मेडिकल सर्जरी से पहले कुछ भी खाने से मना क्यों किया जाता है, जानिए कारण

By | 27/06/2016

किसी भी मेडिकल ऑपरेशन (Surgery) से पहले मरीज को एक रात पूर्व या सुबह से कुछ भी खाना न खाने की सलाह दी जाती है. अमूमन सर्जरी से 6-12 घंटे पहले से भोजन बंद करने को कहा जाता है. यह निर्देश इसलिए दिया जाता है जिससे कि सर्जरी से पहले मरीज खाली पेट हो. खाली पेट रहना क्यों जरुरी है, आइये इसके कारण जानते हैं

Reason behind fast before operation in Hindi

सर्जरी के समय एनेस्थीसिया (Anesthesia – बेहोश करने वाली दवा) के प्रभाव से शरीर के Reflex system (मुख्य तंत्रिका तंत्र) भी धीमा पड़ जाता है. इसका मतलब है शरीर की बाह्य  और आन्तरिक स्वतः चलने वाली क्रियाएँ धीमी पड़ जाती है.

सर्जरी के समय मरीज को वेंटीलेटर (Ventilator) पर भी इसलिए रखा जाता है चूंकि उसकी स्वतः स्वांस लेने की प्रक्रिया Anesthesia के प्रभाव से धीमी पड़ जाती है. वेंटीलेटर मशीन आपकी सामान्य सांस लेने की प्रक्रिया को चालू रखती है

स्वांस के अतिरिक्त पाचन क्रिया को चालू रखने वाली क्रियाएँ भी धीमी हो जाती हैं और उन पर मस्तिष्क का नियंत्रण भी ढीला पड़ जाता है. जिससे यह सम्भावना हो सकती है कि आपके पेट का भोजन वापस एसोफैगस (भोजन नली) में वापस प्रवेश कर जाये और सांस लेने के मार्ग को अवरुद्ध कर दे या भोज्य पदार्थ फेफड़ों में प्रवेश कर जाये.

खाना खाने के बाद जब भोजन पेट में प्रवेश करता है तो वह पेट में उपस्थित एसिड से क्रिया करके पचता है. अगर यह एसिड युक्त भोज्य पदार्थ वापस भोजन नली से होता हुआ फेफड़ों में घुस जाये तो एसिड तत्व की वजह से फेफड़े जल सकते है या मरीज को निमोनिया (Pneumonia) भी हो सकता है. इसलिए कई बार ऑपरेशन के दिन मरीज को एक Antacid (अम्लतत्वनाशक) दवाई भी दी जाती है.

इसके अलावा अगर सर्जरी Gastrointestinal मतलब पाचन तंत्र से सम्बंधित अंग की है तो यह साफ़ है कि खाया हुआ भोजन ऑपरेशन में समस्या पैदा करेगा और इन्फेक्शन भी हो सकता है. ऐसी स्थिति में सर्जरी कैंसिल भी की जा सकती है.

अतः आपको यह सलाह दी जाती है कि सर्जरी (Surgery) से पहले डॉक्टर द्वारा दिए गए सभी निर्देशों का पालन अवश्य करें. अब आप जान चुके हैं कि इन मामलों में मनमानी करना आपके जीवन के लिए भी समस्या पैदा कर सकता है.

Keywords: Fast before surgery, Fast before operation, Reason behind fast before surgery 

Facebooktwitterredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *