Category: ज्ञान-सरिता

खाटू श्याम बाबा की पूजा कैसे करें, श्याम बाबा की आरती

श्याम बाबा की जयंती : श्री श्याम बाबा जी का जन्मदिवस हर वर्ष कार्तिक महीने में शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को मनाया जाता है. इस अवसर पर राजस्थान …

श्री खाटू श्याम बाबा कौन हैं, खाटू श्याम बाबा की कहानी | Shyam Baba ki kahani

राजस्थान के सीकर जिले में श्री खाटू श्याम जी का सुप्रसिद्ध मंदिर है. वैसे तो खाटू श्याम बाबा के भक्तों की कोई गिनती नहीं लेकिन इनमें खासकर वैश्य, मारवाड़ी …

शुक्राचार्य की पुत्री देवयानी की रोचक कहानी | Shukracharya daughter Devyani story

देवयानी की कहानी – प्राचीनकाल में देवताओं और राक्षसों के कई युद्ध हुए. इन युद्धों में कभी देवता जीतते और कभी राक्षस. लेकिन एक समय ऐसा आया कि राक्षसों …

जीवन में सुख समृद्धि कैसे पायें : अर्जुन और श्री कृष्ण का एक प्रसंग

सुख समृद्धि का उपाय : गरीब ब्राह्मण की कहानी – एक दिन श्री कृष्ण और अर्जुन बातें करते हुए महल से दूर निकल गए. मार्ग में उन्होंने एक गरीब …

महर्षि वाल्मीकि के श्राप से संस्कृत साहित्य के पहले श्लोक की उत्पत्ति हुई थी

संस्कृत के आदिकवि वाल्मीकि ऋषि ने संस्कृत साहित्य के पहले काव्य श्लोक की रचना की थी. संस्कृत साहित्य का यह पहला श्लोक रामायण का भी पहला श्लोक बना. अतः …

दक्ष प्रजापति भगवान शिव से क्यों चिढ़ते थे : दो कहानियाँ | Daksh Prajapati hate shiva story

दक्ष प्रजापति भगवान शिव – पहली कहानी : दक्ष प्रजापति सृष्टि निर्माता भगवान ब्रह्मा के मानस पुत्र थे. राजा दक्ष के दो पुत्र, 84 पुत्रियाँ थी. दक्ष प्रजापति ने …

युधिष्ठिर ने माँ कुंती को क्या श्राप दिया था | Yudhisthira Ka Shrap

युधिष्ठिर का श्राप : महाभारत की कहानी में कर्ण और कुंती का पुत्र-माँ का सम्बन्ध था, परन्तु इस बात से पांडव और कर्ण अनभिज्ञ थे. कौरव पांडव युद्ध के …

कैकेयी ने राम के लिए 14 वर्ष का वनवास ही क्यों माँगा, 13 या 15 वर्ष क्यों नहीं | Kaikeyi story in hindi

14 वर्ष का वनवास ही क्यों : कैकेयी ने अब राजा दशरथ से राम के लिए 14 वर्ष का वनवास माँगा तो इसके पीछे एक प्रशासनिक कारण था. रामायण …

जीवन का रहस्य क्या है | एक किसान की मोटिवेशनल कहानी | Jeevan ka Rahasya

जीवन का रहस्य | एक किसान की कहानी : गाँव में रहने वाले एक किसान का एकमात्र घोड़ा एक दिन भाग खड़ा हुआ. आस-पड़ोस वाले दुःख जताने के लिए …

दूसरों को सही-गलत साबित करने में जल्दबाजी न करें | 2 कहानियाँ | Dusron ko sahi galat sabit karne me jaldbaji na kare

पहली कहानी : ट्रेन में एक पिता-पुत्र सफर कर रहे थे. 24 वर्षीय पुत्र खिड़की से बाहर देख रहा था, अचानक वो चिल्लाया – पापा देखो पेड़ पीछे की …

मैं ही क्यों – आर्थर ऐश की प्रेरणादायक कहानी | Main hi kyun Why me Arthur Ashe story

मैं ही क्यों – आर्थर ऐश  Arthur ashe (आर्थर ऐश ) अमेरिका के टॉप टेनिस प्लेयर थे. अपने करियर के शीर्ष पर वो दुनिया के नंबर 1 टेनिस प्लेयर …