1 मिनट में नींद आने के उपाय | Jaldi neend aane ka tarika

नींद आने के आसान उपाय – Sleep fast in hindi :

बहुत से लोग जानना चाहते हैं कि जल्दी नींद कैसे आये. Sleeping मेरी सबसे प्रिय हॉबी है. अक्सर ही मैं खुद को कई तरह के कामों में इतना थका डालता हूं कि कभी तो थकान में चूर हो जाने के कारण मुझे Bed पर गिरते ही नींद आ जाती है लेकिन कभी किसी एक्साइटमेंट या उधेड़बुन में फंसे रहने के कारण जल्दी नींद नहीं आती.

आजकल की बदलती हुई Lifestyle के कारण अक्सर लोगों को नींद न आना (Insomnia) जैसी समस्या हो रही हैं. दिन भर की थकान के बाद भी बहुत से लोग करवटें बदलते रहते हैं कि नींद नहीं आती मुझे.

हम आपको नींद लाने के 5 सबसे कारगर उपाय बतायेंगे.

1. डॉ. एंड्रयू वील की सुलाने वाली ब्रीथिंग ट्रिक Trick to sleep in hindi :

कई बार जब मैं सोने की तैयारी करता हूं तो मेरा दिमाग इस काम में मेरा साथ देने के लिए तैयार नहीं होता.

बहुत लंबे समय तक अनिद्रा की समस्या झेलने के बाद मुझे इंटरनेट पर तुरंत नींद में ले जानेवाली ऐसी शानदार ट्रिक का पता चला जिसे 4-7-8 ब्रीथिंग ट्रिक (Breathing trick) कहते हैं.

ये ट्रिक सीखने और करने में बेहद आसान है. 4-7-8 ब्रीथिंग ट्रिक को Dr. Andrew Weil एक वैलनेस प्रेक्टिशनर (Wellness practitioner) ने विकसित किया है. 

Sleep trick in hindi

Sleeping fast in hindi

– इसके लिए आपको सिर्फ इतना ही करना है कि बिस्तर पर लेटकर 4 सेकंड तक अपनी नाक से सांस लेना है, फिर सांस को 7 सेकंड तक रोककर रखना है और अंत में मुंह के रास्ते 8 सेकंड तक सांस छोड़ना है.

ऐसा ट्रिक करने से हार्ट रेट थोड़ा कम हो जाती है और दिमाग को Relax करने वाले हार्मोन निकलते हैं.

जब मैंने ये नींद आने का तरीका पढ़ा तो पहले-पहल तो मुझे इसपर यकीन नहीं हुआ. सांस लेने जैसी सिंपल चीज अनिद्रा (Insomnia in hindi) को भला कैसे ठीक कर सकती है ?

लेकिन ना-नुकुर करते हुए मैंने इसे करके देखा और रिज़ल्ट वाकई Unexpected था…एक मिनट में ही मुझे नींद आ गई.

– यह ब्रीथींग मेथड (Breathing method) शरीर द्वारा प्राकृतिक रूप से Melatonin hormone बनाने के सिस्टम को मिमिक करती है और हार्ट रेट अपने आप ही कम हो जाती है.

सेकंड्स को गिनने के लिए मन-ही-मन गिनती कर सकते हैं. एक-दो बार अभ्यास करने के बाद आप भी इस Breathing trick से नींद न आने सम्बन्धी समस्याओं (Trouble sleeping) से मुक्ति पा सकते हैं. 

ये Neend aane ke upay आजमाकर देखें, इसे करके देखने में कोई नुकसान नहीं है.

2.  अमेरिकन मिलिट्री का तरीका – The Military method :

US नेवी ने अपने पायलट्स के लिए इस तरीके को डेवेलप किया था जिससे पायलट्स को 2 मिनट या उससे कम समय में नींद आ जाती थी. 6 हफ़्तों के अभ्यास से यह तरीका इतना पक्का हो जाता कि युद्ध में बमबारी के शोर में भी उन्हें नींद आ जाती.

The military method करने के लिए सबसे पहले अपने सभी मांसपेशियों को रिलैक्स करें. मुंह के अंदर भी जीभ और होंठो को शांत करें. कंधों को ढीला छोड़ दें और हाथों को साइड में फैला दें. पूरी सांस बाहर छोड़ दें और सीने को शांत करें. 

अब अपने पैर, जांघों और पिंडलियों को रिलैक्स छोड़ दें. 10 सेकंड तक दिमाग को शांत करने वाले दृश्य की कल्पना करें और बाकी कुछ न सोचें. अगर कल्पना न कर पा रहें तो यह उपाय करें. 10 सेकंड तक धीरे-धीरे बोलें ‘कुछ मत सोचो’ और दिमाग को खाली कर दें.

इससे आपको अगले 10 सेकंड में नींद आने लगेगी. यह ट्रिक जितना अभ्यास करेंगे उतनी पक्की होती जाएगी. इसमें एक्सपर्ट लोग तो इससे बैठे-बैठे ही सो जाते हैं. इस ट्रिक में आप अपने बॉडी को जितना रिलैक्स कर लेंगे, नींद आने की  सम्भावना उतना ही बढ़ जाएगी.

इस नींद के उपाय को दोस्तों, परिचित के साथ Whatsapp, Facebook पर शेयर और फॉरवर्ड जरुर करें, जिससे और लोगों को भी इसका फायदा मिल सके. अपने सवाल और कमेंट नीचे करें. मैं आपकी सहायता करने की पूरी कोशिश करूँगा. 

3. खुद से कहें सोना नहीं है – Paradoxical Intention :

ऐसा देखा गया है कि जिन लोगों को नींद न आने की समस्या होती है उन्हें इस बात की टेंशन होती है कि क्या आज मुझे नींद आएगी ? यह बेचैनी नींद आने की समस्या को और बढ़ा देती है. 

ऐसे लोगों के लिए Paradoxical Intention का तरीका काम करता है. इसमें आपको सोचना है कि हमें सोना नहीं है बल्कि जागते रहना है. देखा गया है कि सोने की टेंशन पालने वाले लोगों के लिए यह नींद आने का तरीका ब्रीथिंग तकनीक से ज्यादा कारगर है. 

4. ऐसी चीजें खाएं जिनसे नींद अच्छी आती है :

ऐसे फ़ूड आइटम खायें जिन्हें खाने से नींद आने में मदद मिलती है.

कैमोमाइल चाय (Chamomile tea), मछली, बादाम, अखरोट, सफ़ेद चावल, हल्का गर्म दूध पीना, केला, पनीर, ओट्स आदि ऐसी चीजें हैं जिनका सेवन करने से दिमाग और शरीर रिलैक्स होता है और नींद आने लगती है.

नींद न आने की आयुर्वेदिक दवा अश्वगंधा, मुलेठी, तगर के जड़ की चाय (Valeriana wallichii), ब्राह्मी, वच, सर्पगन्धा, जटामांसी, शंखपुष्पी, जीरा, केसर, जायफल का उपयोग करें.

पढ़ें > अनिद्रा का 7 घरेलू इलाज जानें

5. कमरे का तापमान कम रखें :

अगर आपके कमरे का Temperature ज्यादा है तो नींद न आने की दिक्कत हो सकती है. वैज्ञानिकों ने पाया है कि कमरे का  टेम्परेचर 15 से 25 डिग्री सेंटीग्रेड के बीच रखा जाय तो नींद बढ़िया आती है.

आपने देखा होगा AC वाले में कमरे में नींद और आलस आने लगता है. जाड़ों के मौसम में भी नींद न आने की समस्या कम हो जाती है. सोने से पहले हल्के गर्म पानी से स्नान या शावर लेना भी बॉडी के तापमान को प्रभावित करता है. इसके बाद जब बॉडी रिलैक्स और ठंडी होती है तो दिमाग Sleep mode में आने लगता है. 

इसके बाद भी अगर आप जानना चाहते हैं कि नींद ना आने पर क्या करें तो हम आपको सलाह देंगे कि आप इन नींद आने की टिप्स का पालन करें. 

नींद आने की टिप्स :

– अपने सोने और जगने का एक नियमित समय पक्का करें. 3 सप्ताह तक जब आप ठीक समय पर सोने और जागने का पालन करेंगे तो धीरे-धीरे आपका दिमाग खुद-ब-खुद आपके सोने के समय पर नींद आने के लक्षण देने लगेगा.

– घना अँधेरा दिमाग में Body clock को सिग्नल देता है कि सोने का समय हो गया है. इसी प्रकार रौशनी दिमाग को उठने के संकेत देता है. कोशिश करें कि आपके कमरे में एकदम अँधेरा हो.

इस बात का ध्यान रखें कि साफ़-स्वच्छ हवा कमरे में आये, जिससे दिमाग को हल्का और रिलैक्स होने में मदद मिलती है.

– प्रतिदिन योग और ध्यान करने से दिमाग की उथल-पुथल से शांति मिलती है. आजकल के समय में दिमागी तनाव, डिप्रेशन नींद न आने का बहुत बड़ा कारण है. योग, मैडिटेशन, Mindfulness दिमाग के काम करने के तरीके को बेहतर बनाते हैं जिससे नींद न आने की समस्या भी ठीक होती है. 

पढ़ें > ध्यान करने के 9 बड़े फायदे और ध्यान की विधि

– सोने के कमरे में घड़ी ऐसे न लगी हो कि नींद न आने से बेचैन आपका मन बार-बार घड़ी देखे. Sleep experts इस चीज़ से आपको बचने के लिए कहते हैं. बार-बार घड़ी देखना दिमाग को Anxious कर देता है. 

अगर रात में भी आपकी नींद खुल जाती है तो बार-बार घड़ी न देखें. ये कार्यकलाप नींद आने में दिक्कत करते हैं.

– दिन में सोने से बचें. 30-45 मिनट झपकी लेना तो ठीक है लेकिन 2 घंटे या इससे ज्यादा दिन में सोना रात में नींद न आने का कारण बनता है. 

– सोने से 4 घंटे पहले हाई-कार्बोहायड्रेट वाला खाना खाएं. देखा गया है कि हाई-कार्बोहायड्रेट युक्त भोजन खाने के तुरंत बाद तो नींद बहुत तेज आती है लेकिन ये बढ़िया नींद नहीं देती है. 

– कुछ ऐसे छोटे-छोटे उपाय हैं जिन्हें करना बहुत आसान है और ये नींद आने में सहायता करते हैं.

  • सोने के बिस्तर पर बिछाने के लिए सफ़ेद चद्दर बिछाना 
  • सोने के पहले रिलैक्सिंग, शांत म्यूजिक सुनना
  • रोजाना दिन में एक्सरसाइज करना
  • सोते समय मोबाइल, गैजेट से दूर रहना
  • सोने के कमरे में अरोमाथेरपी का प्रयोग करना
  • दिन में और शाम को चाय-कॉफ़ी का कम से कम सेवन
  • सोने से पहले हाथ-पैर धोकर सुखाकर, कुल्ला करके लेटें 

नींद आने की टेबलेट और डॉक्टरी सलाह :

लोग मेडिकल शॉप से नींद की टेबलेट लेने का उपाय सोचते हैं लेकिन बिना डॉक्टर की सलाह के नींद की दवा लेने के नुकसान हो सकते हैं.

ज्यादातर नींद की गोली (Sleeping pills) ऐसी हैं जिसे लेने से नींद तो आ जाती है लेकिन अगले दिन सिरदर्द, बहुत सुस्ती, आलस, उनींदापन, सपने आना, सर भारी होना, मुंह सूखने, पेट खराब होना जैसे साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं.

नींद की गोली ज्यादा खाने से दिमाग पर बुर असर पड़ सकता है या कुछ केस में मृत्यु भी सकती है.

नींद न आने पर सबसे पहले किसी जनरल फिजिशियन डॉक्टर (General Physician) से सलाह लें. वो आपको बतायेगा कि आपको Neurologist, Psychologist, Psychiatrist, Sleep specialist में से किसको दिखाना चाहिए.  

 नींद की Tablet खाए बिना नेचुरल तरीके से नींद आना ही सबसे अच्छा तरीका है. नींद की टेबलेट पर पूरी तरह से निर्भर होना नींद न आने की प्रॉब्लम को और बढ़ा देता है. 

Chamomile Tea, Valerian root Tea ऑनलाइन खरीदने के लिए लिंक देखेंTea

नींद आने के उपाय की जानकारी को Whatsapp, Facebook पर फॉरवर्ड और शेयर जरुर करें जिससे और लोग भी यह जानकारी पढ़ सकें. 

यह भी पढ़ें :

7 Comments

  1. ASHUTOSH TIWARI
  2. janhvi
  3. shubodh kumar
  4. Aarti Piwal
  5. Suresh

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.