मनी प्लांट के 8 प्रकार जो भारत में मिलते हैं | Types of Money Plant in Hindi

भारत में मनी प्लांट के 8 प्रकार की वैरायटी पाई जाती है। मनी प्लांट की कुछ वैरायटी तो देखने में इतनी अनोखी है कि आप विश्वास नहीं करेंगे कि यह मनी प्लांट का पौधा हो सकता है। मनीप्लांट का असली नाम Pothos होता है और ये इसी नाम से दुनिया भर में जाना जाता है। मनी प्लांट का Scientific नाम Epipremnum Aureum होता है। इस पोस्ट में हम आपको मनी प्लांट की वैरायटीज की पहचान, जानकारी बताएंगे।

नोट : बहुत से लोग Split Leaf Monstera और Swiss Cheese Plant को भी मनी प्लांट की एक वैरायटी बताते हैं या मान लेते हैं। ये दोनों पौधे Monstera कुल से हैं जबकि मनी प्लांट के पौधे Pothos कुल के पौधे होते हैं।

1) गोल्डन मनी प्लांट – Golden Pothos Money Plant

ये मनी प्लांट की सबसे कॉमन वैरायटी है जोकि बहुत ज्यादा दिखती है। इसकी खूबसूरत हरे रंग की पत्तियों में पीले-सफेद रंग के छींटे, पैटर्न बने दिखते हैं। यह मनी प्लांट गमले और पानी की बोतल, पॉट, जमीन में लगाए जा सकते हैं। मनी प्लांट की ये किस्म काफी मजबूत होती है, अगर इसे संतुलित (Balanced) पानी और रोशनी मिलती रहे तो यह पौधा जल्दी मरता या खराब नहीं होता है।

जहां जमीन की कमी हो वहाँ इसे लटकने वाले गमले में भी लगाया जा सकता हैं जैसेकि बालकनी, पोर्च, खिड़की के बाहर, घर के अंदर का आँगन आदि। अगर आप गोल्डन पोथोस मनी प्लांट वैरायटी में बड़े पत्ते और अच्छी ग्रोथ चाहते हैं तो इसे गमले में मॉस स्टिक के साथ लगाएं। इसके पौधे में समय-समय पर छँटाई करने से घना लुक व चौड़ी पत्तियां आती हैं।

2) मार्बल क्वीन मनी प्लांट – Marble Queen Money Plant

इस प्रकार के मनी प्लांट की पत्तियों के रंग में सफेद-क्रीम कलर की अधिकता होती है और हरा रंग बहुत कम होता है जोकि छींटों के पैटर्न में होता है। मार्बल क्वीन मनी प्लांट को नियमित धूप की रोशनी की आवश्यकता होती है जिससे कि इसका सुंदर रंग, पैटर्न बना रहे। इसे ऐसी जगह रखें जहां से करीब 4-6 घंटे की धूप वाली रोशनी इसको जरूर मिले।

3) मार्बल प्रिंस मनी प्लांट – Marble Prince Money Plant

मार्बल प्रिंस और मार्बल क्वीन मनी प्लांट देखने में एक जैसे लग सकते हैं लेकिन आप इसमें अंतर समझ सकते हैं। मार्बल प्रिंस मनी प्लांट की पत्तियों का रंग हरा होता है लेकिन पत्तियों के किनारों पर सफेद-क्रीम कलर का पैच होता है, मार्बल क्वीन जैसे पूरे पत्ते में छींटे नहीं होते हैं। यह पौधा घर के अंदर यानि इनडोर लगाने के लिए भी अच्छा है। मार्बल प्रिंस मनी प्लांट की सफेद-हरी रंग की पत्तियों का Contrast लुक बहुत अच्छा लगता है और आपके ड्रॉइंग रूम की शोभा बढ़ाता है।

पढ़ें> शानदार अरेका पाम प्लांट कैसे लगाए, फायदे, केयर टिप्स

4) लेमन लाइम या निऑन मनी प्लांट – Neon Money Plant

निऑन मनी प्लांट की पत्तियाँ पीले-धानी रंग के चमकदार शेड (Bright) में होती हैं। इसकी नई पत्तियों में Neon Glow ज्यादा चटक होता है और पुरानी पत्तियों में हरा रंग ज्यादा दिखता है। अगर ये पौधा ऐसी जगह रखा हो जहां रोशनी कम हो, धूप भी न आती हो तो इसका निऑन कलर जाने लगता है और हरा रंग डार्क होने लगता है।

इसका सही कलर बनाए रखने के लिए इनडायरेक्ट धूप, रोशनी जरूरी है। यह मनी प्लांट लटकने वाले गमले यानि हैंगिंग बास्केट में, ऑफिस टेबल, कॉर्नर टेबल पर रखने से अच्छा लुक देता है। इसकी पत्तियां बहुत बड़े साइज़ की नहीं होती हैं इसलिए छोटी जगहों, कमरों, बालकनी में लगाने के लिए भी सही हैं।

5) सिल्वर मनी प्लांट – Silver Money Plant or Satin Pothos

इस प्रकार के मनी प्लांट की पत्तियाँ छूने में मखमल (Velvet) जैसी मुलायम होती हैं, इसलिए इसको Satin Pothos भी कहते हैं। इसके पत्तियों का रंग डार्क ग्रीन होता है जिसमें सिल्वर-सफेद रंग के स्पॉट (छींटे), पैच बने होते हैं। सीधी धूप में सिल्वर मनी प्लांट की पत्तियाँ झुलस जाती हैं, इसका ध्यान रखें और छाँव, इनडोर में ही रखें। सिल्वर मनी प्लांट हैंगिंग बास्केट में लगाने पर सबसे अच्छा लुक देते हैं। सिल्वर मनी प्लांट का बोटैनिकल नाम Scindapsus Pictus है।

6) ग्रीन हार्ट लीफ या जेड पोथोस मनी प्लांट – Jade Pothos

जेड मनी प्लांट की पत्तियाँ हार्ट शेप की, चिकनी (Glossy), मोटी, डार्क हरे रंग में और बिना किसी अन्य रंग के पैच वाली होती हैं। जेड मनी प्लांट घर की हवा भी शुद्ध करता है। यह घर के अंदर (Indoor) और बाहर दोनों जगह लगाई जा सकती हैं लेकिन सीधी धूप पत्तियों पर न पड़े।

पढ़ें> ये 25 पौधे घर की हवा साफ करके ऑक्सीजन फैलाते हैं

जेड मनी प्लांट को बहुत देखभाल (Care) की जरूरत भी नहीं होती और यह थोड़ा बहुत पानी की कमी भी बर्दाश्त कर लेता है। जब तक इस गमले की मिट्टी छूने में सूखी न लगे तब तक पानी न डालें। हफ्ते में 1-2 बार से ज्यादा पानी न डालें। इसे अपने घर के किसी भी कमरे में खिड़की के पास, बालकनी पर रखें। ये पौधा करीब 6 फुट की हाइट तक बढ़ सकता है।

7) मंजुला मनी प्लांट – Manjula Pothos Money Plant

ये एक भारतीय मनी प्लांट वैरायटी है जोकि आप इसके नाम से ही समझ गए होंगे। मंजुला मनी प्लांट को एक भारतीय Hansoti ने बनाया है। मंजुला मनी प्लांट की पत्ती में हल्के या डार्क ग्रीन और सफेद-क्रीम कलर के पैच बने होते हैं। इस मनी प्लांट की पत्तियाँ हार्ट आकार की होती हैं लेकिन देखने में पत्ते गोलाकार लगते हैं।

