प्रोटीन पाउडर, हेल्थ सप्लीमेंट से नुक्सान

आजकल अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग व्यक्ति और शरीर को गठीला बनाने के इच्छुक युवक एक्सरसाइज़ करने के साथ-साथ Protein तथा Nutrition supplement  वाले ड्रिंक लेना पसंद करते हैं. इन ड्रिंक्स के उपयोग के पहले कुछ जानकारियां होना ज़रूरी है. प्रोटीन पाउडर के नुकसान जानिए इस लेख में.

यह ज़रूरी नहीं है कि हैल्थ स्टोर में मिलनेवाली हर चीज़ स्वास्थ्यप्रद हो. किसी भी तरह के प्रोटीन या न्यूट्रीशन सप्लीमेंट लेने के पहले पैक पर लगे लेबल में दी गई सूचनाओं को पढ़ लेना चाहिए. बहुत अच्छे व प्रतिष्ठित brands के पाउडर में भी ऐसे पदार्थ मिले होते हैं जो हानिकारक हो सकते हैं.

Harmful Fitness supplement contents
Bodybuilding / Fitness supplement से जानलेवा नुकसान भी हो सकता है

Protein powder supplement खरीदने या उसका उपयोग करने से पहले उसमें इन तत्वों की मौजूदगी को ध्यान से देखेः

आर्टीफ़ीशियल स्वीटनर्स के नुकसान (Artificial Sweeteners Harms):

सॉर्बीटॉल (Sorbitol) – यह पानी की तरह दिखनेवाला लेकिन तेल जैसा गाढ़ा पदार्थ है जिसे च्यूइंग-गम बनाने में बहुत अधिक इस्तेमाल किया जाता है. यह पाया गया है कि सॉर्बीटॉल के सेवन से पाचन तंत्र पर बुरा प्रभाव पड़ता है.

एस्पार्टेम (Aspartame) – यह आर्टीफ़ीशियल स्वीटनर्स चीनी से कई गुना मीठा होता है इसलिए डाइटिंग करनेवाले या डायबिटीज़ के रोगी इसे चाय आदि में लेते हैं. यह हमारे शरीर को यह छलावी अनुभूति कराता है कि हम मीठा खा रहे हैं. यह तेजी से तृप्ति होने का अहसास भी कराता है. एस्पार्टेम को एमीनोस्वीट कहकर ब्रांड भी किया जाता है लेकिन इसके बहकावे में न आएं. ये दोनों एक ही पदार्थ के नाम हैं और शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं.

एसीफ़सल्फ़ेम पोटेशियम (Acefsulfame Potassium) – यह एस्पार्टेम जैसा लेकिन उससे भी बुरा पदार्थ है. एस्पार्टेम और सॉर्बीटॉल की ही तरह इसके प्रयोग से कैंसर, डीएनए में म्यूटेशन, दिमागी गड़बड़ी और हार्मोन संबंधी समस्याओं की जानकारियां मिली हैं.

जीएमओ कॉर्न स्टार्च (GMO Corn Starch) – जीएमओ कॉर्न स्टार्च बायोटेक्नोलॉजी की विधियों से प्राकृतिक उपज में फेरबदल करके बनाई गई स्टार्च हैं. इनके स्वास्थ्य संबंधित गुणों पर बहुत मतभेद हैं और मानव शरीर पर उनके अच्छे या बुरे प्रभावों की कोई रिसर्च नहीं हुई हैं इसलिए उनका प्रयोग करना उचित नहीं है.

bodybuilding food harms

प्रोटीन पाउडर में इन कलरिंग एजेंट / डाई की जांच करें Check traces of these dyes in supplement

Red #2: इसे चूहों में सामान्य मात्रा में भी जहरीला पाया गया है और इसके सेवन से ब्लैडर में ट्यूमर होने की जानकारी मिली है.

Red #3: इसके सेवन से Thyroid Cancer होने की जानकारी मिली है.

Red #40: यह सबसे अधिक मात्रा में मिलनेवाली डाई है जो इम्यून सिस्टम में गड़बड़यां और एलर्जी उत्पन्न करती है.

Yellow #5: यह पाया गया है कि यह डाई व्यवहार में बदलाव और गंभीर हाइपरसेंसिटिविटी लाती है.

Yellow #6: इसका संबंध एडरीनल ट्यूमर से देखा गया है.

अपऩे शरीर को स्वस्थ और मासपेशियों को सुगठित बनाए रखने के लिए नियमित एक्सरसाइज़ ज़रूर करें लेकिन ध्यान दें कि आपके प्रोटीन पाउडर और सप्लीमेंट में वे हानिकारक पदार्थ न हों जिनके safe होने के बारे में कोई जानकारी नहीं है. आगे जाकर ये नुकसानदायक पदार्थ आपके स्वास्थ्य को गंभीर नुकसान पहुंचा सकते हैं.

Source

यह भी पढ़ें :

 

Comments are closed.