Bagger 288 : दुनिया का सबसे बड़ा वाहन से जुड़े 8 आश्चर्यजनक फैक्ट्स जानिए

1) दुनिया के सबसे बड़े वाहन (Vehicle) का नाम Bagger 288 है. Bagger 288 का वजन 45,000 टन, लम्बाई 705 फीट, ऊँचाई 311 फीट है. यह वाहन एक Excavator (खनन कार्य करने वाली मशीन) का कार्य करता है.

2) इसे krupp नामक जर्मन कंपनी ने बनाया था. जर्मनी की एक माइनिंग कंपनी Rheinbraun ने पश्चिमी जर्मनी में स्थित Tagebau Hambach खान से कोयला खनन के लिए इसके निर्माण का आर्डर दिया था.

world's biggest vehicle bagger 288

3) Bagger 288 एक दिन में 1 फुटबॉल फील्ड के बराबर क्षेत्र 100 फीट गहराई तक खोद सकता है.

4) Bagger 288 के एक दिन की खुदाई से निकले कोयले से 2500 रेल के डिब्बे भरे जाते हैं. यह विशालकाय वाहन 10 मीटर/मिनट की स्पीड से आगे चलता है.

Bagger 288 excavator

5) Bagger 288 को बनाने में 100 मिलियन डॉलर (6.5 अरब रूपए) की लागत आई. इसे बनाने और असेंबली करने में 10 साल लगे. इसे वाहन को चलाने में 17 मेगवाट बिजली खर्च होती है.

6) बैगर 288 के खुदाई करने वाले सिरे पर 18 बड़े बकेट लगे हुए हैं, जिनसे यह खुदाई करता है. चलने के लिए Bagger 288 में 12 कैटरपिलर ट्रैक्स लगे हुए हैं, जिनपर यह रेंगता हुआ आगे बढ़ता है.

Bagger 288 walking speed

7) Bagger 288 ने अपनी पहली खान को 13 साल में पूरी तरह खाली कर दिया. इसके बाद Bagger 288 को 14 मील (22 किलोमीटर) दूर Garzweil में कोयले की दूसरी खान ले जाया गया.

8) Bagger 288 के पार्ट खोलकर, दूसरी जगह ले जाकर असेंबली करना बहुत महंगा पड़ता अतः इसे चलाकर ले जाया गया. 3 सप्ताह में Bagger 288 ने 14 मील की दूरी पूरी की. इस काम में 70 लोगों की टीम और 10 मिलियन डॉलर (65 करोड़ रूपये) खर्च हुए.

Bagger 288 moving to new site

ये भी पढ़िए :

जर्मनी के अनोखे इनडोर बीच के बारे में 5 फैक्ट्स | Tropical Islands Resort, Germany

भारतीय रेलवे ने कमाल का मनोवैज्ञानिक प्रयोग किया, जिससे रेलवे ट्रैक एक्सीडेंट 75 % कम हुए

Luke Aikins : बिना पैराशूट 7.6 किलोमीटर ऊँचाई से छलांग लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड

मुंबई में खुल गया है भारत का पहला कैप्सूल होटल Urban pod : देखिये फोटोज