण लेख से हमारे पाठकों का ज्ञानवर्धन हो।

Leave a Comment