वेबसाइट में बग खोजकर हैकर आनंद प्रकाश कमाते हैं करोड़ों

भारत के प्रसिद्ध एथिकल हैकर आनन्द प्रकाश वेबसाइट के सिक्योरिटी सिस्टम में खामियाँ (Bug) खोजकर करोड़ों की कमाई कर चुके हैं. ऐसा अनुमान है कि आनंद ह्वाइटहैट हैकिंग से अब तक 3 करोड़ से अधिक कमा चुके हैं. जानिए आनन्द प्रकाश के बारे में और ये भी कि कम्पनियाँ उन्हें इतने पैसे क्यों दे रही हैं.

भारतीय हैकर आनंद प्रकाश :

आनन्द प्रकाश राजस्थान के एक छोटे शहर भादरा के रहने वाले हैं. आनंद ने VIT University के चेन्नई कैंपस से कंप्यूटर साइंस में B.Tech ग्रेजुएशन किया है. आनन्द प्रकाश अभी ऑनलाइन शौपिंग वेबसाइट फ्लिप्कार्ट में सिक्योरिटी इंजीनियर के रूप में कार्य करते हैं.

आनंद प्रकाश जब 8वीं क्लास में थे तो उन्हें पिता ने कंप्यूटर गिफ्ट किया. इन्टरनेट का खर्चा बचाने के लिए आनन्द इन्टरनेट पर कुछ जुगाड़ खोजने लगे. इस खोज में उन्हें एक ऐसा तरीका पता चला जिससे वो बिना इन्टरनेट बिल की चिंता किये जी भर के मुफ्त इन्टरनेट यूज़ कर सकते हैं. इससे पहले कि कईयों लोग इस तरीके का प्रयोग करने लगे और इंटरनेट सर्विस देने वाली कंपनी ने उस खामी को ठीक किया, आनंद ने एक साल तक फ्री इन्टरनेट के मजे लिए.

Anand prakash facebook bug finding

– आनंद प्रकाश 12 वीं की पढाई के बाद IIT की तैयारी के लिए कोटा गये. एक बार दोस्तों से लगी एक शर्त में उन्होंने एक मित्र का Orkut अकाउंट हैक करके दिखाया और शर्त जीत ली. अब तो आनंद को इस क्षेत्र में और ज्ञान हासिल करने का चस्का लग गया और वो हैकिंग से जुडी जानकारियाँ, किताबें पढ़ने लगे. इस चक्कर में उनकी IIT की तैयारी पिछड़ गयी और उन्हें VIT यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेना पड़ा.

– कोडिंग और हैकिंग का पैशन VIT में पढाई के दौरान और परवान चढ़ा. अब ये हुआ कि आनंद प्रकाश कोडिंग में तो मंजे खिलाड़ी हो गये पर B.Tech की पढाई में पिछड़ने लगे. इसलिए थर्ड इयर में आने पर आनंद को जॉब प्लेसमेंट की चिंता सताने लगी. इसी बीच इन्टरनेट पर आनन्द ने facebook के Bug Bounty Programme के बारे में सुना.

– Bug Bounty Programme के तहत फेसबुक लोगों को फेसबुक की वेबसाइट में खामियाँ खोजने के लिए इनाम देती थी. आनन्द बग बाउंटी के बारे में पढने लगे. उन्हें लगा अगर वो कुछ बग खोज लेते हैं तो उन्हें इनाम मिल सकता है और सम्भवतः कोई नौकरी भी मिल जाये.

आनन्द प्रकाश ने सबसे पहले फेसबुक के चैट फीचर से सम्बन्धित एक बग खोज निकाला, जिसके फलस्वरूप facebook ने आनंद को 500$ का इनाम दिया. आनंद का जोश बढ़ा और उन्होंने एक के बाद एक 90 से ज्यादा बग खोज निकाले. आनंद प्रकाश Bug Bounty Programme के टॉप हैकर की श्रेणी में आते हैं और उन्होंने अब तक इससे 15,000 $ से अधिक कमाई की.

– आनंद प्रकाश Facebook के अतिरिक्त Google, Uber, Zomato, Twitter, Adobe, Nokia, Blackberry, Paypal, eBay, Dropbox, Redhat, Mailchimp, ManageWP, Gliph, PikaPay, Bitmit, LocalBitcoins.com, SoundCloud, Angel.co, HackerOne, Active Prospect, Coinbase, Launchkey जैसी प्रसिद्ध कंपनियों के सिस्टम में खामियाँ खोजकर करोड़ों कमा चुके हैं.

– आनन्द प्रकाश ने Uber कैब सर्विस एप्प में ऐसी खामी खोज ली थी, जिससे वो मुफ्त में अनलिमिटेड यात्रायें कर सकते थे. जब उन्होंने Uber को इस विषय में सूचित किया तो Uber ने उन्हें 5000$ का इनाम दिया.

Hacking attacks on websites

– इन्टरनेट पर हर दिन लाखों हैकिंग अटैक होते रहते हैं. बैंक, रेलवे, सोशल मीडिया आदि वेबसाइटों के पास लाखों, करोड़ों लोगो से सम्बन्धित महत्वपूर्ण जानकरियाँ, बैंक डिटेल्स होते हैं जो अगर गलत लोगों के हाथ पड़ जाएँ तो भारी नुक्सान हो सकता है. वेबसाइट ओनर्स अपने डेटा को सुरक्षित रखने के लिए काफी पैसा और रिसोर्स खर्च करते हैं, फिर भी कभी कभार कुछ खामियाँ रह जाती हैं.

ब्लैकहैट हैकर वो हैकर्स होते हैं जो मजे, खुराफात या पैसे के लिए वेबसाइट की खामियों का फायदा उठा कर बवाल मचा देते हैं. इसके उलट ह्वाइटहैट हैकर हैकिंग द्वारा इंटरनेट और वेबसाइटों से जुड़ी विसंगतियाँ खोजते हैं और सम्बन्धित कम्पनियों को आगाह करते हैं. ह्वाइटहैट हैकर या एथिकल हैकर के इन प्रयासों के बदले कम्पनियां उन्हें सम्मानित, पुरस्कृत करती हैं. आनंद प्रकाश के निजी ब्लॉग http://www.anandpraka.sh/ से आप उनके काम के डिटेल जान सकते हैं.

ये भी पढ़िए :

Mobile Apps बनाइए और करोड़ो कमाइये, 3 successful apps के सफलता की कहानी

नागा कटारू : गूगल के पूर्व इंजीनियर जो अब खेती करते हैं और कमाते हैं करोड़ों

खस की खेती कैसे करें ? खस की आसान खेती से लाखों कमायें

Pass Pass Pulse toffee ने कैसे 8 महीने में 100 करोड़ का कारोबार किया

Comments