पोमोडोरो तकनीक : पढाई में मन लगाने, कार्य क्षमता बढ़ाने की तकनीक | Pomodoro Technique in hindi

पोमोडोरो तकनीक Pomodoro Technique

क्या आपको टालमटोल करने की आदत है ? क्या आप पढाई के लिए देर तक नहीं बैठ पाते ? क्या आप किसी काम पर लबे समय तक कार्य नहीं कर पाते ?. अगर इन सवाल का जवाब हाँ है तो यह पोमोडोरो तकनीक आपके लिए रामबाण साबित होगी. यह वैज्ञानिक तकनीक आपकी कार्यक्षमता बढ़ाएगी. इससे आपका दिमाग बिना थके देर तक कार्य करने में सक्षम होगा.

Learn pomodoro technique

Pomodoro technique एक टाइम मैनेजमेंट ट्रिक है जिसकी खोज 80 के दशक में Francesco Cirillo ने की थी. इस तकनीक में कार्य अवधि को छोटे छोटे अन्तराल में बाँट दिया जाता है. पोमोडोरो तकनीक को एक उदाहरण से समझते हैं.

– मान लीजिये आप इसे पढाई के क्षेत्र में प्रयोग करना चाहते हैं तो सबसे पहले एक लक्ष्य निर्धारित करिए. जैसे कि आपको किसी विषय के 4 चैप्टर तैयार करने हैं. तो 25 मिनट लगातार पढने बैठ जाइये, 25 मिनट बाद 3-5 मिनट का ब्रेक लीजिये.

– 25 मिनट के पढाई और 3-5 मिनट के एक सेशन को 1 पोमोडोरो कहा जाता है. इसी प्रकार लगातार 3-4 पोमोडोरो पूरे कीजिये. 3 अथवा 4 पोमोडोरो पूरा करने के बाद एक लम्बा ब्रेक (15 से 30 मिनट) लीजिये. इसके बाद फिर से पोमोडोरो शुरू कीजिये. आजकल बहुत से पोमोडोरो तकनीक एंड्राइड एप्प भी आते हैं, जिससे इसे आसानी से प्रयोग किया जा सकता है.

पोमोडोरो तकनीक कैसे काम करती है ?

हमारे दिमाग को किसी कार्य पर लगातार केन्द्रित करने की एक लिमिट होती है. ज्यादातर लोग 20-30 मिनट से अधिक मन को फोकस नहीं रख पाते. इसलिए यह 25 मिनट के अन्तराल को प्रयोग करती है.

– पोमोडोरो तकनीक प्रयोग करते समय आप जानते हैं कि थोड़ी देर बाद आपको ब्रेक मिलेगा. अवचेतन मष्तिष्क (subconscious mind) में आगामी ब्रेक का विचार होने से दिमाग में डोपामाइन हार्मोन रिलीज़ होता है, जिससे ध्यान कम भटकता है.

Pomodoro timer app

image source : slideshare

पोमोडोरो तकनीक से दिमाग तरोताजा बना रहता है और कार्य पर फोकस करने में आसानी होती है. इससे टालमटोल की प्रवृत्ति दूर होती है, अनुशासन पूर्वक कार्यपालन आसन हो जाता है और लक्ष्यपूर्ति की सम्भवना बढ़ जाती है. आप इसे 2-3 दिन प्रयोग करके देखें, फर्क आप खुद महसूस करेंगे.

रोमन सैनी भारत में सबसे कम उम्र में IAS ऑफिसर बनने वाले व्यक्ति हैं. दो साल तक जबलपुर के असिस्टेंट कलेक्टर के पद पर कार्य करने के बाद, रोमन सैनी जॉब रिजाइन करके UPSC exams की तैयारी के लिए Unacademy नामक यूट्यूब चैनल (540,000 से अधिक सब्सक्राइबर) और वेबसाइट चलाते हैं. रोमन सैनी पोमोडोरो तकनीक के फैन हैं.

ये भी पढ़ें : Unacademy : UPSC, SSC, Banking exams की तैयारी का यूट्यूब चैनल, वेबसाइट जरूर देखें

रोमन सैनी अपने वीडियोज में अक्सर उल्लेख करते हैं कि उन्हें अपनी पढाई के समय पोमोडोरो तकनीक से काफी फायदा मिला. तो देर किस बात की, आप भी Pomodoro technique प्रयोग करके अपनी प्रोडक्टिविटी बढ़ाएं.

– लेख अच्छा लगा तो शेयर और फॉरवर्ड अवश्य करें, जिससे अन्य लोग भी ये जानकारी पढ़ सकें.

यह भी पढ़ें :

ध्यान कैसे करें ? सही तरीका, फायदे और महत्व | How to meditate

ध्यान में विचलित मन को कैसे केन्द्रित में करें ?

Mobile Apps बनाइए और करोड़ो कमाइये, 3 successful apps के सफलता की कहानी

Be My Eyes app से नेत्रहीन व्यक्ति भी देख सकते हैं | Be My Eyes app for Blinds

सेल्फ-हेल्प पुस्तकें क्यों पढनी चाहिए ?