जानिए कैसे श्रद्धा शर्मा ने Yourstory.com से startup क्रांति को दी नयी पहचान

By | 15/10/2015

पिछले कुछ सालों में भारत का आर्थिक परिवेश तेजी से परिवर्तित हुआ है. जहाँ भारत में विदेशी कंपनियों का निवेश बढ़ा है वही देसी उद्योग जगत ने भी विश्व-स्तर के नए कीर्तिमान स्थपित किये है. इस सकारात्मक माहौल को बनाने में भारतीय Start-up जगत ने एक जबर्दस्त उत्प्रेरक का काम किया है.

स्टार्ट अप भारत और योरस्टोरी.कॉम Startup and Yourstory.com

भारत में ऐसी कंपनियों की बाढ़ सी आई हुई है, जिन्हें शुरू करने वाले ज्यादातर उद्यमी युवा है. वे न तो किसी औद्योगिक-जगत के परिवारों की संताने है और न ही बहुत धनी परिवारों से है, ज्यादातर मध्यम-वर्ग परिवारों से हैं और पहली पीढ़ी के उद्यमी हैं.

<img src="" width="600" height="483">

फोटो स्रोत: स्टार्ट-अप बिज़नस कैसे शुरू करें ??

Start-up जगत के कार्य करने का तरीका, बिज़नस के पुराने तरीको से काफी हटकर है. लोगों के मन में धारणा होती है कि बिज़नस शुरू करने के लिए पहली आवश्यकता ढेर सारा पैसा है. पैसा एक आवश्यक इकाई है पर सिर्फ पैसों के भरोसे ही व्यापार किया जा सकता है, Start-up जगत इस मिथक को तोड़ता है.

सही आईडिया, बढ़िया बिज़नस प्लान, निरंतर सुधार, सही लक्ष्यों का निर्धारण बिज़नस करने के मूल-मंत्र हैं.

रही पैसे की बात तो एंजेल इवेस्टर जैसे कई नए साधन सामने आये है जो ये साबित करते है कि आजकल के समय में एक बेहतरीन आईडिया सिर्फ पैसों की कमी की वजह से मर नहीं सकता.

Yourstory.com में Start-up जगत से जुड़े लोगों के इंटरव्यू , उनकी Start-up यात्रा, Start-up से सम्बंधित कडवे -मीठे अनुभवों का संग्रह है. Start-up की सूचनाओं के अतिरिक्त Yourstory.com वास्तविक जगत के ऐसे नायकों से हमारा परिचय करवाती है जिन्होंने अपनी सकारात्मक सोच, जिजीविषा, मेहनत  और दृढ इच्छा शक्ति से जीवन की विषम परिस्थितियों पर विजय प्राप्त की.

ये भी पढ़ें   हॉलीवुड के नाम से मिलती भारतीय फिल्म इंडस्ट्रीज

अगर आपके अन्दर भी कुछ अपना करने का जोश और जूनून है और आप Start-up क्रांति का हिस्सा बनना चाहते हैं तो यह वेबसाइट जरुर पढ़ें.

यहाँ आप जानेगे कि भारतीय उद्योग जगत में कितनी असीम संभावनाएं है. आइडियाज की कोई कमी नहीं है और हर एक के लिए यह क्षेत्र खुला है. जैसे जैसे समाज तेजी से परिवर्तित हो रहा है बिज़नस की नयी नयी संभावनाओं का भी जन्म हो रहा है. ऐसे किसी भी क्षेत्र को लक्ष्य बनाकर आप भी अपनी सेवाएँ दे सकते है और एक बेहतरीन बिज़नस खड़ा कर सकते है.

चाहे मात्र 22 साल की उम्र में Oyo Rooms से होटल इंडस्ट्री में हलचल मचाने वाले रितेश अग्रवाल हों, रोज़ रोज़ नये कीर्तिमान स्थापित करती paytm.कॉम हो या IIT के 18 साल के छात्रों की टीम जोकि इतनी सी ही उम्र में Start-up जगत में कूद पड़े है, ऐसी सभी समाचार जो भारत के startup दुनिया से जुड़े हैं , yourstory.com इन सब ख़बरों की जानकारी देती है.

<img src="" width="600" height="400">

फोटो स्रोत : ‘श्रद्धा शर्मा’, सीईओ एवं फाउंडर ( योरस्टोरी.कॉम )

श्रद्धा शर्मा और योर स्टोरी Shradha Sharma and Yourstory

श्रद्धा शर्मा‘ Yourstory.com की चीफ एडिटर और फाउंडर है. 16 सितम्बर 2008 को श्रद्धा ने Yourstory.com शुरू किया. श्रद्धा मूलतः पटना (बिहार) से हैं. बचपन से ही श्रद्धा पढाई में अच्छी थीं. श्रद्धा ने दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज से ग्रेजुएशन और मास्टर्स डिग्री हासिल की. इसके बाद अहमदाबाद के MICA कॉलेज से श्रद्धा ने MBA किया. CNBC TV 18 में कार्य करते हुए अपनी काबिलियत की वजह से श्रद्धा सबसे कम उम्र में असिस्टेंट वाईस प्रेसिडेंट बनी. इसके बाद इन्होने टाइम्स ऑफ़ इंडिया में ब्रांड एडवाइजर के रूप में भी कार्य किया.

