ये 9 पौधे कम देखभाल में भी बढ़िया चलते हैं | Less water plants

Less Water & maintenance plants – कम देखभाल वाले 9 पौधे :

9 ऐसे पौधों के बारे में जानें जो कम देखभाल, कम पानी में भी बढ़िया चल जाते हैं. और हाँ इससे आप जल-संरक्षण में भी योगदान दे रहे हैं. आपको Plants लगाना अच्छा लगता है. हरे-भरे पौधे लगे हों घर-बगीचे में, पर इतना टाइम नहीं मिलता कि उनकी बराबर केयर कर सकें. कईयों बार पानी देना भूल जाते हैं. नतीजा बड़े शौक से लाये और लगाये गए पौधे भी मुरझा के खत्म हो जाते हैं.

घर में ये पौधे लगायें

फोटो स्रोत : स्नेक प्लांट

1. स्नेक प्लांट (Snake Plant) : घर के अन्दर गमले में या बाहर बगीचे में, आप कहीं भी ये पौधा लगा सकते हैं. स्नेक प्लांट को धूप कम मिले कोई बात नहीं, पानी डालना भूल गए कोई बात नहीं जी. एक ख़ास बात और NASA द्वारा की गयी एक स्टडी के अनुसार स्नेक प्लांट घर के अंदर लगाने से यह हवा को स्वच्छ करने में भी सहायक है.

यह भी पढ़ें : अपने घरों में ये 5 पौधे लगाये और घर की हवा को शुद्ध बनायें

Grow Tillandsia plant india

स्रोत : टिलैंडसिया या एयर प्लांट

2. टिलैंडसिया (Tillandsias) या एयर प्लांट : दिखने में अलग तरह ये पौधे मिटटी की बजाय हवा से पोषक तत्व और नमी लेते हैं. आप इन्हें लटकने वाले गमलों में भी लगा सकते हैं. पानी देने की बजाय टिलैंडसिया में पानी स्प्रे किया करें. ये पौधे अगर एक हफ्ते में 30 मिनट के लिए भीगे रहते हैं तो भी ये बढ़िया चलेंगे.

Adenium or Desert rose plant india

अडेनियम

3. अडेनियम (Adenium) या डेजर्ट रोज़ : गहरे गुलाबी रंग के खूबसूरत फूलों वाला यह पौधा भी आपके घर की सुन्दरता बढ़ाएगा. गर्म इलाकों का यह पौधा कम पानी और कम धूप में आराम से चल जाता है. पर ठंडे इलाकों में अडेनियम जीवित नहीं रहता है. इस पौधे के कुछ हिस्से विषाक्त होते हैं अतः बच्चो और पालतू जानवरों को इससे दूर रखें.

Ponytail palm plant in india

 पोनीटेल प्लांट – Ponytail palm

4. पोनीटेल पाम (Ponytail Palm) : पोनीटेल चोटी से निकले बालों जैसे या कहें फव्वारे सा लगने वाला यह पौधा खुली जगह में लगाने पर 6 फीट तक ऊँचा बढ़ सकता है. समय के साथ इस पौधे की जड़ एक Bulb के आकार में बढती जाती है, अतः इसे लगाने के लिए कोई बड़ा गमला लें या जमीन में लगायें. इसे हफ्ते में एक दो बार गर्मियों में और जाड़ों के महीने में एक बार पानी की जरुरत पड़ती है.

बिगोनिया का पौधा

बिगोनिया

5. बेगोनिया (Begonia) : गर्मियों और वसंत ऋतु का यह पौधा कई रंगों और प्रकार के फूलो वाला पाया जाता है. पानी डालने के बाद दुबारा एकदम मिटटी सूख जाने के बाद ही इसे पानी की आवश्यकता होती है. इसे ठंडी के मौसम में पानी की आवश्यकता और भी कम हो जाती है.

Chinese Evergreen plant

फोटो स्रोत : चाईनीज़ एवरग्रीन

6. चाईनीज़ एवरग्रीन (Chinese Evergreen) : हरे-सफ़ेद रंग के अलग-अलग शेड्स में पाए जाने वाला यह पौधा भी कम मेंटेनेंस डिमांड करता है. हल्की फुलकी धूप से इसका काम चल जाता है. पानी की जरूरत भी तभी पड़ती है जब मिटटी सूखी दिखे आपको.

Money Plant or Devil's ivy India

फोटो स्रोत : मनी प्लांट

7. Devil’s ivy या मनी प्लांट : हरे-सफ़ेद और कुछ पीले रंग में दिल के आकार के पत्तों वाला यह पौधा तेजी से बढ़ता है. इसे सीधे धूप में रखने की जरुरत भी नहीं. मिटटी थोडा सूख जाने पर ही पानी डालें.  

aloe vera me pani ki jarurat

एलोवेरा या घृतकुमारी

8. (Aloe vera) अलोवेरा या घृतकुमारी : थोड़ा-मोड़ा कटने-छिलने-जलने पर एलोवेरा जेल लगाना बहुत सही उपाय है. गर्म मौसम और जगहों के लिए सर्वथा उपयुक्त इस पौधे को ज्यादा केयर की जरुरत नहीं. खुली जगह पर रखिये और कभी कभार पानी डाल दीजिये बस.

jade plant india

फोटो स्रोत: जेड प्लांट

9. जेड प्लांट (Jade Plant) : जेड प्लांट को Lucky Plant या Money Tree भी कहा जाता है. इस पौधे में हरे रंग की मोटी पत्तियां जिनके किनारे कुछ लाल रंग के होते हैं. पूरी तरह से विकसित हो जाने पर इसमें सफ़ेद रंग के फूल खिलते हैं. जेड प्लांट को खुली जगह पर रखें या लगाये जहाँ धूप आती हो. पानी तभी डाले जब मिटटी की सतह सूखी लगने लगे. बस इसे और कोई सेवा की जरुरत नहीं. कम पानी की आवश्यकता वाले और कम देखभाल वाले ये 9 पौधे आजकल की व्यस्त Lifestyle के लिए एकदम सही है.

– लेख अच्छा लगा तो Share और Forward अवश्य करें, जिससे अन्य लोग भी ये जानकारी पढ़ सकें –

यह भी पढ़ें :

पोर्टुलाका का पौधा लगायें इन गर्मियों में

घर में धनिया कैसे उगायें, मुफ्त की धनिया की कहानी | Dhaniya Kaise Ugayen

स की खेती कैसे करें ? खस की आसान खेती से लाखों कमायें

नागा कटारू : गूगल के पूर्व इंजीनियर जो अब खेती करते हैं और कमाते हैं करोड़ों

ये 5 पौधे घर में लगायें, घर की हवा को शुद्ध बनायें | 5 Air cleaning plants for homes

खस क्या होता है, खस के फायदे | Vetiver benefits, Khas ke fayde