Camera का मेगापिक्सेल और ज़ूम कितना होना चाहिए | Zoom, Megapixel in hindi

Camera Megapixel in hindi – कैमरा मेगापिक्सेल की जानकारी :

लोग अब ये जानने लगे हैं कि फोटोग्राफी के Camera में ज्यादा मेगापिक्सल (Megapixel) होना बहुत मायने नहीं रखता. कुछ साल पहले तक 8-10 मैगापिक्सल के DSLR कैमरे आते थे.

अब तो इससे कहीं ज्यादा मेगापिक्सेल Mobile Phone कैमरा में मौजूद हैं. मेरी समझ से नॉर्मल इस्तेमाल के लिए 15 से 20 मैगापिक्सल का कैमरा लेना पर्याप्त है. 

ज्यादातर लोगों की पसंद Canon 80D जैसा शानदार DSLR कैमरा भी 24 मेगापिक्सेल ही है, जिसकी कीमत लगभग 72,000 रुपये है। 

इससे अधिक Megapixel का कैमरा लेना तभी उचित होगा अगर आपको अपनी फ़ोटोज़ के खूब बड़े और हाई-क्वालिटी प्रिंट बनवाने हों.

– 2008 में मेरे पास Kodak का 7 मेगापिक्सेल  वाला कैमरा था जिसकी फ़ोटो क्वालिटी बेजोड़ थी. अभी भी बहुत से डीएसएलआर कैमरों के सेंसर 12 से 24 मेगापिक्सेल के होते हैं और उनसे खींचे फ़ोटो शानदार आते हैं.

आजकल नये Point and Shoot कैमरा और मोबाईल 60-80 मेगापिक्सेल तक आने लगे हैं। लेकिन अगर क्वालिटी की बात देखी जाए तो इतने मेगापिक्सेल भी DSLR कैमरा के 24 मेगपिक्सेल के आगे कहीं नहीं टिकते। 

– असल में सारा खेल Lens के साइज़ और कैमरा के अंदर लगे Sensor का है। मोबाईल के लेंस और सेन्सर DSLR कैमरा के लेंस व सेन्सर से काफी छोटे और कमजोर होते हैं। 

– अगर मेगापिक्सेल ज्यादा होगा तो फ़ोटो का साइज भी अधिक होगा। जिसे स्टोर करने के लिए Camera में ज्यादा कैपेसिटी का कार्ड और Computer में ज्यादा स्पेस की ज़रूरत होती है.

कैमरा के ज़ूम की जानकारी – Camera Zoom in hindi :

अक्सर लोग कैमरा के ज़ूम को लेकर Confusion रहते है. डीएसएलआर कैमरों के किट लेंस में बहुत कम ज़ूम (2X से 8X) होता है। इससे ज्यादा ज़ूम के लिए महंगे टेलीफ़ोटो लेंस खरीदने पड़ते हैं.

जबकि पॉइंट-एंट-शूट कैमरों में 50X सुपर-ज़ूम तक के कैमरे मार्केट में मिल रहे हैं. ऐसा क्यों ?

megapixel aur zoom kitna hona chahiye
camera kamegapixel aur zoom kitna hona chahiye

– ये ध्यान में रखिए कि कैमरा चुनते समय ऑप्टिकल ज़ूम (Optical zoom) को ही महत्व दें क्योंकि Optical Zoom कैमरे के लेंस के माध्यम से दूर के दृश्यों को करीब ले आता है और Photo की क्वालिटी कम नहीं होती.

– ज्यादातर कैमरे या मोबाईल के फीचर्स में डिजिटल ज़ूम होना लिखा रहता है। लेकिन डिजिटल ज़ूम (Digital zoom) केवल कैमरे के भीतर फाइल/पिक्सल को बड़ा (मैग्नीफाई) करता है.

– ध्यान दें कि अधिक Zoom पर फ़ोटो लेना आसान नहीं होता और कई परिस्तिथियों में ट्राइपॉड (Tripod) का प्रयोग करना अपरिहार्य हो जाता है.

लेख अच्छा लगा तो Share और Forward अवश्य करें, जिससे अन्य लोग भी ये जानकारी पढ़ सकें.

कोई भी नया कैमरा खरीदने से पहले ये लेख पढ़ें  कौन सा कैमरा मेरे लिए सही होगा ? जानने के लिए पढ़ें ये 9 टिप्स

अगर DSLR कैमरा लेने का मन बना लिया है तो ये खास जानकारी पढ़ें DSLR कैमरा खरीदने से पहले 7 जरूरी बातें जरूर जानें

ये लेख दोस्तों को Share करे

शब्दबीज संपादक पिछले 5 वर्षों से हिन्दी में विभिन्न विषयों पर अच्छे लेखों का प्रकाशन कर रही है। हमारा उद्देश्य है कि सही जानकारी, अनुसंधान और गुणवत्ता पूर्ण लेख से हमारे पाठकों का ज्ञानवर्धन हो।

4 thoughts on “Camera का मेगापिक्सेल और ज़ूम कितना होना चाहिए | Zoom, Megapixel in hindi”

Leave a Comment