ये भी पढ़ें   आधुनिक विज्ञान सिद्ध कर चुका है कि तांबे के बर्तन में पानी क्यों पियें ?

अपने काम के दौरान श्रद्धा ऐसे लोगों से मिली जोकि भारतीय Start-up जगत में अपनी किस्मत आजमाने कूद पड़े थे. एक युवा होने के कारण श्रद्धा का इस ओर झुकाव और आकर्षण होना लाज़मी था. यह वो समय था जब flipkart.com, snapdeal.com जैसी भारतीय कम्पनियाँ तेजी से पांव पसार रही थी और  इनके साथ ही साथ कई छोटी बड़ी कम्पनियाँ अपनी पहचान बनाने को संघर्षरत थी.

व्यापार जगत की इस हलचल से लोग अनजान तो नहीं थे और समाचार और न्यूज़-चैनलों पर इनसे सम्बंधित ख़बरें आई दिन प्रकाशित हो रहीं थी परन्तु यह सारा ध्यानाकर्षण कुछ नामी गिरामी कम्पनियों के इर्द–गिर्द ही ज्यादा था.

Yourstory.com के प्रयासों से ऐसी कई कंपनियों को पहचान मिली, जोकि अपने शुरुआती दौर में थी पर नयी संभावनाओं से भरी हुई थी. ऐसी कंपनियों को निवेशकों, कंसलटेंट, सही बाज़ार और ग्राहकों के मध्य पहचान बनाने की सर्वाधिक आवश्यकता होती है.

पिछले सात सालों में श्रद्धा ने 20,000 से ज्यादा उद्यमियों के संघर्ष और सफलता की कहानियों को Yourstory.com के माध्यम से एक मंच दिया.

किसी भी नए आईडिया पर काम करना, अपनी अलग पहचान बनाना हमेशा से चुनौतियों से भरा होता है और Yourstory.com को भी इसका सामना करना पड़ा. शुरुआती 2 साल बेहद संघर्षपूर्ण रहे, पर श्रद्धा को अपने सोच और सपने पर पूरा भरोसा था. सपने से जुड़ा जोश ही किसी भी सपने को मरने नहीं देता है.

आखिरकार श्रद्धा के  मेंहनत और विश्वास को पहचान मिली और उन्हें सन 2010 में  Villgro Journalist of the Year  और Nasscom Ecosystem Evangelist Award से सम्मानित किया गया. आज भारतीय Start-up जगत के बारे में जानकारी देने वाली वेबसाईट्स में Yourstory.com अग्रणी है.

<img src="" width="600" height="400">

फोटो स्रोत: Yourstroy की सफलता देखकर, रतन टाटा और कलारी कैपिटल ने करीब 5 मिलियन डॉलर का निवेश किया

अभी हाल में ही yourstory.com में जुड़े नए फीचर्स की सहायता से आप इस वेबसाइट को अंग्रेजी के साथ ही साथ 13 प्रमुख भारतीय भाषाओँ हिंदी, तमिल, तेलुगु, कन्नड़ , बंगालीमराठी, गुजराती, मलयालम, उड़िया, उर्दू, पंजाबी, असमिया  में भी पढ़ सकते है. हर उम्र के ऐसे सभी लोगों को जो Start-up जगत की सूचनाओं के  साथ ही साथ बढ़िया प्रेरक और उत्साहवर्धक लेख और जीवनियों के बारे में  पढना चाहते हैं  तो, Yourstory.com आपके लिए अवश्य मददगार होगी.

4 thoughts on “जानिए कैसे श्रद्धा शर्मा ने Yourstory.com से startup क्रांति को दी नयी पहचान

  1. richa

    interesting article. aur b aise h interesting information share krte raho !

    Reply
  2. Sandeep Negi

    Sir mind blowing article. Maine apka ye article apne friends ke saath share kiya hai FB pe. main bhi aisa hi startup karne ki planning kar raha hu. Patani kitni success milegi or kaha tak pahunch paunga. But main ek baar koshish zarur karunga.

    Reply
  3. Mukul Dev

    Thanks for the article, was needing much of it and was looking for it all over the network. Thanks again, I will visiting it again.

    Reply
  4. Pingback: विजय शेखर शर्मा की जीवनी और Paytm की शुरुआत कैसे हुई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *