स्किन प्रॉब्लम ठीक करने के 10 आसान प्राकृतिक उपाय

स्किन समस्या के 10 उपाय Skin problem solution :

स्किन हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण भाग है. स्किन के कई लेयर्स होते हैं और हर लेयर की अपनी ज़रूरतें होती हैं और हर लेयर की देखभाल के लिए विशेष उपाय करने पड़ती हैं. हर व्यक्ति चाहता है कि उसे स्किन प्रॉब्लम न हो और वह अपनी उम्र से कम दिखे. हमारी स्किन की खूबसूरती ही किसी को हमारे प्रति पहली नज़र में आकर्षित करती है. हमारे खानपान और दिनचर्या का प्रभाव हमारे पूरे शरीर पर पड़ता है और यह सबसे पहले हमारी स्किन पर दिखाई पड़ता है.

हर व्यक्ति की स्किन की रंगत और दूसरे लक्षण (skin condition) दूसरे व्यक्ति से अलग होते हैं और कुछ लोगों की स्किन को सामान्य से अधिक देखभाल की ज़रूरत होती है. बाहरी देखभाल के साथ ही अपने शरीर को दूसरे तरीकों से पोषण देना भी स्किन को स्वस्थ और शानदार बनाता है.

त्वचा रोग के कारण Reason of skin diseases 

स्किन को प्रभावित करनेवाले कई फैक्टर्स होते हैं. इनमें से कई फैक्टर्स सुंदर स्किन को भी स्थाई नुकसान पहुंचा सकते हैं. स्किन को सबसे अधिक नुकसान तेज धूप से पड़ता है. सूरज की अल्ट्रावॉयलेट किरणें स्किन की ऊपरी ही नहीं बल्कि भीतरी लेयर को भी नुकसान पहुंचाती हैं. कुछ मामलों में इनसे स्किन में गंभीर कांप्लीकेशंस भी हो सकते हैं.

स्मोकिंग और ड्रिंकिंग स्किन को हानि पहुंचानेवाले दूसरे अहम फैक्टर्स हैं. निकोटीन और एल्कोहल स्किन के लिए ज़हर की तरह होते हैं और ये स्किन में मुंहासे (Acne), खारिश-खुजली (Rashes) और इरिटेशन (Irritations) को बढ़ा सकते हैं. जलवायु और बदलते मौसम की कंडीशंस भी हमारी स्किन को प्रभावित करते हैं.

स्किन प्रॉब्लम्स के लक्षण Symptoms of skin diseases

  • स्किन बदरंग होना और डार्क सर्कल्स    (Discoloring and Dark circles)
  • महीन शिराएं दिखना                           (Thin Blood vessels)
  • मस्से और स्किन कैंसर                        (Moles and skin cancer)
  • बहुत तैलीय स्किन                              (Extra oily skin)
  • स्किन पर बारीक धारियां और सूखापन (Fine lines and Dehydration)

स्किन प्रॉब्लम के घरेलू उपाय Home remedies for glowing skin

Skin problem solution in hindi
स्किन समस्या का घरेलू इलाज

नींबू ( Lemon) नींबू में रंग को निखारने वाले गुण होते हैं जिससे स्किन पर डार्क स्पॉट्स को कम करने में मदद मिलती है. यह स्किन पर आई झांइयों को भी दूर करता है. स्किन पर नींबू के रस के इस्तेमाल के दौरान यह ध्यान रखना चाहिए कि स्किन को धूप लगने से बचाया जाए.

शहद ( Honey) शहद को नींबू और दूध के साथ मिलाने पर यह और अधिक उपयोगी हो जाता है. शहद के इस कांबीनेशन से स्किन को उजला और साफ रखने में मदद मिलती है. इसे खीरे के रस और दही के साथ भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

ओटमील पैक ( Oatmeal pack) ओटमील के प्रयोग से स्किन के पोर्स में अटकी हुई धूल और गंदगी निकल जाती है. इसके लिए ओटमील को हल्दी ओर पानी मिलाकर स्किन पर लगाएं और सूख जाने पर गुनगुने पानी से धो दें.

