एप कैसे बनाए करोड़ो कमायें | How to make Apps in hindi

इस लेख में जानिए कि एप्प कैसे बनाए पर पहले ऐसे Mobile Apps के बारे में जानें जोकि अच्छी खासी कमाई कर रहे हैं। साथ ही Apps बनाने का तरीका और एप्प से कमाने के तरीके के बारे में भी जानेंगे। हम बताएंगे कि व्हाट्सप्प जैसे फ्री एप्प कैसे पैसे कमाते हैं और एप्प से कितनी कमाई की जा सकती है। 

High Earning apps in hindi – मोटी कमाई करने वाले एप्प की कंपनी

समय और मेहनत की बचत के साथ ही मनोरंजन  करने वाले ये एप्स न सिर्फ हमारे लिए काम आसान करते हैं साथ ही इन्हें बनाने वाले भी अच्छी कमाई करते हैं। एप्प एक तरह का सॉफ्टवेयर होते हैं जिसे mobile में install करके न्यूज पढ़ने, गेम खेलने, सोशल मीडिया, शॉपिंग, मैसेज भेजने, फोटोग्राफी आदि जैसे ढेरों काम किए जा सकते हैं।

दुनिया के टॉप मोबाईल ऐप जैसे व्हाट्सप्प को हर रोज दुनिया भर में करोड़ों लोग इस्तेमाल करते हैं। इन एप्प को रोजाना दसों लाख नए लोग अपने मोबाईल में डाउनलोड भी करते हैं। बहुत सी वेबसाईट को ब्राउजर में खोलने की बजाय उसका App यूज करना ज्यादा आसान होता है, जैसे फ़ेसबुक वेबसाईट की जगह Facebook app प्रयोग करना आसान है।

हम आपको 3 सफल और कमाऊ ऐप के बारे में बतायेंगे और यह भी कि किस प्रकार आप भी एप्स बना सकते हैं। 

1) Candy Crush Saga success story in hindi – कैंडी क्रश सागा एप्प की कमाई 

क्या आप यकीन करेंगे कि दुनिया भर में लोकप्रिय पज़ल गेम कैंडी क्रश को 5.9 बिलियन डॉलर (44, 250 करोड़ रुपए) में बेचा गया था। 23 फरवरी 2016 को कैंडी क्रश सागा गेम बनाने वाली लंदन की कंपनी King Digital Entertainment PLC  ने इसे अमेरिकन कंपनी Activision Blizzard को 5.9 बिलियन डॉलर में बेचा था। 

– इस एप्प की इतनी भारी कीमत अदा करने की वजह ? आंकड़ों पर गौर करे तो पता चला है कि कैंडी क्रश सागा गेम उस समय हर रोज $4.7 Million Dollar (35 करोड़ रुपये+) की कमाई कर रहा था और आज भी ये गेम पज़ल गेम की केटेगरी में Top App है। 

मुफ्त में डाउनलोड होने वाला यह गेम खेल के दौरान किसी कठिन लेवल को पार करने या Game boost करने के लिए कुछ in-app purchase के लिए 1$-2$ डॉलर लेता है। अनुमान है कि मात्र 2-5% App users ही in-app purchase करते हैं पर एक ऐसा गेम जिसे हर रोज़ 9 करोड़ से ज्यादा लोग खेलते है और 1 करोड़ से अधिक नए लोग डाउनलोड करते हैं, इतनी कमाई करे तो कोई आश्चर्य की बात क्या। 

Candy crush daily earning
कैंडी क्रश सागा

2) Dailyhunt news app success story – डेलीहंट न्यू एप्प की लोकप्रियता 

एक ऐसा app जिसने 3 साल में सफलता के झंडे गाड़ दिए वो है Dailyhunt. शुद्ध रूप से भारतीय ये एप्प एक न्यूज़ पोर्टल है जहाँ आप 12 भारतीय भाषाओँ में 200 से अधिक Newspaper, Magazines मुफ्त में पढ़ सकते हैं। 

– इस एप्प पर हर रोज़ 1 लाख से अधिक News Articles पब्लिश किये जाते हैं। 10 करोड़ से अधिक लोगों ने इसे install किया है और Dailyhunt app पर एक महीने में करीब 3 billion (3 अरब) से अधिक pageviews दर्ज किये जाते हैं। 

Dailyhunt का नाम पहले Newshunt था और 2009 में उमेश कुलकर्णी और चन्द्रशेखर सोहोनी ने मिलकर बनाया था। सन 2011 में बिजनेसमैन वीरेंद्र गुप्ता की नजर इस एप्प पर पड़ी और उन्होंने इसे खरीद लिया। वीरेंद्र गुप्ता बिजनेसमैन बनने से पहले 13 सालों तक एक Telecom industry में एग्जीक्यूटिव के पद पर कार्यरत थे। 

Virendra gupta Dailyhunt news app
वीरेन्द्र गुप्ता का  डेलीहंट न्यूज़ एप्प

वीरेन्द्र ने भांप लिया था कि मोबाइल क्रांति आने वाली है और उन्होंने NewsHunt पर सही दांव लगाया। वीरेंद्र गुप्ता ने इस एप्प को नया लुक दिया, इसकी कमियों को दूर किया और बड़े स्तर पर प्रोमोट किया। नतीजा यह कि आज Dailyhunt दुनिया के 19 देशों के News apps की श्रेणी में Number 1 app है। 

3) फ्लैपी बर्ड गेम की अपार सफलता – Flappy Bird app success in hindi 

साल 2013 में वियतनाम के Dong Nguyen नामक App developer ने यह गेम बनाया था। देखने में सरल, साधारण पर खेलने में कठिन यह गेम मई 2013 में लांच किया गया और जनवरी 2014 में सफलता के शीर्ष पर पहुँच गया। Dong Nguyen के अनुसार इस गेम से उन्हें हर रोज़ $50,000 (37 लाख रूपए) की कमाई Ads के माध्यम से हो रही थी। 

– इतनी सफलता और कमाई के बावजूद भी Dong Nguyen ने 10 फरवरी 2014 के दिन Flappy Bird को games store से इसलिए हटा लिया क्योंकि उन्हें लगा लोग इसे खेलने में कुछ ज्यादा ही समय व्यर्थ कर रहे हैं। 

बहरहाल Flappy Bird के हटने के बाद सैकड़ों ऐसे गेम्स बाज़ार में आये जोकि Flappy Bird की हुबहू कॉपी से थे। इनमे से कुछ गेम्स ने Flappy Bird की अनुपस्थिति का फायदा उठा करके कमाई की मगर ‘फ्लैपी बर्ड’ की लोकप्रियता के बराबर नहीं पहुँच पाए। 

मोबाइल गेम flappy बर्ड
Dong Nguyen का Flappy Bird गेम एप्प

मोबाइल एप्प कमाई कैसे करते हैं – How Apps earn money in hindi 

मोबाइल के iOS/Android एप्प बहुत सारे तरीकों से पैसे कमाते हैं। आपने देखा होगा कि Google Play में कुछ एप्प Free और कुछ Paid होते हैं। Paid apps को डाउनलोड करने के लिए कुछ Fees देनी पड़ती है। कुछ पेड एप्पस महीने या सालाना फीस के हिसाब से चार्ज करते हैं। तो फिर फ्री वाले एप्प कैसे कमाई करते हैं ? फ्री एप्पस भी कई तरीके से कमाई करते हैं। 

1) डेटा बेचकर – Free Apps जिसके मोबाईल में डाउनलोड होते हैं, उस व्यक्ति के User Data को ऐसी कंपनियों को बेचती हैं, जोकि उसका उपयोग Advertisements, Market Research और Marketing के लिए करती हैं। 

2) एड/Ads लगाकर – एंड्रॉयड एप्प हो या आईओएस एप्प, ज्यादातर एप्प कमाई के लिए अपने एप्प में ads लगाते हैं। Android app में AdMob जैसे कई ऐड्वर्टाइज़िंग प्लेटफॉर्म हैं जिसे जॉइन करके उनके एड अपने App में लगाए जा सकते हैं। जब कोई इन ऐड पर क्लिक करता है तो उससे एप्प बनाने वाले को कमाई होती है। 

3) Freemium मॉडल से – ये एप्प वैसे तो फ्री होते हैं और इनके बेसिक फीचर्स का हमेशा के लिए मुफ़्त में उपयोग किया जा सकता है। लेकिन अगर आप स्पेशल फीचर प्रयोग करना चाहते हैं तो आपको कुछ फीस देनी होगी। जैसे कि बहुत से विडिओ गेम्स Free में खेल सकते हैं, लेकिन गेम को अपग्रेड करने के लिए या आगे खेलने पर App कुछ पैसे चार्ज करने के लिए कहता है। 

4) प्रोडक्ट बेचकर या एफलिएट के जरिए – खुद के बनाए हुए सामान या Digital products को बेचने के लिए App बनाए जाते हैं। जैसे ऐमज़ान, फ्लिपकार्ट ऑनलाइन सामान बेचते हैं। कुछ Affliate programs होते हैं, जिसे जॉइन करके उनके प्रोडक्ट बेचने पर कुछ कमीशन मिलता है।

