1 मिनट में नींद आने के 7 उपाय करें | Turant Neend Kaise Laye

नींद नहीं आ रही ये तरीके अपनाए | Jaldi neend aane ka tarika

अक्सर लोगों को समस्या है कि रात में नींद नहीं आ रही। दिन भर की थकान के बाद भी बहुत से लोग करवटें बदलते रहते हैं कि 1-2 मिनट में कैसे सोए ? लोग मोबाइल पर सर्च करते हैं गूगल मुझे नींद नहीं आ रही है, नींद न आए तो क्या करें आदि। 

हम आपको नींद लाने के 7 सबसे कारगर उपाय बतायेंगे जिसमें 3 जल्दी नींद आने की ट्रिक, अच्छी नींद के टिप्स और सही डॉक्टरी सलाह भी शामिल है। 

1) डॉ. एंड्रयू वील की सुलाने वाली ब्रीथिंग ट्रिक | How to sleep fast in hindi

कई बार जब मैं सोने की तैयारी करता हूं तो मेरा दिमाग इस काम में मेरा साथ देने के लिए तैयार नहीं होता। 

बहुत लंबे समय तक अनिद्रा की समस्या झेलने के बाद मुझे इंटरनेट पर तुरंत नींद में ले जानेवाली ऐसी शानदार ट्रिक का पता चला जिसे 4-7-8 ब्रीथिंग ट्रिक (Breathing trick) कहते हैं। 

ये ट्रिक सीखने और करने में बेहद आसान है। 4-7-8 ब्रीथिंग ट्रिक को Dr. Andrew Weil एक वैलनेस प्रेक्टिशनर (Wellness practitioner) ने विकसित किया है। 

Neend nahi aa rahi
How to Sleeping fast in hindi

– इसके लिए आपको सिर्फ इतना ही करना है कि बिस्तर पर लेटकर 4 सेकंड तक अपनी नाक से सांस लेना है, फिर सांस को 7 सेकंड तक रोककर रखना है और अंत में मुंह के रास्ते 8 सेकंड तक सांस छोड़ना है। 

ऐसा ट्रिक करने से हार्ट रेट थोड़ा कम हो जाती है और दिमाग को Relax करने वाले हार्मोन निकलते हैं। 

जब मैंने ये नींद आने का तरीका पढ़ा तो पहले-पहल तो मुझे इसपर यकीन नहीं हुआ। सांस लेने जैसी सिंपल चीज अनिद्रा (Insomnia in hindi) को भला कैसे ठीक कर सकती है ?

लेकिन ना-नुकुर करते हुए मैंने इसे करके देखा और रिज़ल्ट वाकई Unexpected था…एक मिनट में ही मुझे नींद आ गई। 

– यह ब्रीथींग मेथड (Breathing method) शरीर द्वारा प्राकृतिक रूप से Melatonin hormone बनाने के सिस्टम को मिमिक करती है और हार्ट रेट अपने आप ही कम हो जाती है। 

सेकंड्स को गिनने के लिए मन-ही-मन गिनती कर सकते है। एक-दो बार अभ्यास करने के बाद आप भी इस Breathing trick से नींद न आने सम्बन्धी समस्याओं (Trouble sleeping) से मुक्ति पा सकते हैं। 

ये Neend aane ke upay आजमाकर देखें, इसे करके देखने में कोई नुकसान नहीं है। 

2) अमेरिकन मिलिट्री का तरीका, जल्दी कैसे सोए | The Military method to Sleep Fast

US नेवी ने अपने पायलट्स के लिए इस तरीके को डेवेलप किया था जिससे पायलट्स को 2 मिनट या उससे कम समय में नींद आ जाती थी। 6 हफ़्तों के अभ्यास से यह तरीका इतना पक्का हो जाता कि युद्ध में बमबारी के शोर में भी उन्हें नींद आ जाती। 

The military method करने के लिए सबसे पहले अपने सभी मांसपेशियों को रिलैक्स करें। मुंह के अंदर भी जीभ और होंठो को शांत करें। कंधों को ढीला छोड़ दें और हाथों को साइड में फैला दें। पूरी सांस बाहर छोड़ दें और सीने को शांत करें। 

