रेलवे टिकट कैंसलेशन चार्ज और रिफंड के नियम की पूरी जानकारी पढ़ें

ट्रेन टिकट कैंसिल करवाने के नियम – Railway ticket cancellation rules in hindi :

ट्रेन का टिकट कैंसिल करवाने के नियम की पूरी जानकारी पढ़िए. ध्यान दें कि रेलवे काउंटर से बुक टिकट यानि ऑफलाइन टिकट को किसी रेलवे काउंटर पर ही कैंसिल करवाया जा सकता है. इसी तरह इन्टरनेट से बुक किये गये टिकट यानि ऑनलाइन टिकट को ऑनलाइन तरीके से ही कैंसिल करके रिफंड पाया जा सकता है.

आइये जानते हैं कि तत्काल टिकट, कन्फर्म टिकट, वेटिंग टिकट, RAC टिकट के कैंसिल होने पर कितना रुपया कटता है, कितना रिफंड होता है और इसके IRCTC नियम क्या हैं ?

कन्फर्म रेलवे टिकट कैंसिल और रिफंड नियम – Confirm railway ticket cancellation charge in hindi :

1. अगर एक कन्फर्म ट्रेन टिकट को ट्रेन चलने के समय के 48 घंटे से पहले कैंसिल कर लिया जाता है तो ये कैंसलेशन चार्ज टिकट में प्रति व्यक्ति के हिसाब से काटा जाता है –

  • AC फर्स्ट क्लास के टिकट से 240 रुपया
  • AC सेकंड क्लास से 200 रुपया
  • AC थर्ड क्लास से 180 रुपया
  • स्लीपर क्लास से 120 रुपया
  • सेकंड क्लास के किराये से 60 रुपया काटा जाता है.

2. अगर एक कन्फर्म टिकट को ट्रेन चलने के समय से 48 घंटे से 12 घंटे पहले तक कैंसिल करवाया जाता है तो कन्फर्म टिकट के किराये का 25% काटकर बाकी राशि लौटा दी जाती है.

3. ट्रेन चलने के समय से 4 घंटे पहले लेकिन 12 घंटे के अंदर अगर Confirm ticket कैंसिल करवाया जाता है तो टिकट के किराये का 50% काटकर बाकी धनराशि रिफंड कर दी जाती है.

4. अगर ट्रेन चलने के 4 घंटे पहले तक कन्फर्म टिकट कैंसिल नहीं किया गया या ऑनलाइन TDR फाइल नहीं किया गया तो फिर आपका पूरा किराया काट लिया जायेगा और कोई धनराशि वापस नहीं की जाएगी.

5. अगर इन्टरनेट द्वारा बुक किये गये किसी टिकट में कुछ यात्रियों का टिकट कन्फर्म है और बाकी का RAC या वेटिंग में हो तो ऐसे टिकट को कैंसिल करवाने पर कन्फर्म टिकट वाले किराये से क्लर्केज धनराशि (करीब 60 रूपए) कटकर बाकी लोगों का पूरा किराया लौटा दिया जाता है.

6. ध्यान रखने वाली बात यह है कि टिकट ट्रेन चलने के निर्धारित समय से 30 मिनट पहले ऑनलाइन कैंसिल कर दिया जाये या ऑनलाइन TDR फाइल कर दिया गया हो.

तत्काल रेलवे टिकट कैंसिल चार्ज और रिफंड नियम – Tatkal ticket cancellation refund rules in hindi :

तत्काल कन्फर्म टिकट कैंसिल करवाने पर कोई भी धनराशि रिफंड नहीं की जाएगी. अगर ट्रेन चलने के समय से 3 घंटा से अधिक लेट हो या ट्रेन कैंसिल होने की दशा में TDR फाइल करके रिफंड क्लेम किया जा सकता है.

वेटिंग और RAC टिकट कैंसिल चार्ज और रिफंड नियम – Waiting ticket cancellation rules in hindi :

1. वेटिंग टिकट या RAC टिकट को ट्रेन चलने के 30 मिनट पहले तक कैंसिल करवाने पर किराया रिफंड हो जाता है.

2. इन्टरनेट से बुक हुए टिकट को इन्टरनेट पर ही कैंसिल किया जाता है, अन्य कोई उपाय नहीं है. टिकट कैंसिल करवाने पर कुछ धनराशि (करीब 60 रूपए) काटकर बाकि धनराशि उसी बैंक अकाउंट में वापस कर दी जाती है, जिससे टिकट बुक किया गया था.

3. अगर ट्रेन अपने चलने के समय से 3 घंटा से अधिक लेट आने वाली है और देरी की वजह से आप टिकट Cancel करवाते हैं, तो बिना कोई कैंसलेशन चार्ज काटे पूरा किराया वापस कर दिया जाता है. फिर चाहे टिकट एसी, स्लीपर, कन्फर्म, वेटिंग आदि कुछ भी हो.

ध्यान रखने वाली बात यह है कि ट्रेन चलने के निर्धारित समय से पहले टिकट कैंसिल करवा ली जाये. अगर टिकेट ऑनलाइन बुक किया है तो TDR फाइल करना जरूरी है.

4. अगर रेलवे स्वयं कोई ट्रेन कैंसिल कर देता है तो Internet से बुक टिकट कैंसिल करवाने की आवश्यकता नहीं होती, आटोमेटिक रिफंड से पैसा आपके अकाउंट में वापस आ जायेगा.

5. ट्रेन कैंसिल होने की दशा में रेलवे काउंटर से बुक टिकट को रेलवे काउंटर पर cancel करवाना होगा और पूरा पैसा refund मिल जायेगा. यह टिकट ट्रेन चलने के निर्धारित दिन से 3 दिन बाद तक कैंसिल करवाया जा सकता है. ऑनलाइन बुक टिकट का किराया अपने आप रिफंड हो जायेगा लेकिन काउंटर टिकट का रिफंड काउंटर से लेना होगा.

नोट – टिकट कैंसिल नियम के Official लिंक -> http://contents.irctc.co.in/ और http://www.indianrail.gov.in/

रेलवे टिकट कैंसलेशन चार्ज के नियम की जानकारी Whatsapp, Facebook पर शेयर और फॉरवर्ड जरुर करें, जिससे सभी  लोग ये जानकारी पढ़ सके.

ये भी पढ़ें :