देसी घी खाने के 6 फायदे, ये वजन बढ़ाता नहीं कम करता है

Desi Ghee Benefits & fayde in hindi : भारत में हमेशा से ही देसी घी खाना फायदेमंद माना जाता है. आयुर्वेद, गाँव के लोग, पहलवान, बूढ़े-बुजुर्ग देशी घी के गुण गिनाते नहीं थकते थे. फिर भारत में दौर आया यूरोपियन मेडिकल साइंस का. विदेशी डॉक्टर और साइन्टिस्ट ने देसी घी को सिर्फ फैट बताकर इसे खाने के फायदों को सिरे से नकार दिया. ये पढ़-सुनकर स्वास्थ्य और वजन के प्रति सजग कई लोगों ने Desi Ghee से दूरी बना ली.

लेकिन हालिया नई रिसर्च ने बताया है कि हमारे पूर्वज गलत नहीं थे, देशी घी वाकई एक स्वास्थ्यवर्धक भोज्य पदार्थ है. मजे की बात ये है अब विदेशों में घी Clarified Butter या Ghee नाम से खूब बिक रहा है और इसे भोजन बनाने के लिए तेल से अच्छा विकल्प बताया जा रहा है।आइये देशी घी के कुछ खास फायदे जानते हैं :

देशी घी आसानी से पचता है – Desi ghee benefits & uses in hindi :

देशी घी में Butyric acid काफी मात्रा में पाया जाता है। इसके साथ ही देशी घी में आसानी से विघटित होने वाले Saturated fats होते हैं. देशी घी में पाए जाने वाली इन चीजों की वजह से यह वनस्पति घी या किसी तेल की तुलना में आसानी से पच जाता है. 

आयुर्वेद के अनुसार देसी घी पित्त का शमन करता है मतलब उष्ण तत्व (Warm element) को शांत करता है. इसलिए देसी घी कब्ज नहीं करता और शरीर से हानिकारक तत्व (Toxin) बाहर करता है. अच्छी स्किन और तेज दिमाग के लिए देसी घी टॉनिक का काम करता है। 

क दिन में 2 से 4 चम्मच तक घी का सेवन किया जा सकता है। देशी घी Lactose Free होता है, इसलिए Lactose intolerant लोग भी इसे पचा सकते हैं। 

2) घी का सेवन वजन कम करता है – Desi ghee for weight loss in hindi :

देशी घी में Conjugated Linoleic acid खूब होता है. ये चीज शरीर का वजन कम करने में असरकारी होती है. देसी घी में पाए जाने वाला सरल विघटित सैचुरेटेड फैट (Short Chain fatty acids) शरीर के जमे, जिद्दी फैट को घटाने में मदद करता है.

घी का SCFA (Short Chain fatty acids) पेट में प्रीबायोटिक यानि पाचन के लिए अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ाने का काम करता है। घी ओमेगा 3 फैटी ऐसिड्स से भरपूर है इसलिए ये कोलेस्टेरॉल बढ़ाता नहीं बल्कि कम करता है। 

देसी घी मेटाबोलिज्म भी तेज करता है. मेटाबोलिज्म तेज होगा तो आप जो भी खायेंगे, अच्छे से पचेगा और मोटापा भी नही होगा. इसलिए Desi Ghee खाने से डरिये नहीं और संतुलित मात्रा में सेवन करके फायदे पाइए.

3) यह हार्मोन संतुलन करता है – Desi ghee ke fayde in hindi :

देसी घी में विटामिन A, विटामिन K2, विटामिन डी, विटामिन E जैसे पोषक तत्व होते हैं जोकि हार्मोन बनाने और संतुलन के लिए जरुरी हैं. पुरुषों के लिए जरूरी हार्मोन टेस्टोस्टेरॉन हो या स्त्रियों के लिए एस्ट्रोजन हार्मोन, शरीर की जरूरत के हिसाब से हार्मोन का निर्माण करने में घी बहुत सही काम करता है। गर्भवती स्त्री हो या स्तनपान कराने वाली माताएँ देसी घी खाना इनके लिए अच्छा होता है.

Deshi ghee ke fayde hindi me

Desi Ghee ke fayde in hindi

4) Desi Ghee रोग प्रतिरोधकता और हड्डियाँ मजबूत करता है :

देसी घी में Anti-Cancer (एंटीकैंसर), एंटी वायरल गुण होते हैं. बच्चे, बूढ़े या जवान स्त्री-पुरुष सभी के लिए देसी घी का सेवन फायदेमंद है. इसमें पाए जाने वाले विटामिन और पोषक तत्व हड्डियाँ मजबूत बनाते है और Immunity (रोग प्रतिरोधक क्षमता) बढ़ाते हैं.

पुरुषों के लिए देसी घी सेवन वीर्य और स्पर्म काउन्ट बढ़ाने में मदद करता है। देसी घी शरीर की सप्त धातुएँ पुष्ट करके शरीर के ओजस में वृद्धि करता है। मसल्स बनानी है या शरीर के जोड़ों को मजबूत बनाना हो, भोजन में देसी घी डालकर खाना शुरू कर दें। 

5) देशी घी ह्रदय के लिए अच्छा है :

हार्ट की धमनियों में रुकावट होने से दिल की बीमारी होती है. देसी घी में पाए जाने वाला विटमिन K हार्ट के धमनियों की रुकावट से बचाता है.

घी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है और इसमें मिलने वाला Conjugated Lenoleic Acid हार्ट के लिए अच्छा होता है। Desi Ghee शरीर में बुरे कोलेस्ट्रॉल (Bad Cholesterol) घटाता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाकर बैलेंस बनाता है.

पढ़ें> दही खाने और लगाने के 30 फायदे और तरीके 

6) देसी घी जल्दी जलता नहीं इसलिए खाना बनाने के लिए बेस्ट है :

देसी घी का Smoking point 250 degree सेंटीग्रेड से भी ज्यादा होता है जोकि किसी भी तेल से ज्यादा है। इसलिए देसी घी गर्म करने पर जल्दी जलता नहीं.

बाकी अन्य तेल, Artificial Ghee (डालडा घी) गर्म करने पर टूटकर फ्री रेडिकल्स बनाने लगते हैं. फ्री रेडिकल्स एक अस्थायी कण होता है जोकि शरीर की कोशिकाओं को नुकसान पहुँचाता है और कई बीमारियों को जन्म देता है.

क्योंकि भारतीय खाने में तलना (Deep Frying), भूनना होता ही है, इसलिए देशी घी का प्रयोग करना सबसे बेस्ट है.

देशी घी की एक बड़ी खूबी यह है कि ये जल्दी खराब नहीं होता. अगर धूप से बचाकर रखा जाए तो शुद्ध घी सालों साल खराब नहीं होता है। इसे ठंडा करने या रेफ्रीजरेट करने की जरुरत नहीं होती. इसे सामान्य तापमान पर भी स्टोर करके रखा जा सकता है.

भैंस के दूध का घी (Buffalo Ghee) के बजाय गाय के दूध से बना घी (Cow Ghee) बेहतर माना जाता है. बाजार से खरीदे घी की तुलना में घर का बना देसी घी ज्यादा अच्छा होता है.

देसी घी से जुड़ी पुरानी गलत धारणाओं को छोड़कर अपना ज्ञान अपडेट करें, देसी घी आपकी अच्छी सेहत के लिए मित्र समान है। Desi Ghee ke fayde का यह लेख व्हाट्सप्प, फ़ेसबुक पर शेयर और फॉरवर्ड जरुर करें, जिससे आपके दोस्त, परिचित भी देसी घी के बारे में जानकारी पढ़ सकें.