कोल्ड प्रेस्ड ऑयल के 8 फायदे जानकर आप भी इन्हें प्रयोग करेंगे

कोल्ड प्रेस्ड ऑयल क्या होता है, ये कैसे बनाया जाता है

बाज़ार में मिलने वाले ज्यादातर तेल फैक्ट्रीज में उच्च तापमान पर हेवी इक्विपमेंट में रासायनिक प्रक्रियाओं, रिफाइनिंग आदि के द्वारा तैयार किये जाते हैं. इस प्रक्रिया में तेल का तापमान बढने से ज्यादातर प्रोटीन, विटामिन, महक, फ्लेवर आदि नष्ट हो जाते हैं. इसके विपरीत कोल्ड प्रेस्ड ऑयल प्राकृतिक तरीके से तैयार किये गए तेल होते हैं. कोल्ड प्रेस्ड ऑयल बनाने में गिरी, बीजों को पीसकर, घर्षण के द्वारा तेल निकाला जाता है. कोल्ड प्रेस प्रक्रिया में तेल का तापमान थोडा बढ़ता तो है, पर तेल के गुण-धर्म, पोषक तत्व सुरक्षित रहते हैं.

what is cold pressed oil

कोल्ड प्रेस्ड ऑयल के फायदे :

सन 2004 में London’s Imperial College School of Medicine की एक स्टडी में पाया गया कि कोल्ड प्रेस्ड ऑयल में शरीर के लिए उपयोगी एंटीओक्सिडेंट की काफी मात्रा पाई जाती है.

कोल्ड प्रेस्ड ऑयल में ट्रांस फैटी एसिड्स नहीं पाए जाते और यह प्राकृतिक रूप से कोलेस्ट्रॉल फ्री होता है.

कोल्ड प्रेस्ड ऑयल में रासायनिक रूप से तैयार किये गये तेलों की तरह केमिकल अंश, प्रीजरवेटिव भी नहीं होते.

कोल्ड प्रेस्ड ऑयल में तेल का असली स्वाद होता है, इस तेल में बनाये गए भोज्य पदार्थ ज्यादा स्वादिष्ट होते हैं.

बीज की प्राकृतिक खूबियों से लैस कोल्ड प्रेस्ड ऑयल शरीर की त्वचा में अच्छे से समा जाता है और ज्यादा फायदेमंद होता है.

इस तेल की मालिश करना, सर में लगाना स्वास्थ्यकर होता है और शुद्ध खुशबु से मन रिलैक्स होता है. दुनिया भर के अच्छे स्पा, सैलून में कोल्ड प्रेस्ड ऑयल के प्रयोग को प्राथमिकता दी जाती है.

इंडस्ट्रियल तरीकों से तेल तैयार करते समय तापमान बहुत (230 डिग्री सेंटीग्रेड तक ) बढ़ जाता है जोकि तेल के कई गुणों को नष्ट कर देता है. कोल्ड प्रेस्ड ऑयल बनाने की घर्षण विधि में तेल का तापमान 30 डिग्री सेंटीग्रेड तक बढ़ता है, पर तेल की गुणवत्ता बनी रहती है.

इस तेल में विटामिन E और oleic acid भी पाया जाता है जोकि शरीर की रोग प्रतिरोधी क्षमता बढ़ाता है. अगर आप भी कोल्ड प्रेस्ड ऑयल खरीदना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक करें.