दुनिया के सबसे अमीर निवेशक वारेन बफेट के दायें हाथ : अजीत जैन (Ajit Jain)

By | 30/06/2016

दुनिया के सबसे अमीर निवेशक वारेन बाफेट (Warren Buffett) के बारे में हम सभी जानते ही है. वारेन बाफेट की मार्केट को समझने की क्षमता मनोविज्ञान, विश्लेषण, धैर्य, सकारात्मक सोच, अनुभव और आत्मविश्वास के मिलने से बनी. वारेन बाफेट की कम्पनी Berkshire Hathaway के सर्वाधिक कमाऊ बिज़नस ‘ इंश्योरंस ’ की मौजूदा कमान एक भारतीय अजीत जैन के हाथ में है, जिन्हें वारेन बाफेट का सबसे विश्वासपात्र माना जाता है.

इस पोस्ट में जानिए कौन हैं ये अजीत जैन (Ajit Jain) और किस प्रकार वो आज इस मुकाम पर पहुचे हैं.

Warren Buffett Ajit Jain Berkshire Hathaway Gen Re

वारेन बफेट और अजित जैन

अजित जैन ने Berkshire Hathaway को करीब 44 बिलियन (2,97,132 करोड़ रूपए ) का फायदा पहुँचाया है जिससे अजीत की व्यावसायिक सफलता का पता चलता है. वारेन बाफेट तो अजीत जैन की प्रतिभा के कायल हैं. एक बार वारेन ने अपने शेयरहोल्डर्स से कहा था – अगर मैं (Warren Buffet) , कंपनी के वाईस चेयरमैन Charile Munger और Ajit Jain डूब रहे हों और आपको किसी एक को बचाना हो तो ‘अजित जैन’ को बचाइयेगा.

खानपान में पूर्णतः शाकाहारी अजित जैन सन 1951 में उड़ीसा में जन्मे और  IIT खड़गपुर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की. इसके बाद सन 1973 से 1976 तक अजीत ने IBM के लिए भारत में सेल्स का काम किया. सन 1976 में जब IBM ने भारत में अपना बिज़नस बंद कर दिया तो अजीत की भी नौकरी जानी ही थी.

अपने एक सीनियर की सलाह पर सन 1978 में अजीत अमेरिका आ गये और प्रसिद्ध Harvard Business School से MBA की डिग्री हासिल की. MBA करने के बाद अजीत ने McKinsey & Co में नौकरी शुरू की. सन 1980 के आस पास अजीत पुनः भारत आये, अपने माता पिता की इच्छानुसार शादी की. अपनी पत्नी की सलाह पर अजीत पुनः अमेरिका वापस आ गये और McKinsey & Co ने भी उनको नौकरी पर रख लिया.

सन 1986 में अजीत के जीवन में एक नया मोड़ आया, जब उनके पूर्व बॉस  Michael Goldberg ने उनके Berkshire Hathaway कम्पनी जॉइन करने का ऑफर दिया. Michael Goldberg सन 1982 से ही McKinsey & Co छोड़कर Berkshire Hathaway में कार्यरत थे.

ये भी पढ़ें   Delhi Auto Expo 2016 में लांच की जाने वाली 9 नयी कारें देखिये

Ajit Jain इनश्योरेन्स बिज़नस से अनभिज्ञ थे, पर उन्होंने Berkshire Hathaway में नौकरी करने का निर्णय लिया. अजीत को क्या पता था कि उनका यह कदम भविष्य में उन्हें सफलता और शोहरत के शीर्ष पर पंहुचा देगा. आज अजीत जैन Berkshire Hathaway के इंश्योरेंस ग्रुप के प्रेसिडेंट हैं.

Ajit Jain wife Tinku Jain

स्रोत : अजीत जैन की पत्नी टिंकू जैन

अजीत जैन ने Berkshire Hathaway के इंश्योरेंस ग्रुप को मार्केट की कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करते हुए उन ऊँचाइयों पर पंहुचा दिया कि आज यह इंश्योरेंस बिज़नस Berkshire Hathaway के लिए सर्वाधिक कमाई करने वाला उद्यम है.

ये भी पढ़ें   भारत की Youtube स्टार ‘निशा मधूलिका’ जी की सफलता की कहानी

स्वयं वारेन बफेट ने भी कहा – अजीत ने Berkshire Hathaway को संभवतः मुझसे भी ज्यादा फायदा पहुँचाया है. मैं वाकई अजीत के लिए एक भाई या बेटे जैसा अपनापन महसूस करता हूँ.

अजीत जैन के नेतृत्व की रिइंश्योरेंस इकाई (Reinsurance),  प्राकृतिक आपदाओं ( तूफ़ान, भूकम्प, बाढ़ आदि ) से प्रॉपर्टी के नुक्सान के प्रति इंश्योरेंस पालिसी देती है.  यह बिज़नस Berkshire Hathaway को सालाना कई मिलियन डॉलर का फायदा देता है.

अजीत जैन का बिज़नस के बारे में विचार कुछ इस प्रकार है – बिज़नस के क्षेत्र में गलत निर्णय लेने की सम्भावना बहुत ज्यादा रहती है. ढेर सारी अच्छी डील करने के बावजूद भी एक गलत डील सब कुछ ले जाती है. जैसे टोकरी में रखा हुआ एक ख़राब सेब बाकियों को भी खराब कर देता है , उसी तरह आपको भी उस खराब डील से बचना चाहिए.

ये भी पढ़ें   क्या खास है ‘Honda NAVI’ हौंडा नावी कि 25,000 से ज्यादा लोग बुकिंग करा चुके हैं

86 साल के हो चुके Warren Buffett कई बार अपने वक्तव्यों में 64 वर्षीय Ajit Jain को अपना सम्भावित उत्तराधिकारी घोषित कर चुके हैं. भारतीय प्रतिभा तो विश्वविख्यात है क्योंकि दुनिया के हर क्षेत्र में भारतीयों ने अपने कौशल का प्रदर्शन किया है और अजीत जैन भी इसी की मिसाल हैं.

Keywords: Ajit jain wife tinku jain, Ajit jain Gen re, Ajit jain Berkshire Hathaway, Ajit Jain quote

One thought on “दुनिया के सबसे अमीर निवेशक वारेन बफेट के दायें हाथ : अजीत जैन (Ajit Jain)

  1. जमशेद आज़मी

    वारेन वफेट के बारे में आपकी पोस्‍ट की माध्‍यम से बहुत कुछ पढ़ने और समझने को मिला। वाकई यह बहुत बड़े निवेशक हैं। अच्‍छी पोस्‍ट उपलब्‍ध कराई आपने।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *