जीभ कटने या जीभ जलने पर ये आसान घरेलू उपाय आजमायें | Tongue bite home remedy

जीभ काटने, जीभ जलने का घरेलू इलाज – Tongue bite home remedy in hindi :

कई बार जीभ दांतों के नीचे आ जाती है, कभी जल्दी में खाना खाते या बात करते हुए खाते समय. इससे जीभ (Tongue) के किनारे कट जाते हैं और तेज पीड़ा होती है. कई बार गर्मागर्म चाय पीने या गर्म खाद्य पदार्थ खाने से मुंह के अंदर का हिस्सा और जीभ जल (Tongue Burn) जाती है.

1) मुंह के अंदर की इन समस्याओं का एक आसान घरेलू उपाय है, चीनी खाइए.

– घाव के इलाज के लिए चीनी का प्रयोग बहुत पुराना है. मिस्र के इतिहास में चीनी से युद्ध के घायल सैनिकों का इलाज किये जाने का वर्णन है. द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान भी चीनी का प्रयोग सैनिकों के घाव ठीक करने के लिए किया गया था.

Jibh katne ke upay

– अगर आपकी जीभ जल गयी (Tongue burn) हो या कट जाये तो करीब ½ चम्मच चीनी मुँह में डाल लें और जले-कटे स्थान पर धीरे धीरे फिराएँ. जब चीनी गल जाये तो निगल सकते हैं.

– मुंह के छालों (Mouth ulcers) को ठीक करने में भी चीनी खाने से फायदा मिलता है. मुंह में चीनी डालने से जीभ कटने से बहता हुआ खून रुकता है और दर्द में भी आराम मिलता है.

– नयी रिसर्च में पता चला है कि बेड सोर, पैर के छाले, एम्प्युटेशन के केस में चीनी के प्रयोग से एंटीबायोटिक्स की तुलना में ज्यादा फायदा हुआ. चीनी हर घर में हमेशा पाई जाती है, पर हम चीनी के इन सरल उपयोग के बारे में नहीं जानते हैं.

पढ़ें > दाढ़ी बनाने के बाद लगायें ये 9 देसी आफ्टरशेव

जीभ कटने के घरेलू उपाय –

2 ) बर्फ का टुकड़ा चूसने से कटी जीभ में राहत मिलती है और खून बहना बंद होता है। 

3) ऐलोवेरा या घृतकुमारी की पत्ती के अंदर का जेल लगाने से जीभ कटने में राहत मिलती है, दर्द कम होता है। ऐलोवेरा जेल घाव भरता है और ये एंटीसेप्टिक, एंटीइंफलेमेटोरी भी होता है। 

4) पानी में 1 चम्मच बेकिंग सोडा डालकर धीरे-धीरे कुल्ला करने से जलन, दर्द से आराम मिलता है। 

5) जीभ कटने पर एक चम्मच ठंडी दही मुंह में डाल लें और 10-15 सेकंड बाद निगल लें। ऐसा 2-3 बार करें, आराम मिलेगा। 

अगली बार जब जीभ कटे (Tongue bite) या जले के दर्द से परेशान हों तो, चीनी खाने का सरल घरेलू उपाय आजमाना न भूलें. खुद प्रयोग करें और दूसरों को भी बताएं.

इस जानकारी को Whatsapp, facebook पर शेयर और फॉरवर्ड जरूर करें जिससे अन्य लोग भी इसे पढ़ सकें.

यह भी पढ़ें :