सिंगोनियम का पौधा कैसे लगाये, देखभाल और फायदे

आइए जानते हैं कि गमले में सिंगोनियम का पौधा कैसे लगाये और इसके फायदे क्या हैं। सिंगोनियम एक सुंदर डेकोरेटिव प्लांट है जोकि लोग अपने घर में लगाना बहुत पसंद करते हैं। इसकी सुंदर पत्तियाँ बहुत अच्छा लुक देती हैं। 

सिंगोनियम का पौधा और फायदे – Syngonium plant in hindi

सिंगोनियम घर में लगाने के लिए एक अच्छा इनडोर प्लांट है। सिंगोनियम को Arrowhead plant, Goosefoot plant भी कहा जाता है। Nasa ने सिंगोनियम का पौधा घर में लगाने की सलाह दी है क्योंकि ये घर की हवा शुद्ध (Air purify) करता है और हवा में फैले विषैले केमिकल अंश को कम करता है। यह एक easy care plant है यानि देखभाल बहुत कम लगती है।

इन्हे धूप की बहुत जरूरत नहीं इसलिए इस पौधे को घर में कहीं भी रखा जा सकता है। सिंगोनियम की कई प्रजातियाँ (Syngonium varieties) होती हैं जिनकी पत्तियाँ अलग-अलग पैटर्न और रंगों में होती हैं। इसकी एक लोकप्रिय प्रजाति Syngonium Pink की पत्तियों में Pink (गुलाबी) रंग के शेड होते हैं जो बहुत सुंदर लगते हैं। 

इसे खिड़की, बालकनी, ड्राइंग रूम के कोने, ऑफिस डेस्क पर रख सकते हैं या Hanging (लटकने वाले गमलों) में भी लगा सकते हैं। सिंगोनियम की पत्तियाँ खाने से तबियत खराब हो सकती है इसलिए छोटे बच्चों, पालतू जानवरों से दूर रखें।

धूप – वैसे तो यह पौधा Low light में भी स्वस्थ रहता है लेकिन हल्की धूप या सीधे न पड़ने वाली धूप इस पौधे के लिए बेस्ट है। इसे थोड़ी धूप मिलती रहे तो पौधे में वृद्धि तेज होती है और पत्तियों का रंग, पैटर्न भी ज्यादा अच्छा आता है। दिन भर लगने वाली सीधी धूप से इसकी पत्तियाँ खराब होने लगती हैं। छत या बालकनी में रखना हो तो ध्यान रखें कि इसे छाया भी मिले।

Syngonium plant in hindi
सिंगोनियम का पौधा [फायदे और लगाने का तरीका]
पानी – हफ्ते में 2 बार सिंगोनियम में पानी डालना काफी है। पानी डालने के 2-3 दिन बाद जब गमले की मिट्टी सूख जाए तभी पानी डालें।

खाद – महीने में एक बार पौधे में कोई खाद पानी में मिलाकर डाल सकते हैं। कोई Slow release fertilizer जैसे सीवीड खाद 10 ml लेकर 1 लीटर पानी में मिलाकर डालें।

पढ़ें> घर में धन-समृद्धि लाने वाले 15 पौधे

सिंगोनियम का पौधा लगाने का तरीका – Syngonium plant propagation in hindi

इसके पौधे से कटिंग लेकर नया पौधा तैयार किया जा सकता है। इसके लिए सिंगोनियम के किसी पुराने पौधे से 1 तना नीचे से काट लीजिए, जिसमें 1-2 पत्ती हों और कोई नयी पत्ती भी निकल रही हो। एकदम नई पत्ती न निकली हो तो कुछ पुरानी पत्ती वाला तना भी काट सकते हैं। नोड (Nod) से कुछ सेंटीमीटर नीचे से कटिंग काटें क्योंकि नोड से नई जड़ें निकलती है।

कटिंग को सीधे गमले में लगा सकते हैं या पानी में डालकर भी तैयार कर सकते हैं। गमले में लगाने से पहले कटिंग के सिरे पर कोई रूटिंग हार्मोन लगाकर बोएँ। रूटिंग हार्मोन न हो तो शहद में डुबाकर या 1 कप पानी में 1 छोटा चम्मच सिरका डालकर उसमें कटिंग कुछ देर तक रखें फिर जमीन में लगाएं।

गमले में भरने के लिए 50% मिट्टी + 25% गोबर खाद + 25% बालू या कोकोपीट को मिलाकर भरें। 

आप कटिंग को एक पानी भरे ग्लास/बर्तन में डाल दें, सिंगोनियम की कटिंग से जड़ें 1-2 हफ्ते में निकल आती हैं। हर 2-3 दिन में पानी बदल दें। जब जड़ें निकलने लगे तो इसे फिर गमले या जमीन में लगा सकते हैं।

देखभाल का तरीका – Syngonium plant care in hindi

सिंगोनियम के गमले की मिट्टी 1 साल बाद बदल दें। अगर किसी गमले में सिंगोनियम बड़ा होने के बाद ग्रोथ रुक जाए तो इसका मतलब अब इसे नए गमले में लगाने की जरूरत है। सावधानीपूर्वक गमले से पौधा निकालकर किसी नए बड़े गमले में लगा दें। लगभग हर 2 साल के बाद सिंगोनियम को नए गमले में ट्रांसफ़र करने की जरूरत पड़ सकती है।

कम से कम 15 दिन में 1 बार पत्तियों को पानी से धो दें या पानी स्प्रे कर दें, इससे पत्तियों की मिट्टी निकल जाएगी। सिंगोनियम को बढ़ते समय सहारे की जरूरत पड़ सकती है। इसे Moss stick की मदद से 5-6 फुट ऊंचाई तक बढ़ाया जा सकता है। सही देखभाल से यह पौधा सालों-साल चलता है। अगर सिंगोनियम के पौधे से पत्तियाँ बहुत ज्यादा फैल जाएं तो छँटाई कर सकते हैं जिससे पौधे को सही शेप मिले। छँटाई करने के लिए गर्मी का मौसम सही है।

बीमारियाँ और कीड़े – इस पौधे में कोई रोग या कीट जल्दी नहीं लगते। अगर कभी Spider mites (मकड़ी से दिखने वाले छोटे कीड़े) दिखें तो पौधे को पानी से स्प्रे कर दिया करें। अगर Aphids दिखें तो पत्तियों को साबुन के पानी से धो दें या नीम की खली पानी में भिगोकर स्प्रे करें।

अगर कभी पानी की कमी या किसी अन्य वजह से पौधा कमजोर हो जाए, एकदम मुरझा जाए तो भी पानी और देखभाल से फिर हरा-भर हो जाता है। सिंगोनियम का पौधा जल्दी मरता नहीं है।

सिंगोनियम का पौधा कैसे लगाये (Syngonium plant in hindi) के बारे में जानकारी अपने मित्रों, परिचितों को जरूर शेयर, फॉरवर्ड करें जिससे कि अन्य लोग भी इस लेख को पढ़ सकें।

ये भी पढ़ें>

अश्वगंधा का पौधा कैसे लगाये और अश्वगंधा के फायदे 

हरसिंगार का पौधा कैसे लगाये, किस दिशा में लगाये

ये 10 छायादार पेड़ लगाये जो जल्दी बड़े और घने हो जाते हैं

हवा शुद्ध करने वाले 25 पौधे घर में लगाये 

source : https://www.joyusgarden.com/arrowhead-plant-propagation/

ये लेख दोस्तों को Share करे

शब्दबीज संपादक पिछले 5 वर्षों से हिन्दी में विभिन्न विषयों पर अच्छे लेखों का प्रकाशन कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि सही जानकारी, अनुसंधान और गुणवत्ता पूर्ण लेख से हमारे पाठकों का ज्ञानवर्धन हो।

1 thought on “सिंगोनियम का पौधा कैसे लगाये, देखभाल और फायदे”

Leave a Comment