इसकी पत्तियां उभरी हुई और किनारे मुड़े हुए होते हैं, अन्य प्रकार के मनी प्लांट जैसी सपाट (Flat) नहीं होती हैं। सही रोशनी और छाँव इसका खूबसूरत रंग, पैटर्न बनाए रखने के लिए जरूरी है। इसे ग्रोथ करने के लिए तेज रोशनी की जरूरत होती हैं लेकिन सीधी धूप नही चाहिए। इसके गमले में हल्की नमी बनी रहनी चाहिए लेकिन ज्यादा पानी नहीं भरना है, इसलिए नियमित रूप से थोड़ा पानी देते रहें।

8) हवाईयन पोथोस मनी प्लांट – Hawaiian Pothos

इस प्रजाति के मनी प्लांट के पत्ते सबसे बड़े होते हैं, जिसकी पत्ती का साइज 6 इंच से 1-1.5 फुट तक हो सकता है। इसकी पत्तियों में Golden Pothos जैसे पीले-क्रीम कलर के स्पॉट बने होते हैं, इसलिए कई लोग इसको गोल्डन पोथोस का पुराना पौधा ही समझ लेते हैं लेकिन हवाईयन पोथोस एक अलग किस्म है।

इसके पौधे ज्यादातर किसी पेड़ का सहारा देकर जमीन में या मॉस स्टिक के सपोर्ट से बड़े गमलों में लगाए जाते हैं। Hawaiian Pothos घर में लगाने पर एकदम ट्रापिकल फॉरेस्ट वाला लुक बनाता है जोकि बहुत शानदार लगता है। अगर इसकी ऊपर की बढ़त को छँटाई करते रहे तो इसके तने से नई-नई पत्तियां निकलती जाती हैं जिससे यह हवाईयन मनी प्लांट घना होता जाता है।

मनी प्लांट की देखभाल से जुड़ी 16 सावधानियाँ – Money Plant or Pothos Care tips in hindi

1) इस बात का ध्यान रखें कि मनी प्लांट की सभी किस्म तेज और सीधी धूप की बजाय थोड़ी छाया, कॉर्नर में सही ग्रोथ करते हैं। आप मनी प्लांट इनडोर भी रख सकते हैं लेकिन इसे जहां भी रखें वहाँ रोशनी जरूर आती हो, बिल्कुल अंधेरा न रहे।

2) मनी प्लांट का पौधा कटिंग से लगाया जाता है। वैसे तो मनी प्लांट की कटिंग साल भर में कभी भी लगाया जा सकता है लेकिन बरसात का मौसम मनी प्लांट में सबसे ज्यादा ग्रोथ का मौसम है इसलिए अगर आप बारिश के सीजन में लगाएं तो बेस्ट है।

3) मनी प्लांट की पुरानी ब्रांच से कटिंग (कलम) लेनी चाहिए, खासकर अगर उसमें अगर नोड के पास से जड़ निकल रही हैं तो ऐसी कटिंग लगाने पर जल्दी बढ़ती है।

4) अगर पानी में मनी प्लांट कटिंग लगा रहे हैं तो 3-4 दिन में पानी जरूर बदल दें, नहीं तो जड़ें गल कर खराब होने लगेंगी।

5) गमले में मनी प्लांट लगाने के लिए 1/3 मिट्टी, 1/3 रेत, 1/3 वर्मी काम्पोस्ट या गोबर की खाद मिक्स करके मनी प्लांट के लिए पॉटिंग मिक्स्चर तैयार करें।

6) जरूरत से ज्यादा पानी देना यानि ओवरवाटरिंग मनी प्लांट का सबसे बड़ा दुश्मन है। अगर ऐसा होने लगे तो ऐसे मनी प्लांट को जड़ सहित गमले से निकालकर, सड़ी-गली जड़ों को अलग करके दूसरे गमले में नया पॉटिंग मिक्स्चर बनाकर उसमें लगा दें।

7) गमले में एक्स्ट्रा पानी नीचे से निकलने का छेद जरूर होना चाहिए, मिट्टी में पानी रुकने से जड़ें खराब होने लगती है जिससे पत्तियां सूखने, खराब होने लगती हैं।

8) अगर मॉस स्टिक का सहारा देकर मनी प्लांट लगाया है तो पौधे को पानी देते समय मॉस स्टिक को भी जरूर गीला करें। इससे मॉस स्टिक के अंदर भी मनी प्लांट की जड़ें फैलने लगती हैं और पौधे में स्वस्थ, बड़ी पत्तियां आने लगती हैं।

9) अगर हैंगिंग बास्केट में मनी प्लांट लगाएं तो पॉटिंग मिक्स्चर में 1/2 मिट्टी, 1/3 गोबर खाद या वर्मी काम्पोस्ट, 1/3 कोकोपीट मिलाकर बनाएं। कोकोपीट मिक्स करने से हैंगिंग बास्केट का वजन भारी नहीं होता और गमले में नमी भी बनी रहती हैं।

10) अगर मनी प्लांट में मिलीबग्स या स्पाइडर माइट्स लग जाएं तो 10 दिन में एक बार 1 लीटर पानी में 5ml नीम का तेल मिक्स करके पौधे पर स्प्रे करें।

पढ़ें> नीम की खाद डालने के फायदे, कब, कितना डालें

11) मनी प्लांट की पत्तियों पर ब्राउन स्पॉट फंगस लगने की वजह से होता है, इसे ठीक करने के लिए इस बात का ध्यान रखे कि गमले की मिट्टी पोरस हो जिससे पानी न रुके। इसके लिए गमले की मिट्टी में बालू या कोकोपीट मिक्स करें और ब्राउन स्पॉट वाली पत्तियों को तोड़कर दूर फेंक दें।

12) गरम मौसम में मनी प्लांट पर पानी का स्प्रे करें, जिससे पत्तियां न मुरझाए।

13) मनी प्लांट के पौधे में घना लुक लाने के लिए समय-समय पर मनी प्लांट में कटिंग (छँटाई) करें। इससे पौधे में साइड ब्रांच निकलती हैं और पौधा घना होने लगता हैं।

14) कुछ-कुछ दिनों पर मनी प्लांट के गमले को अपनी जगह पर थोड़ा गोल घुमाते रहना चाहिए, जिससे पौधे को हर तरफ से रोशनी मिले और एक बराबर ग्रोथ हो।

15) मनी प्लांट को छाँव वाली रोशनीदार जगह पर रखना चाहिए। छाँव से रखने से इसकी मिट्टी जल्दी नहीं सूखती, तो इसलिए इसमें पानी तभी दें, जब मिट्टी छूने में सूखी (Dry) लगे।

16) खाद देने से मनी प्लांट में अच्छी ग्रोथ होती रहती हैं। इसलिए 2 महीने में 1 बार 1-2 मुट्ठी गोबर की खाद इसके गमले में डालें और ऊपर की मिट्टी खोदकर ढीली कर दें, जिससे खाद अच्छे से मिक्स हो जाए। आप चाहें तो Biozyme Fertilizer या Seaweed Extract granules भी डाल सकते हैं।

अगर आप मनी प्लांट से जुड़ा कोई सवाल पूंछना चाहते हो या अपने विचार लिखना चाहते हैं तो नीचे कमेन्ट करें। ये पोस्ट अपने बागवानी प्रेमी मित्र, परिचितों के साथ जरूर व्हाट्सप्प शेयर, फॉरवर्ड करें, जिससे उनकी मदद हो सके।

ये भी पढ़ें :

source : https://gardenforindoor.com/golden-pothos-vs-hawaiian-pothos/, https://en.wikipedia.org/wiki/Pothos_(plant)

ये लेख दोस्तों को Share करे

शब्दबीज संपादक पिछले 5 वर्षों से हिन्दी में विभिन्न विषयों पर अच्छे लेखों का प्रकाशन कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि सही जानकारी, अनुसंधान और गुणवत्ता पूर्ण लेख से हमारे पाठकों का ज्ञानवर्धन हो।

Leave a Comment