सफेद आक का पौधा किस दिशा में लगायें, कैसे लगायें

सफेद आक (मदार) का पौधा घर में लगाना बहुत शुभ माना जाता है। सफेद आक को सफेद आकड़ा, अकौआ, मदार भी कहा जाता है। सफेद आक का पौधा लगाने की दिशा, दिन और तरीका की जानकारी इस लेख में पढिए। आक के पौधे 2 तरह के होते हैं। 1) सफेद फूल वाला 2) हल्के बैगनी रंग के फूल वाला।

सफेद आक (आकड़े) का पौधा कैसे लगायें, किस दिशा में, किस दिन लगायें और कहाँ लगायें – Calotropis gigantea or Milkweeds in hindi

  • आक का पौधा घर के अग्नि कोण की दिशा (दक्षिण पूर्व के बीच), दक्षिण या उत्तर दिशा में भी लगाया जा सकता है।
  • घर में सफेद आक का पौधा मुख्य गेट के पास या सामने लगाना चाहिए या फिर घर के बाहर गेट के पास रख सकते हैं।
  • घर से बाहर आक का पौधा ऐसे लगाएं कि जब आप घर से निकलें तो आक का पौधा आपके दाहिने तरफ (right side) होना चाहिए।
  • आक का पौधा किसी शुभ दिन जैसे दिवाली, धनतेरस, होली, नवरात्र आदि के दिन लगाना चाहिए या आक के पौधे को गुरु पुष्य नक्षत्र (गुरुवार के दिन पुष्य नक्षत्र), रवि पुष्य नक्षत्र (रविवार के दिन पुष्य नक्षत्र), अमृत योग, सर्वार्थ सिद्धि योग के दिन लगा सकते हैं।
safed madar ka paudha aur phool
मदार (सफेद आक या आकड़ा) का पौधा  | मदार (आक) के फूल

आक (मदार) का पौधा लगाने के फायदे – Aak plant benefits in hindi

  • आक का पौधा लगाने से घर में लक्ष्मी आती है और घर को बुरी नजर नहीं लगती।
  • आक के पौधे में फल आता है जिससे रुई जैसे रेशे निकलते हैं। आक की रुई से बत्ती बनाकर शिव मंदिर में देसी घी का दिया जलाने से शिव जी प्रसन्न होते हैं।
  • आक की रुई का दिया जलाकर लक्ष्मी मंत्र साधना करने से धन प्राप्ति होती है।
  • आक के पौधे में भगवान गणेश जी का वास माना जाता है। आक के पुराने पौधे की जड़ से गणेश जी की मूर्ति बनाकर पूजा करने से गणेश जी की कृपा प्राप्त होती है।

आक का पौधा बहुत से रोगों के इलाज, आयुर्वेदिक उपचार, देसी इलाज में प्रयोग किया जाता है। इस पौधे के तने या डाल को तोड़ने पर सफेद दूध सा (Latex) निकलता है जोकि कुछ विषाक्त (Poisonous) होता है इसलिए इसका रोग के इलाज में प्रयोग करने में सावधानी बरतें। आक का पौधा (Calotropis gigantea) पेट की समस्याएं जैसे डायरिया, पेट का अल्सर, कब्ज, दांत के दर्द, ऐंठन, जोड़ों का दर्द, जकड़न, फोड़े, सूजन, फीवर, गाउट आदि रोगों में करते हैं।

पढ़ें> घर में ये 15 शुभ पौधे लगाने से लक्ष्मी आती हैं

आक का पौधा लगाने का तरीका और देखभाल कैसे करे – 

आक का पौधा लगाना आसान है क्योंकि यह बहुत ही मजबूत पौधा है। यह रूखे मौसम, कम पानी, कठोर वातावरण को भी झेल लेता है। आक का पौधा बीज बोकर या कटिंग (कलम) लगाकर तैयार किया जा सकता है।

आक के बीज से पौधा तैयार करना –

आक के पुराने पौधों पर अर्धचंद्राकार (गुझिया जैसे) आकार के 2.5-4 इंच लंबे हरे रंग के फल निकलते हैं। इस फल के अंदर सफेद रुई और रेशेदार बीज (Milkweed seeds) होते हैं। इन बीज को बोकर आक का पौधा उगाया जा सकता है। इसके लिए मिट्टी में 20% गोबर खाद, 30% बालू या कोकोपीट, बाकी 50% साधारण मिट्टी होनी चाहिए।

aak plant in hindi
सफेद आक के फूल  | आक के बीज  | आक का फल

गर्मी का मौसम आक का पौधा लगाने के लिए सही है। बीज को 5-6 घंटे पानी में भिगोकर रख दें। इसके बाद 1.5-2 इंच गहरे गड्ढे में डालकर मिट्टी से हल्के से ढक दें और पानी डाल दें। 7-10 दिन में आक का बीज अंकुरित होकर मिट्टी से बाहर निकल आएगा। 1 दिन छोड़कर गमले में थोड़ा पानी डालते रहें। जब तक ये पौधा 6-7 इंच का न हो जाए, इसे छाँव में रखें उसके बाद धूप में रख सकते हैं।

पढ़ें> गिलोय की लता कैसे लगाये व गिलोय के फायदे

आक के पौधे की कटिंग लेकर नया पौधा लगाना –

आक (आकड़ा) के पौधा से करीब 1 फुट (30 सेन्टीमीटर) लंबी कटिंग काटें। आक की कटिंग में 2-3 से ज्यादा पत्ती न हों। कटिंग से निकलने वाले दूध को बह जाने दें। जब दूध निकलना बंद हो जाए तो इसके कटे सिरे को किसी खाद या एप्सम साल्ट के घोल में डाल दें। 10 मिनट बाद आक की कलम निकालकर मिट्टी में करीब 4 इंच दबाकर लगा दें और पानी डाल दें। इसे किसी छाँव वाली जगह रखें और थोड़ा पानी रोज देते रहें। करीब 10 दिन में इस कलम से नई पत्तियां निकलने लगेंगी।

धूप – आक या मदार का पौधा खुली धूप में अच्छे से बढ़ता है, इसलिए इसे ऐसी जगह रखें जहां सीधी धूप आती हो।

पानी – एक बार बढ़ जाने के बाद आक के पौधे को बहुत ज्यादा पानी की जरूरत नहीं होती है, गर्मी के मौसम में हफ्ते में 2-3 बार और जाड़ों में सप्ताह में 1 बार पानी दें।

आक के पौधे के फायदे, लगाने का तरीके के बारे में जानकारी से जुड़े अपने सवाल, कमेन्ट नीचे लिखें। इस लेख को अपने मित्र, परिचितों के साथ शेयर जरूर करें जिससे कि अन्य लोग भी इस जानकारी का लाभ ले सकें।

ये भी पढ़ें –

अश्वगंधा का पौधा लगाने का तरीका व अश्वगंधा के फायदे 

स्नेक प्लांट का पौधा कैसे लगाएं और गजब फायदे 

हरसिंगार फूल का पौधा (पारिजात) कैसे लगायें, कहाँ लगायें

पोर्टूलाका के सुंदर फूल का पौधा कैसे लगाये

sources :

https://www.webmd.com/vitamins/ai/ingredientmono-797/calotropis

https://findanyanswer.com/how-do-you-grow-calotropis-gigantea-from-seed

ये लेख दोस्तों को Share करे

शब्दबीज संपादक पिछले 5 वर्षों से हिन्दी में विभिन्न विषयों पर अच्छे लेखों का प्रकाशन कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि सही जानकारी, अनुसंधान और गुणवत्ता पूर्ण लेख से हमारे पाठकों का ज्ञानवर्धन हो।

Leave a Comment