अब अपने पैर, जांघों और पिंडलियों को रिलैक्स छोड़ दें। 10 सेकंड तक दिमाग को शांत करने वाले दृश्य की कल्पना करें और बाकी कुछ न सोचें। अगर कल्पना न कर पा रहें तो यह उपाय करें। 10 सेकंड तक धीरे-धीरे बोलें ‘कुछ मत सोचो’ और दिमाग को खाली कर दें। 

इससे आपको अगले 10 सेकंड में नींद आने लगेगी। यह ट्रिक जितना अभ्यास करेंगे उतनी पक्की होती जाएगी। इसमें एक्सपर्ट लोग तो इससे बैठे-बैठे ही सो जाते हैं। इस ट्रिक में आप अपने बॉडी को जितना रिलैक्स कर लेंगे, नींद आने की  सम्भावना उतना ही बढ़ जाएगी। हाँ इसके अभ्यास में कुछ दिन लग सकते हैं जैसा ऊपर बताया गया है। 

3) खुद से कहें सोना नहीं है | Paradoxical Intention to Sleep

ऐसा देखा गया है कि जिन लोगों को नींद न आने की समस्या होती है उन्हें इस बात की टेंशन होती है कि क्या आज मुझे नींद आएगी ? यह बेचैनी नींद आने की समस्या को और बढ़ा देती है।  

ऐसे लोगों के लिए Paradoxical Intention का तरीका काम करता है। इसमें आपको सोचना है कि हमें सोना नहीं है बल्कि जागते रहना है। देखा गया है कि सोने की टेंशन पालने वाले लोगों के लिए यह नींद आने का तरीका ब्रीथिंग तकनीक से ज्यादा कारगर है। 

4) ऐसी चीजें खाएं जिनसे नींद अच्छी आती है 

नींद नहीं आ रही तो ऐसे फ़ूड आइटम खायें जिन्हें खाने से नींद आने में मदद मिलती है।

कैमोमाइल चाय (Chamomile tea), मछली, बादाम, अखरोट, सफ़ेद चावल, हल्का गर्म दूध पीना, केला, पनीर, ओट्स आदि ऐसी चीजें हैं जिनका सेवन करने से दिमाग और शरीर रिलैक्स होता है और नींद आने लगती है। 

नींद न आने की आयुर्वेदिक दवा अश्वगंधा, मुलेठी, तगर के जड़ की चाय (Valeriana wallichii), ब्राह्मी, वच, सर्पगन्धा, जटामांसी, शंखपुष्पी, जीरा, केसर, जायफल का उपयोग करें। 

अच्छी नींद के लिए Chamomile Tea, Valerian root Tea ऑनलाइन खरीदने के लिए क्लिक करें > 

5) कमरे का तापमान कम रखें 

अगर आपके कमरे का Temperature ज्यादा है तो नींद न आने की दिक्कत हो सकती है। वैज्ञानिकों ने पाया है कि कमरे का  टेम्परेचर 15 से 25 डिग्री सेंटीग्रेड के बीच रखा जाय तो नींद बढ़िया आती है। 

आपने देखा होगा AC वाले में कमरे में नींद और आलस आने लगता है। जाड़ों के मौसम में भी नींद न आने की समस्या कम हो जाती है। 

सोने से पहले हल्के गर्म पानी से स्नान या शावर लेना भी बॉडी के तापमान को प्रभावित करता है। इसके बाद जब बॉडी रिलैक्स और ठंडी होती है तो दिमाग Sleep mode में आने लगता है। 

इसके बाद भी अगर आप जानना चाहते हैं कि नींद ना आने पर क्या करें तो हम आपको सलाह देंगे कि आप इन नींद आने की टिप्स का पालन करें। 

नींद आने की सरल टिप्स | Nind lane ke upay – Neend kaise aaye

– अपने सोने और जगने का एक नियमित समय पक्का करें। 3 सप्ताह तक जब आप ठीक समय पर सोने और जागने का पालन करेंगे तो धीरे-धीरे आपका दिमाग खुद-ब-खुद आपके सोने के समय पर नींद आने के लक्षण देने लगेगा। 

– घना अँधेरा दिमाग में Body clock को सिग्नल देता है कि सोने का समय हो गया है। इसी प्रकार रौशनी दिमाग को उठने के संकेत देता है। इसलिए ये कोशिश करें कि आपके कमरे में एकदम अँधेरा हो। अगर कमरे में अंधेरा न कर सकें तो आप स्लीप मास्क की मदद ले सकते हैं।

स्लीप मास्क आपको मेडिकल शॉप से मिल सकता है, लेकिन अगर ऑनलाइन खरीदना चाहते हैं तो ये लिंक देखें।

इस बात का ध्यान रखें कि साफ़-स्वच्छ हवा कमरे में आये, जिससे दिमाग को हल्का और रिलैक्स होने में मदद मिलती है। 

– प्रतिदिन योग और ध्यान करने से दिमाग की उथल-पुथल से शांति मिलती है। आजकल के समय में दिमागी तनाव, डिप्रेशन नींद न आने का बहुत बड़ा कारण है। योग, मैडिटेशन, Mindfulness दिमाग के काम करने के तरीके को बेहतर बनाते हैं जिससे नींद न आने की समस्या भी ठीक होती है। 

पढ़ें > ध्यान करने के 9 बड़े फायदे और ध्यान की विधि

– सोने के कमरे में घड़ी ऐसे न लगी हो कि नींद न आने से बेचैन आपका मन बार-बार घड़ी देखे। Sleep experts इस चीज़ से आपको बचने के लिए कहते हैं। बार-बार घड़ी देखना दिमाग को Anxious कर देता है। 

अगर रात में भी आपकी नींद खुल जाती है तो बार-बार घड़ी न देखें। ये कार्यकलाप नींद आने में दिक्कत करते हैं। 

– दिन में सोने से बचें. 30-45 मिनट झपकी लेना तो ठीक है लेकिन 2 घंटे या इससे ज्यादा दिन में सोना रात में नींद न आने का कारण बनता है। 

– सोने से 4 घंटे पहले हाई-कार्बोहायड्रेट वाला खाना खाएं। देखा गया है कि हाई-कार्बोहायड्रेट युक्त भोजन खाने के तुरंत बाद तो नींद बहुत तेज आती है लेकिन ये बढ़िया नींद नहीं देती है। 

– कुछ ऐसे छोटे-छोटे उपाय हैं जिन्हें करना बहुत आसान है और ये नींद आने में सहायता करते हैं। 

  • सोने के बिस्तर पर बिछाने के लिए सफ़ेद चद्दर बिछाना 
  • सोने के पहले रिलैक्सिंग, शांत म्यूजिक सुनना
  • रोजाना दिन में एक्सरसाइज करना
  • सोते समय मोबाइल, गैजेट से दूर रहना
  • सोने के कमरे में अरोमाथेरपी का प्रयोग करना
  • दिन में और शाम को चाय-कॉफ़ी का कम से कम सेवन
  • सोने से पहले हाथ-पैर धोकर सुखाकर, कुल्ला करके लेटें 

नींद की टेबलेट लेने की डॉक्टरी सलाह | Sleeping Pills side effects in hindi

नींद न आने पर अक्सर लोग मेडिकल शॉप से नींद की टेबलेट लेने का उपाय सोचते हैं लेकिन बिना डॉक्टर की सलाह के नींद की दवा लेने के नुकसान हो सकते हैं

ज्यादातर नींद की गोली (Sleeping pills) ऐसी हैं जिसे लेने से नींद तो आ जाती है लेकिन अगले दिन सिरदर्द, बहुत सुस्ती, आलस, उनींदापन, सपने आना, चलने में चक्कर सा आना, सर भारी होना, मुंह सूखने, पेट खराब, कब्ज, भूख कम लगना, गैस बनना, शरीर में जलन, दिमाग सुस्त महसूस होना जैसे साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। 

नींद की गोलियां ज्यादा खाने से दिमाग पर बुर असर पड़ सकता है या कुछ केस में मृत्यु भी हो सकती है

अगर कई दिन से नींद नहीं आ रही तो सबसे पहले किसी जनरल फिजिशियन डॉक्टर (General Physician) से सलाह लें। वो आपको बतायेगा कि आपको Neurologist, Psychologist, Psychiatrist, Sleep specialist में से किसको दिखाना चाहिए।

नींद आने की दवा, Sleeping Tablet खाए बिना नेचुरल तरीके से नींद आना ही सबसे अच्छा तरीका है। नींद की टेबलेट पर पूरी तरह से निर्भर होना नींद न आने की प्रॉब्लम को और बढ़ा देता है। 

जिनको अनिद्रा यानि नींद न आने कई बीमारी होती है, उनकी मदद के लिए हमने एक पोस्ट लिखा है, पढ़ें : अनिद्रा का 7 घरेलू इलाज जानें

अपने सवाल और कमेंट नीचे करें। मैं आपकी सहायता करने की पूरी कोशिश करूँगा। 

Q: नींद न आने के कारण क्या हैं ?

A: दिमागी तनाव, यात्रा या काम की वजह से सोने-जगने का समय बदलना, टीवी-मोबाइल, कंप्युटर ज्यादा देखना, सोने का समय निश्चित न होना, दोपहर में ज्यादा सोना, डिनर में ओवरइटिंग करना, कुछ बीमारियों से या दवाई का साइड इफेक्ट होना, शारीरिक मेहनत कम करना, अधिक चाय-कॉफी, धूम्रपान, नशा करना, मानसिक-शारीरिक रूप से बहुत ज्यादा थका होना आदि।

तुरंत नींद आने के उपाय दोस्तों, परिचित के साथ Whatsapp, Facebook पर शेयर और फॉरवर्ड जरुर करें, जिससे और लोगों को भी इसका फायदा मिल सके। 

यह भी पढ़ें :

सुबह तरोताज़ा और स्वस्थ रहने के लिए दिनचर्या

मेमोरी और दिमाग तेज करने वाली 3 जड़ी बूटियाँ

ताम्बे के बर्तन में पानी पीने के 21 फायदे 

पानी कम पीने से होने वाली बीमारी जानें

आंवला रस, चूर्ण खाने के 9 गजब फायदे

प्याज के रस से बाल झड़ना रोकें

sources : Healthy Sleep Habits, Sleep deprivation and deficiency: Healthy sleep habits – https://www.nhlbi.nih.gov/health/sleep-deprivation/healthy-sleep-habits, Paradoxical Intention for Insomnia, Side effects of Sleeping pills

Share on WhatsApp

38 thoughts on “1 मिनट में नींद आने के 7 उपाय करें | Turant Neend Kaise Laye”

  1. Sir main 1.5 hrs subah aur 1.5 hrs Shaam yoga karta hoon but phir bhi Raat me so nahi pata kya Karu batayein

    Reply
    • har kisi ki body alag hoti hai. Agr kisi ko samanya upay fayda na kare to use phle medical expert ki salah leni chahiye. apko kisi doctor se bat kare aur unki rai le, isme koi burai nahi hai.

      Reply
    • देसी दवा कोई असर नहीं कर रही है पूरी नाईट में 3 घंटे नींद आती है

      Reply
      • आप इस लेख के उपायों को धैर्यपूर्वक 1 सप्ताह तक try करें। इस लेख में कहा गया है कि सबसे पहले इस बात की टेंशन को किनारे रखें कि मुझे नींद नहीं आती, वरना आप बहुत जल्दी हतोत्साहित हो जाएंगे।

        Reply
    • Main 5 sal se nind ki dava kha Raha Hun jisse humko nind aaye ab humko lagta hai main dava chhod dun dava chhodane se humko nind nahin aati main bahut pareshan hun bataiye main Kya karun har doctor ko dikha chuka hun

      Reply
      • आपको किसी आयुर्वेदिक स्पेशलिस्ट से मिलना चाहिए जोकि खान-पान, औषधि से और आहार-विहार यानि लाइफस्टाइल में बदलाव के जरिए मदद कर सकता है। अगर आप किसी बड़े शहर मे रहते हैं तो Sleep specialist से मिलकर सलाह ले सकते हैं जोकि खासतौर पर नींद की जुड़ी समस्या, रोग का इलाज करते हैं।