मोबाइल एप्स कैसे बनाते हैं – How to make Apps in hindi :

एक अच्छा एप्प बनाने के लिए एक Fresh idea होना चाहिए या किसी पुराने App या Service को सुधारने का कोई नया उपाय आपके पास हो. खुद से एप्प बनाने या बनवाने के कई तरीके हैं, हम आपको एक-एक करके बताते हैं। 

1) App Developer से एप्प बनवाएं – अगर आप इंटरनेट इंटरनेट पर सर्च करेंगे तो आपके आस-पास या शहर में कई App developer मिल जायेंगे जोकि कुछ फीस लेकर आपके बताए गए फीचर्स के हिसाब से एप्प बना देंगे। App बनवाने का खर्च आपके बताए गए आइडिया की कठिनता और बनाने में लगने वाले समय पर निर्भर करता है। 

2) Free App Makers से एप्प बनायें – कुछ ऐसी वेबसाइट्स और Softwares भी हैं जिसकी मदद से आप Free में, सिर्फ कुछ steps follow करके अपना App बना सकते हैं. इसके बदले में आपकी होने वाली कमाई से कुछ हिस्सा उस App maker company को मिलता रहेगा। कुछ एप्प मेकर्स App बनवाने के बदले एक बार Charge करते हैं या महीने की फीस के हिसाब से पैसे लेते हैं। 

कुछ टॉप एप्प बनाने वाली कंपनी यानि App Makers के नाम इस प्रकार हैं। आप क्लिक करके उनकी वेबसाईट पर जा सकते हैं। 

3) खुद से एप्प बनाने का तरीका – सबसे अच्छा तरीका तो यह है कि आप खुद Programming सीख कर एप्प बनाना सीखें. भले थोड़ा समय लगे लेकिन ये स्किल बहुत काम ही है और इससे आप अच्छी कमाई भी कर सकते हैं। 

आप ये बहाना नहीं बना सकते कि App making course कहाँ सीखने जायें ? पूरी जानकारी इंटरनेट पर Free में मौजूद है।एप्प बनाने का तरीका सीखने के कई ऑनलाइन कोर्स Udemy, Udacity, Coursera जैसी वेबसाइट्स पर उपलब्ध हैं. इसके अलावा YouTube पर भी सैकड़ों ऐसे विडियो हैं जिन्हें देखकर आप apps बनाना सीख सकते हैं.

एप्प बनाने के लिए क्या-क्या सीखना होगा – App banane ka tarika

App making सीखने के लिए आपके पास एक Computer/Laptop होना चाहिए। उसमें Windows, iOS या Linux कुछ भी इंस्टॉल हो, आपका काम चल जाएगा। इसके अलावा एक Android mobile होना चाहिए जिससे App testing हो सके। 

a) JAVA – Android app development के लिए जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सबसे जरूरी है। एक अच्छा Android developer बनने के लिए जावा के कान्सेप्ट जैसे loops, List, variables, control structure आदि के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। एंड्रॉयड के अलावा भी JAVA language बहुत सारे अन्य सॉफ्टवेयर में प्रयोग होता है, इसे अच्छे से सीखना व्यर्थ नहीं जाएगा।  

b) SQL – एप्प बनाने के लिए SQL language की बेसिक जानकारी सीखें जिससे कि App के Database को व्यवस्थित (organize) किया जा सके। SQL के जरिए Queries को डेटाबेस से इनफार्मेशन के रूप में प्राप्त किया जाता है। 

c) Android software development kit (SDK) और Android studio का उपयोग – सबसे अच्छी बात ये है कि एप्प बनाने के सभी Tools और Software फ्री में मिल जाते हैं। SDK और एंड्रॉयड स्टूडियो ऐसे ही 2 सबसे जरूरी सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है, जिसे मुफ़्त में डाउनलोड करके उपयोग किया जा सकता है। इन्ही सॉफ्टवेयर पर डेवलपर कोड लिखते हैं, App के विभिन्न हिस्सों को तैयार करते और फीचर्स को चेक, Debug करते हैं। 

d) XML – यह एक Markup language है। User interface layouts को डिजाइन करने, इंटरनेट से Data parsing में XML प्रयोग होता है। XML के basics की जानकारी का ज्ञान एप्प बनाने के लिए जरूरी है। 

