सैकड़ों मील लगातार दौड़ने वाले धावक Dean Karnazes का राज | Lagatar Daudna

Dean Karnazes story in hindi – डीन कर्नाज़ेस :

Dean Karnazes ऐसे अनोखे Runner हैं जिन्होंने बिना थके, सैकड़ों मीलों लगातार दौड़ने के कई World Record बनाए हैं. इन्होने ट्रेनिंग से अपने शरीर में ऐसी गजब की क्षमता पैदा की है, जिससे इन्हें थकान कम लगती है.

अपनी प्राकृतिक क्षमता को इन्होने लगातार ट्रेनिंग, प्लानिंग, मानसिक-शारीरिक संतुलन से अतिमानवीय स्तर तक पहुँचा दिया है. तो आइए जानते हैं Dean Karnazes के आश्चर्यजनक रिकार्ड्स और जीवन के बारे में। 

डीन कर्नाज़ेस का आश्चर्यजनक रेसिंग करियर – Runner in hindi :

57 वर्षीय डीन कर्नाज़ेस का जन्म कैलिफोर्निया में हुआ था. डीन बचपन में स्कूल जाते समय घर और स्कूल के बीच की दूरी दौड़ते हुए तय करते थे. ऐसा वो बस मजे के लिए करते थे. उसके बाद डीन छोटे रास्तों के बजाय लम्बे रास्तों से दौड़कर स्कूल जाने लगे, साथ ही वो स्कूल की प्रतियोगिताओं में भाग लेने लगे.

डीन ने 12वें जन्मदिन पर अपनी क्षमता परखनी चाही और वे माता-पिता को बताये बिना ही अपने दादी-दादा से मिलने 64 किलोमीटर साइकिल चलाकर पहुँच गए.

Dean Karnazes story in hindi

Dean Karnazes

जब डीन हाईस्कूल में पहुंचे तो उन्होंने गरीब बच्चो के लिए फण्डरेजिंग दौड़ आयोजन में भाग लिया, जिसमें धावक द्वारा ट्रैक के हर एक चक्कर पूरा करने पर स्पोंसर्स 1$ दान करते थे. जहाँ ज्यादातर धावक 10-15 चक्कर ही कर पाए. डीन कर्नाज़ेस ने 105 चक्कर (एक मैराथन रेस के बराबर) लगा दिए.

 लेकिन इतने जबर्दस्त टैलेंट के बावजूद डीन की जिन्दगी में चीज़ें इतनी आसानी से नही आई. डीन की अपने हाईस्कूल ट्रैक प्रशिक्षक से नहीं बनी और उन्होंने इस खेल से एक तरह से सन्यास ले लिया. आने वाले 15 साल तक उन्होंने किसी रेस में भाग नहीं लिया. डीन ने ग्रेजुएशन किया और वो एक फार्मास्यूटिकल कंपनी में 9 से 5 की नौकरी करने लगे.

अपने 30वें जन्मदिन पर रात में पार्टी करते हुए डीन के मन में अचानक दौड़ने का विचार आया. वो घर आये उन्होंने अपने ट्रैक शूज, टीशर्ट और शॉर्ट्स पहने और सड़क पर दौड़ना शुरू कर दिया. 25 किलोमीटर दौड़ने के बाद सुबह 4 बजे वो Dale सिटी पहुँच गये. उनका सारा नशा उतर चुका था और उन्हें बड़ा अच्छा महसूस हो रहा था. डीन ने और आगे दौड़ने का निश्चय किया और वो उजाला होने तक 25 किलोमीटर दौड़कर Santa Cruz शहर पहुँच गये.

इस दौड़ से डीन को अपनी सोयी हुई क्षमता का फिर से आभास हुआ. डीन को लगा भगवान ने उन्हें लम्बी दूरी का रेसर बनाने के लिए ही पैदा किया है. डीन ने निश्चय किया कि वो प्रोफेशनल धावक बनेंगे और अपने क्षमता की लिमिट को भी आंकेंगे. इसके बाद तो डीन ने एक-एक करके कठिन से कठिन लम्बी रेसेस में भाग लेना और उन्हे पूरा करना शुरू कर दिया.

डीन कर्नाज़ेस के हैरतअंगेज रिकॉर्ड – Dean Karnazes Record in hindi :

  • 2001 में अमेरिका में 4800 किलोमीटर की दूरी 75 दिन में रोजाना 65 से 80 किलोमीटर दौड़कर पूरी की।
  • 2002 में दक्षिणी ध्रुव पर -25 डिग्री तापमान की कड़ाके की सर्दी मे, ठंड से बचाने वाले खास जूतों के बिना मैराथन दौड़ पूरी की.
  • 2004 में ट्रेडमिल रनिंग मशीन पर दौड़ते हुए 24 घंटे में 238 किलोमीटर जितनी दौड़ लगाई।
  • 2004 में 217 किलोमीटर की कठिन Badwater Ultramarathon को 49 डिग्री की भीषण गर्मी में दौड़कर जीती.
  • 2005 में डीन ने 563 किलोमीटर की दूरी 3 दिन 8 घंटे में बिना सोये दौड़कर पूरी की है.
  • 2006 में डीन कर्नाज़ेस ने लगातार 50 दिन तक 50 अमेरिकन स्टेट्स में रोज एक मैराथन (Marathon Race) दौड़कर एक अनोखा रिकॉर्ड बनाया.
  • 2006 में वेरमॉन्ट ट्रैल की 160 किलोमीटर के ऊंची-नीची रास्तों की रेस जीती। 
  • Calistoga से Santa Cruz तक होने वाली 320 किलोमीटर की रेस को 11 बार पूरा करने वाले अकेले शख्स डीन कर्नाज़ेस हैं.
  • डीन कर्नाज़ेस के इसके अलावा भी करीब 10 रिकॉर्ड और हैं.
Runner in hindi

image source : runningmagazine.ca

डीन कर्नाज़ेस की डाइट – About Dean Karnazes Diet in hindi:

डीन बताते हैं जब उन्होंने लंबी रेस दौड़ना शुरू किया तो उनको लगता था कि एनर्जी की लगातार पूर्ति के लिए फास्ट फूड सही है क्योंकि इनमें खूब कैलोरी होती है। वो सोचते थे कि एनर्जी मिलना चाहिए भले ही कोई भी source हो। 

वो बताते हैं कि एक बार जब 320 किलोमीटर की दौड़ लगा रहे थे तो उन्होंने दौड़ते हुए ही मोबाइल से पिज्जा ऑर्डर किया। दौड़ते हुए ही उन्होंने उसे रिसीव किया और दौड़ते हुए ही वो पूरा पिज्जा खा गए। 

इस Diet से डीन को कोई नुकसान तो नहीं हो रहा था लेकिन उन्होंने गौर किया कि डाइट से एनर्जी लेवल पर फर्क पड़ता है। उन्होंने कई तरह के भोजन को खाकर देखा कि उससे कितनी एनर्जी मिलती है और कितनी देर तक मिलती है। 

डीन कहते हैं – जब आप इस हद तक शारीरिक मेहनत करते हैं तो आपको ये एहसास होने लगता है कि क्या चीज आपको तेज बना रही है और कौन सी चीज आपको धीमा कर रही है। 

आज डीन जिस diet को फॉलो करते हैं उसमें भोजन का सबसे ज्यादा भाग फल (Fruits) होता है, इसके अलावा दही, सब्जियां, ठंडे पानी की मछली होता है। उनकी डाइट में मीट बहुत कम होता है वो भी Organic और बहुत कम पकाया हुआ। 

सुबह वो खूब सारा दही (योगर्ट) खाते हैं जिसमें फल जैसे केला और ड्राइ फ्रूटस मिले होते हैं। डिनर में काफी मात्रा में सलाद (जैसे ऐवकाडो, चुकंदर, अदरक, हल्दी, आलिव ऑइल से बना सलाद), उबली हुई शकरकंद, सब्जियां और थोड़ा सा मछली या माँस होता है। इसके अलावा दिन भर में जब भी भूख लगती है तो डीन फल खाना पसंद करते हैं। 

पढ़ें > देखिए चीता और रेसिंग कार की दौड़ में कौन जीता ?

Dean Karnazes की सुपरमैन पॉवर का कारण :

जब हम कोई मेहनत का कार्य करते हैं तो शरीर ग्लूकोज को एनर्जी में बदलकर हमें ऊर्जा देती है. इस प्रक्रिया में लैक्टिक एसिड भी बनता है, जिसके मांसपेशियों में इकठ्ठा होने से धीरे-धीरे जकड़न और थकान महसूस होने लगती है. डीन कर्नाज़ेस के शरीर में लैक्टिक एसिड को क्लीन करने की असाधारण क्षमता है जो उनके शरीर के खास जीन और कड़ी ट्रेनिंग की वजह से पैदा हुए हैं.

कई अन्य खिलाड़ी भी हैं जिन्होंने ऐसी अनोखी क्षमता का परिचय दिया है, पर डीन इस लिस्ट मे सबसे ऊपर आते हैं. डीन मानते हैं कि –

  1. उनके शरीर का लो-बॉडी फैट
  2. पसीना कम आना
  3. किसी प्रकार का नशा न करना
  4. पोषक तत्वों से युक्त High alkaline diet खाने से उनकी क्षमता में इतना इजाफ़ा हुआ है.

डीन आज भी हर रोज सुबह नाश्ते से पहले करीब एक Marathon Running जितना दौड़ने का अभ्यास करते हैं. दौड़ने से पहले डीन बस एक कप Flaxseed Milk से बनी कॉफी पीते हैं। 

 Dean Karnazes ने रनिंग और हेल्दी ईटिंग विषय पर कई पुस्तकें लिखी हैं. डीन ने Good Health Natural Foods नामक कंपनी भी ओपन की है. Dean Karnazes अपनी पत्नी जूली और दो बच्चो के साथ अमेरिका के कैलिफोर्निया शहर में रहते हैं. 

इस अद्भुत Runner की जानकारी को दोस्तों के साथ व्हाट्सप्प, फ़ेसबुक पर शेयर जरूर करें जिससे कई लोग ये लेख पढ़ सकें.

ये भी पढ़िए :