        Reply
  2. Sir plz mujhe bhi nind naa aane ki prblm hai meri age 22 hai..bhtt time se mujhe raat me ekdm nind nahi aati hai raat ke 3 4 baj jate hai jiske wjh se mujhe bht Laziness feel hota h Or mujhe dark circles bhi hogye hai bht plz main bhtt pareshan hu maine bhot chize bhi try ki par koi effect nahi padha plz aap mujhe btaye main kya karu

    Reply
    • रात को 1 बजे के बाद वात तत्व बढ़ने लगता है, इसलिए अगर आप इसके पहले नहीं सो गए तो फिर नींद नहीं आती। रात को अच्छी नींद के लिए आपका दिन में थकना जरूरी है। डेली वॉक जरूर करें, शाम को करें तो और भी अच्छा। मोबाईल तो लेटते समय बिल्कुल न देखें क्योंकि मोबाईल के स्क्रीन लाइट में एक ऐसी ब्लू कलर वेवलेंथ होती है जो दिमाग को सक्रिय कर देती है, नींद आने को डिस्टर्ब करती है। खाने के कम से कम 1 घंटे बाद सोएं और दूध में थोड़ा सा जायफल घिसकर उबाल लें, फिर ठंडा होने पर पियें। फायदा होगा।

      Reply
  3. Mujhe nind nhi aati hai har upay kar ke dekh li nind ki goli bhi kha ke dekh liya gaheri nind to bahut badi bat hai 10 min ki bhi nind atti goli asar nhi karti

    Reply
      • Me sham ko workout karta hu 1 ghante bahut thak jata hu lekin raat ko 2 baje ke baad neend aa rahi he 1 mahine se kya karu bhai bataiye

        Reply
        • letne ke samay mobile na use kiya kare, mobile screen light se mind alert ho jata hai, neend disturb hoti hai. hamesha hath pair dhokar lete. letne par aram se gehri saanse le, dhyan de ki jaise agr apne 3 second tak saans li to 6 second me use dhire-dhire chhode. saans chhodne ka time lagbhag doguna ho. Dinner ke 1 hour bad 1 glass halka doodh pina bhi neend lane me madad karega.

          Reply
  4. Sir me din me study karte hu.. Pr rat ko gahri nid nhi aati h..,.. Bistr pr karte bdlta hu…. Kya karu pareshan ho gya hu es problem se

    Reply
    • Koi na Koi physical exercise evening me kam se kam 40-45 minutes jarur kare. Jogging, Walk, cycling etc kare. Sone ke pahle hath-pair jarur dhoye. Letne par mobile na use kare. Letkar gehri saanse dhire-dhire le. fayda hoga.

      Reply
    • Fever me body me weakness aa jati hai. Agar ab aap ekdam theek ho gaye hain to aap daily sham ko 30-40 minute walk kare. Rat ko dinner k 1 ghante baad 1 glass halka garam doodh piye. Agr doodh ke sath 1 Ashwagandha Capsule ya 1/2 spoon Ashwagandha Churna le to isse achi neend aur sehat dono ka fayda milega.

      Reply
    • Ye problem to bahut common hai, Tension mat lijiye. Aap koi Peaceful music, Instrumental music earphones se sune, mind divert hoga. Bahut se sleep music bhi hain, ap unhe bhi sun sakte hain.

      Reply
  5. Mujhe migrain h ….. nind aane m bhi problem hoti h docter ne sleeping pills di h usk baad bhi bhot si bar nind nhi aati meri age 18 years h and m premedical student hu

    Reply
    • As a student apko free time nahi milta hoga but health to jaruri hai. Apko time nikal kar daily 30-40 minutes walk type ki exercise karni chahiye. Iske alawa agar apko medicines se bahut benefits nahi ho raha to mai apko suggest karunga try yoga & breathing exercises for migraine. It may take some weeks but cure would be permanent.

      Reply

Leave a Comment