केले के बेहतरीन 41 फायदे, उपयोग और खासियतें

By | 17/09/2015

केले के फायदे, केले में पोषक तत्व, केले से बिमारियों का बचाव और स्वास्थ्य :

केले में ट्राईप्टोफान एमिनो एसिड होता है जो कि सेरेटोंनिन नामक हार्मोन उत्पन्न करता है जिसकी वजह से मूड अच्छा होता है और साथ ही साथ तनाव (Stress) भी दूर होता है .

केला में पोटैशियम भरपूर पाया जाता है जोकि रक्त-संचार ठीक रखता है जिससे ब्लड-प्रेशर ठीक रहता है.

केला विटामिन B6 का एक बढ़िया स्रोत है जोकि नर्वस सिस्टम को सबल बनाता है, इसके अतिरिक्त याददाश्त और दिमाग तेज करता है.

हड्डी मजबूत बनाना होतो केला प्रतिदिन खाइए ,केले में खास प्रोबायोटिक बैक्टीरिया होता है जिसका कार्य होता है आपके खाने से कैल्शियम को सोखना और हड्डियों को मजबूत करना.

केले का प्रोबायोटिक बैक्टीरिया पाचन भी ठीक करता है, डायरिया में ये खास फायदेमंद है, केले में पाए जाने वाला पेसटिन तत्व कब्ज को दूर रखता है.

अपनी रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए केला का सेवन अवश्य करें, इसमें पाए जाने वाला कैरोटिनॉएड एंटीओक्सिडेंट रोगप्रतिरोधक क्षमता का विकास करता है और आपको संक्रमण से बचाता है.

केला पोषक तत्वों का खजाना है, केले में थाईमिन, रिबोफ्लेविन, नियासिन, फोलिक एसिड, विटामिन A, B, B6, आयरन, कैल्शियम, मैगनिशियम, पोटैशियम जैसे तत्व पाए जाते हैं.

पके केले खाने के फायदे

मैग्निशियम की वजह से केला जल्दी पच जाता है और मेटोबोलिस्म (उपापचय) को दुरुस्त रखता है, कोलेस्ट्रोल कम करता है.

केला ब्लड-शुगर लेवल को नियंत्रित रखता है .

केला पेट के अल्सर के लिए बहुत राहत देता है, यह पेट में मोटी रक्षक म्युकस लेयर बनाता है जोकि घाव को ठीक करने में सहायक होती है, साथ ही प्रोटीज तत्व पेट में पाए जाने वाले अल्सरकारक बैक्टीरिया से मुक्ति दिलाता है.

केले में आसानी से रक्त में मिलने वाला आयरन तत्व होता है, केला खाने से खून में हीमोग्लोबिन बढ़ता है इसलिए एनीमिया (रक्ताल्पता) के रोगियों को केला अवश्य खाना चाहिए.

केला सभी प्रसिद्ध खिलाडियों का प्रिय भोजन रहा है, दो केला आपको 90 मिनट तक उर्जावान रखता है. अगर आपने गौर किया होगा तो टीवी पर जरुर देखा होगा कि खिलाडी ब्रेक में केला जरुर खाते है, इसका एक कारण यह भी है कि केला शरीर को धीरे धीरे उर्जा देता रहता है और उर्जा-स्तर को बनाये रखता है.

दुनिया में केले की 300 से भी ज्यादा किस्मे है, केले की लम्बाई 4 इंच से 15 इंच तक पाई जाती है.

ज्यादा केला खाने से अपच हो गयी होतो इलायची खाएं, आराम मिलेगा.

केले पर पड़ने वाले भूरे दाग का मतलब होता है कि केले का स्टार्च पूर्णतः प्राकृतिक शर्करा में बदल चुका है, ऐसा केला आसानी से पचता है.

केले का पेड़

केला एसिडिटी दूर करता है और पाचन प्रक्रिया ठीक रखता है.

केला जठराग्नि बढाता है साथ ही आमाशय, आंतो की सूजन दूर करने में भी केला लाभप्रद माना जाता है.

