श्रीकांत जिचकर भारत में सबसे ज्यादा डिग्री जिसके पास थी

श्रीकांत जिचकर ने सबसे ज्यादा डिग्री हासिल करने और भारत का सबसे पढ़ा लिखा आदमी होने का रिकॉर्ड बनाया हैविश्वास करना मुश्किल है कि किसी का पढ़ाई में इतना मन भी लग सकता है। शौक के लिए पढ़ने वाले तो बहुत हैं लेकिन पढ़कर परीक्षा देना, डिग्री हासिल करना वो भी अच्छे नंबरों से, वाकई कमाल है। 

श्रीकांत जिचकर का नाम लिमका बुक ऑफ रिकार्डस में भारत के सबसे योग्य व्यक्ति के रूप में दर्ज है। श्रीकांत जिचकर जी ने जीवन भर सिर्फ पढ़ाई ही नहीं की। वे गजब के प्रतिभाशाली और क्रिएटिव इंसान भी थे, जिन्होंने जीवन के हर क्षेत्र में अपनी योग्यता के झंडे गाड़े। 

श्रीकांत जिचकर डिग्री लिस्ट | Sabse Jyada Educated Person in india

श्रीकांत जिचकर जी का जन्म 14 सितंबर 1954 को नागपुर, महाराष्ट्र में हुआ था। मात्र 50 वर्ष की अल्पायु में डॉ श्रीकांत का निधन 2004 में नागपुर में एक Car accident में हुआ। डॉ श्रीकांत जिचकर हमारे बीच में तो नहीं हैं, लेकिन उनके बनाये हुए रिकॉर्ड को शायद ही कोई कभी चुनौती दे पाए। 

1) डॉ श्रीकांत जिचकर ने 42 से अधिक यूनिवर्सिटी एग्जाम देकर 20 से ज्यादा डिग्रीयाँ अर्जित की। श्रीकांत जिचकर ने ज्यादातर डिग्री प्रथम श्रेणी (First division) से पास की और 28 गोल्ड मैडल भी जीते। 

2) सन 1972 से 1990 के बीच में उन्होंने हर साल गर्मी में और ठंडी में कुल मिलाकर 42 यूनिवर्सिटी परीक्षाएँ दीं

3) श्रीकांत जिचकर ने अपने करियर की शुरुआत एक डॉक्टर के रूप में की। इसके लिए उन्होंने MBBS, MD की डिग्री हासिल की

4) इसके बाद उन्होंने कानून की पढाई के लिए LL.B., पोस्ट ग्रेजुएशन इन इंटरनेशनल लॉ LL.M. की डिग्री ली। 

India's most educated person Shrikant Jichkar

5) श्रीकांत जिचकर ने इन 10 विषयों में मास्टर्स की डिग्री हासिल की। 

  1. M.A. (लोक प्रशासन) 
  2. M.A. (मनोविज्ञान) 
  3. M.A. (अर्थशास्त्र)
  4. M.A. (संस्कृत)
  5. M.A. (इतिहास)
  6. M.A.(इंग्लिश साहित्य)
  7. M.A. (दर्शनशास्त्र)
  8. M.A. (राजनीति शास्त्र) 
  9. M.A. (प्राचीन भारतीय इतिहास, संस्कृति और पुरातत्व)
  10. M.A. (नागरिक शास्त्र)

6) मास्टर्स इन बिज़नस एडमिनिस्ट्रेशन DBM, MBA की डिग्री ली। 

7) पत्रकारिता के क्षेत्र में B. Journ की डिग्री ली। 

8) संस्कृत में D. Litt (डॉक्टर ऑफ़ लिटरेचर) प्राप्त की। 

श्रीकांत जिचकर की कहानी, बायोग्राफी | Shrikant Jichkar in hindi

9) डॉ श्रीकांत जिचकर ने 1978 में सिविल सर्विसेज परीक्षा दी, जिसमें उन्हें IPS (इंडियन पुलिस सर्विस) विभाग मिला लेकिन उन्होंने IPS ज्वाइन नहीं किया। 

10) 1980 फिर से सिविल सर्विसेज परीक्षा दी. इस बार उन्हें IAS (इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज) मिला

पढ़ें> काम्पिटिशन एग्जाम की तैयारी का नंबर 1 यूट्यूब चैनल ‘अनअकेडमी’ के बारे मे जानें

11) डॉ जिचकर IAS की नौकरी में भी ज्यादा दिन नहीं टिके और मात्र 4 महीने बाद ही उन्होंने इस पद से इस्तीफ़ा देकर चुनाव लड़ने का फैसला किया। 

12) सन 1980 में Dr. Shrikant Jichkar ने महज 25 साल की उम्र में MLA बनकर सबसे कम उम्र में MLA बनने का रिकॉर्ड बनायाआगे चलकर डॉ. जिचकर गवर्नमेंट मिनिस्टर भी बने। 

13) मंत्री के रूप में एक समय डॉ जिचकर 14 से अधिक विभागों का काम देखते थे। इस प्रकार डॉ श्रीकांत का राजनीतिक सफर भी शानदार रहा। 

Dr. shrikant jichkar most qualified person in india
source: डॉ श्रीकांत जिचकर : बाएं से तीसरे

14) डॉ श्रीकांत को पढने का बहुत शौक था। उनके पास 52,000 से अधिक किताबों की पर्सनल लाइब्रेरी थी। डॉ श्रीकांत को गीता, उपनिषद, वेद-पुराण आदि ग्रन्थों का भी गहरा ज्ञान था। 

15) ऐसा नहीं हैं कि डॉ जिचकर सिर्फ एक किताबी कीड़ा ही थे। बहुमुखी प्रतिभा के धनी डॉ. जिचकर एक पेंटर, प्रोफेशनल फ़ोटोग्राफर, स्टेज एक्टर, शिक्षाविद भी थे

इतने ज्ञानी और प्रतिभावान व्यक्ति होने के बावजूद भी भारत के सबसे ज्यादा एजुकेटेड आदमी डॉ श्रीकांत जिचकर ने India को ही अपनी कर्मभूमि बनाई और देशवासियों की सेवा करने का फैसला किया, ये हम सबके लिए बहुत गर्व की बात है। 

श्रीकांत जिचकर जी जैसे अद्भुत इंसान के बारे में इस जानकारी को दोस्तों के साथ व्हाट्सप्प, फ़ेसबुक पर शेयर जरूर करें जिससे कई अन्य लोग भी ये लेख पढ़ सकें।

ये आर्टिकल दोस्तों को भेजें