टमाटर ( Tomato) टमाटर के उपयोग से स्किन की रंगत निखरती है. यह स्किन से ऑइल को सोखकर बंद हुए पोर्स को खोल देता है. टमाटर स्किन को गुलाबी रंगत देता है. बेहतर परिणाम के लिए टमाटर का गूदा अपनी स्किन पर लगा रहने दें और हल्का सा सूखने पर इसे धो दें.

आलू ( Potato) – आलू एक नैचुरल ब्लीचिंग एजेंट की तरह काम करता है. यह स्किन के टेक्सचर और टोन को निखारता है. आलू का उपयोग करना बहुत ही आसान है लेकिन इसकी प्रोसेस धीमी होती है और रिज़ल्ट दिखने में समय लगता है.

बर्फ ( Ice Cubes) आइस क्यूब्स के उपयोग से स्किन में ब्लड सर्कुलेशन सुधरता है और स्किन को ठंडक मिलती है. यह स्किन को मेकअप के लिए भी तैयार करता है. बर्फ के उपयोग से मेकअप स्किन पर देर तक ठहरता है और फैलता नहीं है.

नीचे बताए गए नैचुरल पदार्थों (Natural products) के प्रयोग से आप अपनी स्किन के डैमेज को रिपेयर कर सकते हैं और इसे निर्दोष बना सकते हैं :-

चंदन ( Chandan) – चंदन का प्रयोग स्किन को शीतलता प्रदान करता है और यह हमारे मन-मष्तिष्क को भी तरोताजा कर देता है. यह स्किन इन्फेक्शंस, रैशेज़ (skin rash), इरीटेशन, बदरंग स्किन, डार्क स्पॉट्स और दूसरी समस्याओं को दूर करता है.

संतरे का छिलका ( Orange Peel) – संतरे का छिलका स्किन में से अतिरिक्त ऑइल को निकालकर इसकी क्लींजिंग करता है. इसमें कई दूसरे मेडिकल गुण जैसे एंटीसेप्टिक, डीटॉक्सीफिकेशन आदि भी होते हैं. यह मृत स्किन सेल्स को रिमूव करता है और नई सेल्स को बनाने में मदद करता है.

हल्दी ( Turmeric)  हल्दी में अनगिनत गुण होते हैं और इसका प्रयोग स्किन को निखारने लिए हजारों सालों से किया जा रहा है. यह एंटीसेप्टिक तथा कीटाणुरोधी होती है. यह खून साफ करती है और शरीर से विषैले तत्वों को निकालती है. इसे चंदन के साथ मिलाकर उबटन के रूप में लगाने से स्किन में अद्वितीय निखार आता है.

मुल्तानी मिट्टी ( Multani Mitti) मुलतानी मिट्टी स्किन की मृत सेल्स (dead cells) को निकालती (exfoliate) है जिससे स्किन के बंद पड़े पोर्स भी खुल जाते हैं. इसके प्रयोग से स्किन को ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ जाती है जिससे इसमें निखार आता है. यह डार्क स्पॉट्स, मुंहासे और स्किन के दूसरे डिसॉर्डर्स (skin problem) में बहुत लाभ पहुंचाती है.

Source

यह भी पढ़ें :

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए ये 5 घरेलू उपाय आजमायें

चेहरे में निखार लाने वाला आसान जापानी फेसपैक घर बैठे बनाइए

नाखून के सफ़ेद भाग (Lunula) से आपके स्वास्थ्य के बारे में क्या पता चलता है ?

जीभ जल जाये या दांत से कट जाये तो ये आसान घरेलू उपाय आजमायें

मच्छर काटने से होने वाली जलन, खुजली के 10 घरेलू उपचार – Mosquito Bite remedy

Comments

Comments are closed.