शराब ज्यादा पीने की वजह से हुए हैंगओवर को ठीक करने के लिए केला-शेक पियें.

दिल को मजबूत रखना होतो, 2 केला शहद मिला कर खाएं.

वजन बढ़ाने के लिए केला खास असरकारक होता है इसलिए केला, दूध, शहद और चुटकी भर इलायची पाउडर मिलाकर प्रतिदिन सुबह केला-शेक पियें या केला खाकर ऊपर से दूध पियें.

बच्चों को केला अवश्य खिलाएं क्योंकि यह पोषक तत्वों, विटामिन, खनिज तत्वों का खजाना है जिसकी बढ़ते बच्चों को खास आवश्यकता होती है .

बवासीर के उपचार के लिए केले के बीच में चीरा लगा के एक चने के बराबर देसी कपूर रख कर केला खा लें, लाभ होगा.

केला मधुर, पाचक, वीर्यवर्धक, मांस की वृद्धि करने वाला, भूख-प्यास शांत करने वाला होता है.

खाने के बाद प्रतिदिन केला खाने से मांसपेशियां मजबूत होती है, पाचन सुगम होता है.

केला शरीर में हर प्रकार की सूजन को दूर करता है.

जले हुए स्थान पर केला मसल कर लगायें, जलन शांत होगी.

चोट से खून बहना न रुके तो केले के डंठल का रस लगायें.

पित्त शांत करने के लिए पका केला देशी घी के साथ खाएं.

मुंह में छाले के उपचार के लिए गाय के दूध की दही के साथ केला सेवन करें.

कच्चा केला मसल कर उसमे दूध मिलाकर चेहरे पर लगायें, चंमक और निखार आयेगा.

2 केला दही के साथ खाने से पेचिश, दस्त में आराम मिलता है.

शारीरिक श्रम करने वालो को केला सेवन मांशपेशियों की जकड़न से बचाता है.

केला किडनी के कैंसर से रक्षा करता है.

परीक्षा से पहले केला खाना अच्छा होता है क्योंकि इसमें पाए जाने वाला पोटैशियम दिमाग को चुस्त और अलर्ट रखता है.

केले की खेती करीब 8000 ईसा पूर्व से होती चली आ रही है, यह माना जाता है कि संभवतः अफ्रीका का पापुआ न्यू गिनिया केला का जन्मस्थल है.

चित्तीदार केला

भारत केला की खेती में अग्रणी देश है, भारत दुनिया का करीब 23% केला उत्पादन करता है, यहाँ साल भर में करीब 14.2 मिलियन टन केला की पैदावार होती है. महाराष्ट्र भारत में सर्वाधिक केला पैदा करता है.

रूखी त्वचा के लिए पका केला मसल कर चेहरे पर लगायें, 20-25 मिनट लगे रखने दें फिर हलके गर्म पानी से धो लें, चेहरा मुलायम, स्निग्ध हो जायेगा.

फटी एड़ियों के उपचार के लिए केले का गूदा एड़ियों पर 10 मिनट लगे रखने दें फिर धो लें.

ड्राई आँखों की समस्या में केले का सेवन अवश्य करें, यह सोडियम का स्तर सामान्य करता है और कोशिकाओं में द्रव प्रवाहित करता है.

कील, मुहांसों की समस्या से निजात पाने के लिए एक केला को मसल कर, शहद, नींबू रस मिलाकर चेहरे पर लगायें, लाभ होगा.

मुलायम, चमकदार बाल चाहियें हो तो केला में अवोकेडो या कोको पाउडर, नारियल का दूध मिलाकर बालों में 15 मिनट लगे रहने दें.

3 thoughts on “केले के बेहतरीन 41 फायदे, उपयोग और खासियतें

  1. Pingback: मच्छर काटने से होने वाली जलन व खुजली के 10 घरेलू उपचार

  2. Pingback: अपने लीवर (Liver) को सुरक्षित रखने के लिए अपनाएं ये 5 उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *