संस्कृत साहित्य के पहले श्लोक की उत्पत्ति महर्षि वाल्मीकि के श्राप से हुई थी

maharshi valmiki shrap ki kahani

संस्कृत के आदिकवि वाल्मीकि ऋषि ने संस्कृत साहित्य के पहले काव्य श्लोक की रचना की थी. संस्कृत साहित्य का यह पहला श्लोक रामायण का भी पहला श्लोक बना. अतः रामायण ही संस्कृत साहित्य का पहला महाकाव्य है. यह एक रोचक तथ्य है कि इस श्लोक में एक श्राप दिया गया है. जानिए इस श्राप की … Read moreसंस्कृत साहित्य के पहले श्लोक की उत्पत्ति महर्षि वाल्मीकि के श्राप से हुई थी

दक्ष प्रजापति भगवान शिव से क्यों चिढ़ते थे : दो कहानियाँ | Daksh Prjapati hate shiva story

why did daksha hate shiva

दक्ष प्रजापति भगवान शिव – पहली कहानी : दक्ष प्रजापति सृष्टि निर्माता भगवान ब्रह्मा के मानस पुत्र थे. राजा दक्ष के दो पुत्र, 84 पुत्रियाँ थी. दक्ष प्रजापति ने पानी 27 कन्याओं का विवाह चंद्रदेव के साथ किया था. इन 27 कन्याओं में रोहिणी सबसे अधिक सुन्दर थीं. चन्द्रमा रोहिणी से सर्वाधिक प्रेम करते थे … Read moreदक्ष प्रजापति भगवान शिव से क्यों चिढ़ते थे : दो कहानियाँ | Daksh Prjapati hate shiva story

युधिष्ठिर ने माँ कुंती को क्या श्राप दिया था | yudhisthira curses kunti story

Yudhishthira Curses Kunti story in hindi

युधिष्ठिर का श्राप : महाभारत की कहानी में कर्ण और कुंती का पुत्र-माँ का सम्बन्ध था, परन्तु इस बात से पांडव और कर्ण अनभिज्ञ थे. कौरव पांडव युद्ध के समय कुंती कर्ण से मिलने जाती हैं और उसे यह बताती हैं कि वो उनका पुत्र है अतः पांडव उसके भाई हैं. कर्ण दुर्योधन से अपनी … Read moreयुधिष्ठिर ने माँ कुंती को क्या श्राप दिया था | yudhisthira curses kunti story

कैकेयी ने राम के लिए 14 वर्ष का वनवास ही क्यों माँगा, 13 या 15 वर्ष क्यों नहीं | Kaikeyi story in hindi

14 varsh ka vanvas ka karan

14 वर्ष का वनवास  ही क्यों : कैकेयी ने अब राजा दशरथ से राम के लिए 14 वर्ष का वनवास माँगा तो इसके पीछे एक प्रशासनिक कारण था. रामायण की कहानी त्रेतायुग के समय की है. उस समय यह नियम था कि अगर कोई राजा 14 वर्ष के लिए अपना सिंहासन छोड़ देता है तो … Read moreकैकेयी ने राम के लिए 14 वर्ष का वनवास ही क्यों माँगा, 13 या 15 वर्ष क्यों नहीं | Kaikeyi story in hindi

जीवन का रहस्य क्या है – एक किसान की मोटिवेशनल कहानी | Jeevan ka Rahasya

Kisan aur ghode ki motivational story

जीवन का रहस्य – एक किसान की कहानी : गाँव में रहने वाले एक किसान का एकमात्र घोड़ा एक दिन भाग खड़ा हुआ. आस-पड़ोस वाले दुःख जताने के लिए उसके पास आये और बोले –तुम्हारी खेती तो गयी, बिना घोड़े के हल कैसे चलाओगे ? ये तो बहुत बुरा हुआ ! किसान बोला – शायद बुरा … Read moreजीवन का रहस्य क्या है – एक किसान की मोटिवेशनल कहानी | Jeevan ka Rahasya

दूसरों को सही-गलत साबित करने में जल्दबाजी न करें – 2 कहानियाँ – Dusron ko sahi galat sabit karne me jaldbaji na kare

Prejudice meaning in hindi Poorvagrah

पहली कहानी : ट्रेन में एक पिता-पुत्र सफर कर रहे थे. 24 वर्षीय पुत्र खिड़की से बाहर देख रहा था, अचानक वो चिल्लाया – पापा देखो पेड़ पीछे की ओर भाग रहे हैं ! पिता कुछ बोला नहीं, बस सुनकर मुस्कुरा दिया. ये देखकर बगल में बैठे एक युवा दम्पति को अजीब लगा और उस … Read moreदूसरों को सही-गलत साबित करने में जल्दबाजी न करें – 2 कहानियाँ – Dusron ko sahi galat sabit karne me jaldbaji na kare

मैं ही क्यों – आर्थर ऐश की प्रेरणादायक कहानी | Main hi kyun Why me Arthur Ashe story

main hi kyon ka uttar

Arthur ashe (आर्थर ऐश ) अमेरिका के टॉप टेनिस प्लेयर थे. अपने करियर के शीर्ष पर वो दुनिया के नंबर 1 टेनिस प्लेयर बने. 3 ग्रैंड स्लैम (विंबलडन, यू.एस. ओपन, ऑस्ट्रलियन ओपन) जीतने वाले एकमात्र अश्वेत खिलाड़ी का रिकॉर्ड भी आर्थर ऐश के ही नाम है. 80के दशक में आर्थर की हार्ट-बाईपास सर्जरी हुई. इस … Read moreमैं ही क्यों – आर्थर ऐश की प्रेरणादायक कहानी | Main hi kyun Why me Arthur Ashe story

हिन्दू शादी के सात फेरे सात वचन का अर्थ | Saat vachan in Hindu marriage in hindi

Shadi ke Saat vachan in Hindi

हिन्दू शादी में सात वचन और सात फेरे का अर्थ क्या है : विवाह में वर-वधु सातों फेरे या पद सात वचनों के साथ लेते हैं. हर फेरे का एक वचन होता है, जिसे पति-पत्नी जीवन भर साथ निभाने का वादा करते हैं. विवाह के बाद कन्या वर के वाम अंग (बांई ओर) में बैठने … Read moreहिन्दू शादी के सात फेरे सात वचन का अर्थ | Saat vachan in Hindu marriage in hindi