बालों व चेहरे के लिए मुलेठी पाउडर के फायदे व उपयोग कैसे करें | Mulethi Powder in hindi

इस लेख में आप मुलेठी की जड़ के पाउडर का उपयोग और फायदे की जानकारी पढ़ेंगे। हजारों सालों से भारत और दुनिया भर में मुलेठी की जड़ का चूर्ण बहुत से रोगों के सफल इलाज, दवाएं बनाने में उपयोग किया जाता रहा है। मुलेठी को संस्कृत में यष्टिमधु कहते हैं। इंग्लिश में मुलेठी को Licorice कहते हैं।

मुलेठी पाउडर के फायदे – Licorice Powder benefits in hindi

सर्दी-जुकाम में मुलेठी की जड़ के फायदे के बारे में आपने जरूर सुना होगा कि यह सर्दी-जुकाम, कफ, खाँसी से राहत देता है। इसके अलावा मुलेठी पाउडर स्किन और बालों पर भी बहुत अच्छा असर डालता है। मुलेठी पाचन ठीक करने, वजन कम करने, एक्ज़िमा, पेप्टिक अल्सर और सांस की समस्याओं में भी लाभदायक है।

स्किन पर मुलेठी पाउडर के फायदे व कैसे लगायें – Mulethi Powder for face in hindi

मुलेठी पाउडर या मुलेठी चूर्ण चेहरे में चमक लाता है और स्किन का कॉम्प्लेक्शन साफ करके निखार देता है। इसके एंटीऑक्सीडेंट त्वचा की कोशिकाओं को होने वाले नुकसान (Cells damage) को कम करता है और यह चेहरे की स्किन भी टाइट करता है।

मुलेठी पाउडर स्किन पर बढ़ती उम्र के असर कम करता है और चेहरे में जवानी का ग्लो बनाए रखता है। किसी भी एंटी-ऐजिंग फेस पैक में मुलेठी पाउडर जरूर मिलायें।

मुलेठी चूर्ण के उपयोग से स्किन से तेल का अधिक निकलना कंट्रोल होता है। स्किन पर एक्स्ट्रा ऑयल की वजह से ऐक्ने, पिम्पल हो जाते हैं, मुलेठी पाउडर लगाने से यह रुकता है। धूप की वजह से डार्क स्किन और प्रदूषण की वजह से होने वाले स्किन डैमेज को मुलेठी चूर्ण (Licorice powder) ठीक करता है।

मुलेठी पाउडर उपयोग
मुलेठी पाउडर या मुलेठी चूर्ण के लाभ

मुलेठी का चूर्ण चेहरे पर पिम्पल के निशान, डार्क स्पॉट, डार्क सर्कल, Pigmented skin ठीक करता है, जिससे चेहरे में अच्छा Tone आता है। चेहरे के निशान कम करने वाली कई Creams में मुलेठी अर्क (Licorice extract) मिलाया जाता है।

1) इसके लिए मुलेठी का यह फेस पैक लगायें। कटोरी में 1 चम्मच मुलेठी पाउडर, 1/2 चम्मच चंदन पाउडर, 1/2 चम्मच शहद, 2 चम्मच दही को मिक्स करके पेस्ट बनायें। इसे फेस मास्क को पूरे चेहरे और गले पर लगायें। सूख जाने पर ठंडे पानी से धो लें। हफ्ते में 2 बार ये उपाय करें, फायदा होगा।

2) मुलेठी चूर्ण और एलोवेरा जेल का फेस मास्क लगाने से स्किन मॉइस्चराइज होती है और रंग भी गोरा, साफ होता है। इसके लिए 1 चम्मच एलोवेरा जेल और 1 चम्मच मुलेठी पाउडर मिलाकर पेस्ट बनायें और चेहरे पर लगायें। 30 मिनट लगा रहने दें, फिर धो लें।

3) मुलेठी पाउडर का फेस पैक बनाने का एक और तरीका है। 2 चम्मच मुलेठी पाउडर + 1 चम्मच शहद + 1 छोटा चम्मच नींबू रस + 1 छोटा चम्मच गुलाबजल को कटोरी में डालकर अच्छे से मिक्स करके पेस्ट बनायें। इसे चेहरे पर बराबर लगाकर 25-30 मिनट लगा रहने दें, फिर ठंडे पानी से धो डालें।

पढ़ें> नीम की पत्ती का पाउडर लगाने के फायदे व कैसे लगाए 

मुलेठी पाउडर के फायदे बालों पर व कैसे लगायें – Mulethi powder for Hairs in hindi

बालों की ग्रोथ के लिए मुलेठी पाउडर फायदेमंद है। इसे लगाने से सिर की त्वचा (स्कैल्प) को नया जीवन मिलता है जिससे स्वस्थ, चिकने बाल निकलते हैं। मुलेठी पाउडर सर की स्किन में ड्राइनेस कम करके डैंड्रफ ठीक करता है।

मुलेठी पाउडर के एंटी-बैक्टीरियल गुण बालों की गंदगी, धूल-मिट्टी, प्रदूषण के असर को साफ करता है। यह डैमेज बालों को ठीक करता है और उनकी कन्डिशनिंग करता है। इससे बालों का पतला और कमजोर होना रुकता है।

बालों के लिए मुलेठी पाउडर कैसे उपयोग करें –

1) इस उपाय से बालों का गिरना रुकता है और बालों को बढ़ने की शक्ति मिलती है। मुलेठी पाउडर को हल्के गरम पानी में मिलाकर पेस्ट बनायें। 15-20 मिनट बाद यह पेस्ट सिर की स्किन से लेकर पूरे बालों में लगायें। कम से कम 45 मिनट बाद या सूखने तक यह पेस्ट बालों में लगा रहने दें फिर सामान्य पानी से धो दें।

2) यह उपाय बालों में बढ़िया स्मूथनेस और अच्छी चमक लाता है। 1 कप दही में 2 चम्मच मुलेठी पाउडर और ऑलिव ऑयल अच्छे से मिक्स कीजिए। इस पेस्ट को अच्छी तरह सिर की स्किन (scalp) और बालों में लगाइए। 45 मिनट बाद सॉफ्ट शैम्पू से बाल धो लीजिए। यह उपाय हफ्ते में 2-3 बार करने से अच्छा असर दिखता है।

पढ़ें> बालों में गुड़हल पाउडर लगाने के फायदे व कैसे लगायें 

सर्दी-जुकाम, गले की दिक्कत में मुलेठी पाउडर के फायदे और कैसे उपयोग करें –

मुलेठी के एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल गुण असरदार हैं। मुलेठी गले की खराश, इन्फेक्शन, ठंड लगने की वजह से गले की दिक्कत में बहुत असरदार है। हमदर्द की सुआलीन टैबलेट में मुलेठी मुख्य सामग्री है जोकि गले की समस्याओं जैसे Sore throat, Cough, Bronchitis में आराम देता है।

1) इन समस्याओं में मुलेठी की चाय फायदा करती है। इस बनाने के लिए मुलेठी चूर्ण या मुलेठी की जड़ को कूट कर पानी में 10 मिनट उबालें, फिर छानकर 1 चम्मच शहद मिलाकर पियें। यह एसिडिटी का भी बढ़िया इलाज है।

2) आप सर्दी-जुकाम के काढ़े में भी मुलेठी चूर्ण मिलाकर इसका लाभ उठा सकते हैं। इसके लिए 1 ग्लास पानी में 1 टुकड़ा अदरक घिसकर, 4-5 काली मिर्च कूटकर, गिलोय का टुकड़ा या 1 छोटा चम्मच गिलोय चूर्ण, 1 छोटा चम्मच मुलेठी चूर्ण मिलाकर या मुलेठी जड़ कूटकर मिलायें। इस पानी को 10-12 मिनट उबालें, फिर छानकर शहद मिलाकर पियें।

नोट – प्रेगनेंट और दूध पिलाने वाली माताओं को मुलेठी सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा कुछ अन्य लोगों को भी मुलेठी के अधिक उपयोग से बचना चाहिए। हाई बीपी, किड्नी प्रॉब्लम, हार्ट रोग, लिवर की बीमारी में मुलेठी का उपयोग डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए।

ये भी पढ़ें >

इस आसान जापानी फेसपैक से खूबसूरती बढ़ाएं

इंडिगो पाउडर से बाल नेचुरल तरीके से काले करने का तरीका 

आंवला पाउडर खाने व लगाने के फायदे

सहजन की पत्ती का पाउडर बहुत फायदेमंद है, जानें लाभ

10 आसान स्किन की देखभाल करने के घरेलू तरीके

source :
https://www.byrdie.com/licorice-extract-for-skin-4777063
https://www.healthline.com/nutrition/licorice-root
https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4629407/

ये लेख दोस्तों को Share करे

शब्दबीज संपादक पिछले 5 वर्षों से हिन्दी में विभिन्न विषयों पर अच्छे लेखों का प्रकाशन कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि सही जानकारी, अनुसंधान और गुणवत्ता पूर्ण लेख से हमारे पाठकों का ज्ञानवर्धन हो।

Leave a Comment