गरम मसाला सामग्री लिस्ट, बनाने की विधि | Garam Masala ingredients recipe in hindi 

Garam Masala ingredients in hindi भारतीय खाने में Garam Masala को खाने की खुशबु और स्वाद बढ़ाने के लिए डाला जाता है। कुछ खास सूखे, खड़े मसाले पीसकर घर में गरम मसाला पाउडर तैयार किया जा सकता है। सब्जी, करी, सूप आदि बनाने के अंत में गरम मसाला ऊपर से डालकर मिला दिया जाता है। आइए जाने गरम मसाला में क्या क्या होता है।

गर्म मसाला के नाम | साबुत खड़ा गरम मसाला लिस्ट इन हिंदी – Garam Masala ingredients in hindi 

भारत में गर्म मसाला पाउडर की 3 रेसिपी पाई जाती है – 1) कश्मीरी 2) पंजाबी 3) केरलाई. इन तीनों तरीकों में ज्यादातर मसाले Common हैं.

तीनों प्रकार को मिलाकर लगने वाले सभी मसाला का नाम इस प्रकार है – काली मिर्च, बड़ी इलायची, छोटी इलायची, लौंग, दालचीनी, तेजपत्ता, जावित्री, सोंठ, चक्रफूल, जायफल, खड़ा धनिया, जीरा, सौंफ, हींग, कबाबचीनी.

Garm Masale के सबसे सरल, सामान्य रूप में काली मिर्च, छोटी और बड़ी इलायची, तेजपत्ता, लौंग, जायफल, दालचीनी, जीरा, धनिया का मिश्रण होता है.

– अपने स्वाद और पसंद के अनुसार आप बताये गये मसालों की सामग्री, मात्रा और संख्या घटा-बढ़ा भी सकते है.

गरम मसाला सामग्री लिस्ट और मात्रा : Ingredients of Garam Masala in hindi –

खड़ा धनिया   50 ग्राम
जीरा               50 ग्राम
काली मिर्च      25 ग्राम
तेजपत्ता          20 ग्राम
लौंग               20 ग्राम
सौंफ              20 ग्राम
बड़ी इलायची   10 ग्राम
छोटी इलायची  10 ग्राम
दालचीनी          10 ग्राम
सोंठ                   5 ग्राम
जावित्री              5 ग्राम
जायफल     1
चक्रफूल     1-2

इन गरम मसालों को इसी अनुपात में कम या ज्यादा भी किया जा सकता है.

गरम मसाला बनाने की विधि – Garam masala recipe in hindi | Garam Masala in hindi

– ऊपर बताये गए Garam Masala ingredients को एक पैन या कड़ाही में गैस पर 2-3 मिनट गर्म करें. ध्यान दें कि इसमें सोंठ को गर्म नहीं करना है और जायफल को छोटे टुकड़ों में तोड़ कर मिलाया गया हो. तेजपत्ता और दालचीनी को भी हाथ से ही छोटे टुकड़ों में तोड़ दें.

– मसालों का रंग बदलने का इंतजार नहीं करना है. मसाला बस इतना गर्म करना है कि इनकी नमी चली जाये. इसके बाद पैन उतारकर खड़े मसाले एक प्लेट में निकालकर ठंडा होने दें.

– ठंडा हो जाने पर ये मसाले और सोंठ भी मिलाकर मिक्सी में महीन पीस लें. यह मसाला हमेशा शीशे के एयरटाइट जार में भरकर ठंडे स्थान या फ्रिज में रखें.

– बहुत ज्यादा गरम मसाला पीसकर नहीं रखना चाहिए, क्योंकि लम्बे समय तक प्रयोग न हुआ तो इसकी खुशबु घटने लगती है. मसाले की खुशबु उसमें पाए जाने वाले तेलों से आती है.

– अगर डिब्बा ठीक से बंद न हो, उसे गर्म जगह पर रखा जाता हो या मसाला लम्बे समय से रखा हो तो उनके तेल उड़ते जाते हैं, जिससे Garam Masala की खुशबु और स्वाद में कमी आने जाती है.

Garam Masala ingredients in hindi की जानकारी को शेयर और फॉरवर्ड जरुर करें, जिससे अन्य लोग भी ये जानकारी पढ़ सकें। 

काली मिर्च के 12 फायदे, काली मिर्च कैसे खाएं

करी पत्ता के फायदे, उपचार और प्रयोग का तरीका

घर में धनिया कैसे उगायें, मुफ्त की धनिया की कहानी

सेंधा नमक, काला नमक के फायदे और उपचार जानें

खस क्या होता है, खस घास के शर्बत के फायदे

कोल्ड प्रेस्ड ऑयल कैसे बनता है। इसके 8 फायदे

ये लेख दोस्तों को Share करे

शब्दबीज संपादक पिछले 5 वर्षों से हिन्दी में विभिन्न विषयों पर अच्छे लेखों का प्रकाशन कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि सही जानकारी, अनुसंधान और गुणवत्ता पूर्ण लेख से हमारे पाठकों का ज्ञानवर्धन हो।