एप्प बनाना सीखकर आप Upwork, Fiverr, Freelancer जैसी वेबसाइट पर अपना प्रोफाइल बनाकर आप App Design, maintenance, नए एप बनाने जैसे ढेरों काम करके पैसे कमा सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए पढ़ें – Source 

ये भी पढ़ें>

ध्यान सीखने, दिमाग को रीलैक्स करने वाले 7 एप्प

वेबसाइट में बग खोजकर आनंद प्रकाश कमाते हैं करोड़ों

बुकमाईशो के ओनर आशीष हेमराजानी की लाइफ स्टोरी

Paytm बनाने वाले विजय शेखर शर्मा की जीवनी

आप हमसे एप्प कैसे बनाए की जानकारी से जुड़ा कोई सवाल पूछने के लिए नीचे कमेन्ट करें। लेख को व्हाट्सअप, फ़ेसबुक पर शेयर जरूर करे जिससे अन्य लोगों की मदद हो सके। 

ये लेख दोस्तों को Share करे

शब्दबीज संपादक पिछले 5 वर्षों से हिन्दी में विभिन्न विषयों पर अच्छे लेखों का प्रकाशन कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि सही जानकारी, अनुसंधान और गुणवत्ता पूर्ण लेख से हमारे पाठकों का ज्ञानवर्धन हो।

29 thoughts on “एप कैसे बनाए करोड़ो कमायें | How to make Apps in hindi”

  1. Mobile aap toh achi chiz hai.. lakin isse banane mai bohot mehnat lagti hai.. or hamare indian colgs mai app banana ko motivate nhi kia jata ahi.. unhe toh bas ek chote se job se hi matlb hota hia.. kisi mnc company mai job kro.. or sari umar support ki role mai jivan barbaad kr do..

    Reply
  2. but it’s not much easy as it appears…. too much patience and hard work is needed लेकिन किसी भी काम में सफल होने के लिए मेहनत तो लगती ही है, काफी अच्छी जानकारी

    Reply
  3. आपने जो उदाहरण दिये है वो बहुत बढ़िया है लेकिन आपने यह नही बताया की एप्प्स बनातें कैसे है ? हालाँकि में एक Beginner Developer हूँ । क्या आप कोई ऐसा Tutorial बता सकते है क्या की मेरे पास Android Studio 2.2.1 है तो में इसे इस्तेमाल करके एप्प्स बना सकु कृपया मुझे Android Studio के बारे में अधिक जानकारी बताये । धन्यवाद ।।

    Reply
  4. Kya app बनाने के बाद कमाई का कुछ पृतिशत देना होता है

    Reply
    • ji Nahi, Agr aap khud hi app develop karte hain ya Developer se app bnwate hain to usse hone wali kamai ka poora haq aapka hai.
      App ko google play me submit karne ke liye kewal ek bar kuch fees deni hoti hai. Agr aap app banane wale kuch platform jaise Thunkable etc se app bnwate hain tabhi aapko kuch precent hissa dena hota hai.

      Reply
  5. मुझे एक ऐप बनाना है जिसे मैं कैसे बना सकता हूं इस प्रकार के मुझे कुछ जानकारी चाहिए

    Reply
    • अगर आप खुद से एप्प बनाते हैं तो थोड़ा मुश्किल होगी लेकिन पैसा बचेगा और एक स्किल भी सीख जाएंगे जिससे आप पैसा भी कमा सकते हैं, YouTube पर बहुत से अच्छे ट्यूटोरियल हिन्दी में भी उपलब्ध है। इसके अलावा एप्प बनाने वाले कई डेवेलपर हैं जोकि आपकी जरूरत के हिसाब से एप्प डिजाइन करेंगे और फीस भी उसी हिसाब से होगी। आप ये विडिओ प्लेलिस्ट देखिए, आपको फायदा होगा – https://bit.ly/2RaNfE8

      Reply
  6. Nice post dear, I have been surfing online more than 3 hours today, yet I never found
    any interesting article like yours. It is pretty worth
    enough for me. In my view, if all web owners and bloggers made good content
    as you did, the internet will be much more useful than ever before.
    There is certainly a lot to know about this issue.

    I love all of the points you’ve made. I am sure this post
    has touched all the internet viewers, its really really good post on building up new weblog.
    10 BEST ONLINE MONEY TRANSFER APPS & E-WALLETS IN INDIA

    Reply
  7. App ki har jankari chaiyye
    . Keshe bante he or keshe use kr skte so plz I request u than app development keshe kr skte hai than public me keshe use kra skte hai so plz than app ko software se keshe canet kr skte he than software bana chate hai ho muje email kre plz.. any prsan

    Reply

Leave a Comment